Top

Mother's Day: मां के लिए हर दिन होता है खास, जानिए मदर्स डे का इतिहास

मां को प्यार और सम्मान देने के लिए कई देशों में अलग-अलग तारीख पर खास मदर्स डे सेलिब्रेट किया जाता है।

Network

NetworkNewstrack Network NetworkSumanPublished By Suman

Published on 7 May 2021 9:44 AM GMT

मदर्स डे
X

सांकेतिक तस्वीर, (साभार-सोशल मीडिया) 

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: हर साल मई के दूसरे रविवार को मदर्स डे(Mother's Day) के रुप में सेलिब्रेट किया जाता है। इस दिन को ईश्वर की अमूल्य देन मां को प्यार और सम्मान देकर सम्मानित करते हैं। हर मां और उसके बच्चे के लिए खास होता है। भले कोरोना (Corona) की दूसरी लहर और लॉकडाउन(Lockdown) चल रहा है, लेकिन इस भीषण परिस्थिति में भी जो नहीं बदला है वो है मां और उसका प्यार।

मदर्स डे इस साल 9 मई को मनाया जाएगा। इस दिन मां के प्रति लोग अपना प्यार प्रकट करते हैं, और मां के इस दिन को खास बनाने का हर संभव प्रयास करते हैं। लेकिन इस दिन के बारे में आप कितना जानते हैं? मतलब ये कि कुछ ऐसी बातें हैं जिनसे शायद आप अब तक अनजान होंगे।

मां को प्यार और सम्मान देने के लिए कई देशों में अलग-अलग तारीख पर खास मदर्स डे सेलिब्रेट किया जाता है। आइये जानते हैं आखिर मदर्स डे सेलिब्रेट करने की शुरुआत कब और कैसे हुई।

सांकेतिक तस्वीर, (साभार-सोशल मीडिया)

अमेरिका से भारत तक मां का प्यार

कहते हैं कि मां को सम्मान देने वाले इस विशेष दिन की शुरुआत पहली बार अमेरिका से हुई थी। अमेरिकन एक्टिविस्ट एना जार्विस अपनी मां से बहुत प्रेम करती थीं। उन्होंने न कभी शादी की और न कोई संतान पैदा की था। उनका आधा जीवन अपनी मां के साथ ही गुजरा। बाद में जब मां की मौत हो गई तो उनकी याद में मदर्स डे मनाया गया है। बाद में अमेरिका से निकलकर ये परम्परा दुनिया के बाकी देशों में फ़ैल गई। आज सभी देश से बढ़ चढ़कर मनाते हैं।

अमेरिकी प्रेसिडेंट वुड्रो विल्सन ने एक कानून पास किया था जिसमें कहा गया था कि मई महीने के हर दूसरे रविवार को मदर्स डे मनाया जाएगा, जिसके बाद मदर्स डे अमेरिका, भारत और कई देशों में मई महीने के दूसरे रविवार को मनाया जाने लगा। वहीं, यूके में इस दिन को 6 मार्च को मनाया जाता है। चीन में मदर्स डे के दिन यहां के लोग अपनी मां को उपहार में गुलनार का फूल देते हैं।

सांकेतिक तस्वीर, (साभार-सोशल मीडिया)

मां को क्या दें गिफ्ट्स?

वैसे तो मां को कोई गिफ्ट्स की जरूरत नहीं होती है। उसे हमेशा अपने बच्चों का प्यार मिलता रहे। यही उसके लिए सबसे बड़ा गिफ्ट होता है। लेकिन अगर फिर भी आप अपनी मां को कोई गिफ्ट देना चाहते हैं तो आप अपनी मां को कपड़े जैसे कुर्ती, सूट या साड़ी तोहफे में दे सकते हैं। या फिर उनकी कोई पसंद की चीज़। अगर ये भी ना देना हो तो उन्हें अपने साथ घुमाने ले जाएं। इस बार लॉकडाउन में घूमना तो नहीं हो सकता तो अपनी मां को किचेन से एक दिन का आराम दे दें।

इस दिन को लोग चाहे जैसे भी मनाते हों। इस दिन को सेलिब्रेट करने का लोगों के अपना-अपना तरीके होते हैं, जो सबका अलग होता है। लेकिन सबका मकसद एक होता है और वो ये कि अपनी मां के प्रति सम्मान और प्यार प्रकट करते हैं और उनके इस दिन को खास बनाने की कोशिश करते हैं।

सांकेतिक तस्वीर, (साभार-सोशल मीडिया)

मदर्स डे मां के त्याग, बलिदान, करुणा, दया और निःस्वार्थ प्रेम के प्रति आभार प्रकट करने के लिए मनाया जाता है। वैसे तो मां को प्यार करने और तोहफे देने के लिए किसी खास दिन की जरूरत कभी नहीं पड़ती, लेकिन फिर भी मदर्स डे के दिन मां को और सम्मान दिया जाता है। मदर्स डे के दिन मां को ढेर सारा प्यार किया जाता है।

Suman

Suman

Next Story