Top

मुक्केबाजी: ज्योति, शशि, अंकुशिता ने चैम्पियनशिप के फाइनल में, पदक पक्का किया

भारत की ज्योति (फ्लाइवेट), शशि चोपड़ा (फीदरवेट) और लोकल स्टार अंकुशिता बोरो (लाइटवेट) ने शुक्रवार को यहां जारी एआईबीए महिला युवा विश्व मुक्केबाजी चैम्पियनशिप के फाइ

Anoop Ojha

Anoop OjhaBy Anoop Ojha

Published on 24 Nov 2017 4:14 PM GMT

मुक्केबाजी: ज्योति, शशि, अंकुशिता ने चैम्पियनशिप के फाइनल में, पदक पक्का किया
X
मुक्केबाजी: ज्योति, शशि, अंकुशिता ने चैम्पियनशिप के फाइनल में, पदक पक्का किया
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

गुवाहाटी: भारत की ज्योति (फ्लाइवेट), शशि चोपड़ा (फीदरवेट) और लोकल स्टार अंकुशिता बोरो (लाइटवेट) ने शुक्रवार को यहां जारी एआईबीए महिला युवा विश्व मुक्केबाजी चैम्पियनशिप के फाइनल में जगह बना ली है। तीनों भारतीय मुक्केबाजों ने आसान जीत के साथ अपने लिए कम से कम रजत पदक पक्का कर लिया है। इन खिलाड़ियों ने अपने शानदार खेल की बदौलत यहां पहुंचे सैकड़ों दर्शकों का जमकर मनोरंजन किया।

यह भी पढ़ें.....एआईबीए चैम्पियनशिप से निकलेंगी भारतीय प्रतिभाएं : मैरी कॉम

भारत के हाई परफॉर्मेस डाइरेक्टर राफेल बेर्गामास्को द्वारा फाइनल मुकाबले से एक दिन पहले किया गया 'शैडो बॉक्सिंग ड्रिल' भारतीय खिलाड़ियों के खूब काम आया।राफेल लगातार अपनी मुक्केबाजों से कहते रहे, "जैब, साइड स्टेप, हुक टू द फेस, जैस, अनलीश द 1-2 टू द मिडरिफ, डक, मूव टू द राइट, थ्रो ए स्ट्रेट पंच फ्राम द शोल्डर, देन मूव अवे। नेवर कीप बैकिंग अप।"

यह भी पढ़ें.....महिला युवा विश्व मुक्केबाजी चैम्पियनशि: मुक्केबाजों की टीम घोषित, देखें 10 नाम

शुक्रवार को भारतीय लड़कियों ने अपने हाई परफार्मेस निदेशक के शब्दों को पूरी तरह याद रखा और शानदार तरीके से विजयी बनकर सामने आईं।ज्योति अपनी प्रतिद्वंद्वी झानसाया अबग्रायमोवा के खिलाफ दूर से ही लड़ीं। इससे काफी आक्रामक खेल के लिए मशहूर कजाकिस्तान की यह मुक्केबाज काफी परेशान नजर आई। जैसी ही उन्होंने चार्ज करना चाहा, ज्योति किनारे हो गईं और लेफ्ट जैब का उपयोग कर टू पंच, थ्री पंच काम्बो का प्रयोग किया। इससे उन्हें आसानी से बढ़त मिल गई।

यह भी पढ़ें.....AIBA युवा महिला विश्व मुक्केबाजी चैंपियन का लोगो और शुभंकर लांच

दूसरे राउंड में हालांकि ज्योति थोड़ी लचर नजर आईं। इससे उनकी प्रतिद्वंद्वी को वापसी का मौका मिल गया। तीसरे राउंड में हालांकि ज्योति ने जीत की भूख के साथ वापसी की। वह लगातार हमले करती रहीं और अपने अटैक को लगातार मिक्स करती रहीं। उन्होंने विपक्षी खिलाड़ी पर लेफ्ट जैब र शॉर्ट ब्रस्र्ट्स का प्रयोग किया और कुछ मौकों पर झानसाया के चेहरे पर भी प्रहार किया। कजाक लड़की ने भी ज्योति के खिलाफ अपने सारे अनुभव का प्रयोग किया लेकिन अंतत: वह हार मानने को मजबूर हुईं।

यह भी पढ़ें.....गुवाहाटी में दिसंबर में होगी दक्षिण एशियाई मुक्केबाजी चैम्पियनशिप

फीदरवेट कटेगरी में शशि ने मंगोलिया की नामुन मोंखोर को हराया। इस भारतीय खिलाड़ी ने मंगोलियाई मुक्केबाज के चेहरे और शरीर पर कई जोरदार हमले किए। दूसरे राउंड में वह बेहद खतरनाक नजर आईं। उन्होंने नामुन के चेहरे पर जोरदार हमले किए और रेफरी को स्टैंडिंग काउंट को मजबूर किया। तीसरे राउंड में शशि ने स्ट्रेट पंचिंग का मुजायरा पेश किया और अपनी प्रतिद्वंद्वी को पीछे हटने पर मजबूर किया।

यह भी पढ़ें.....आईपीएल के छक्के-चौके के बाद, अब सुपर बॉक्सिंग लीग में लीजिए दे दना दन का मजा

अंकुशिता ने हालांकि थाईलैंड की थानचनोक साकश्री के खिलाफ धीमी शुरुआत की लेकनि जैसे-जैसे समय आगे बढ़ा वह लय हासिल करती चली गईं। इसके बाद वह धीमे-धीमे आक्रामक हुईं और चेहरे तथा शरीर को निशाना बनाकर पुरजोर हमले किए। तीसरे राउंड में अंकुशिता ने अपने फन का लोहा मनवाया और मुकाबला अपने नाम किया।

मैच के बाद अंकुशिता ने कहा, "मेरे लिए यह मुकाबला काफी आसान रहा। मेरी ऊंचाई अच्छी थी और इसी कारण मुझे स्कोर करने में आसानी हुई।"

यह भी पढ़ें.....मुक्केबाजी : विश्व चैम्पियनशिप के सेमीफाइनल में हारे गौरव

सेमीफाइनल में पहुंचने वाली भारत की चौथी खिलाड़ी नेहा यादव को हालांकि हार मिली। नेहा को हेवीवेट कटेगरी में कजाकिस्तान की दिना इस्लामबेकोवा ने हराया। कजाक मुक्केबाज युवा नेहा पर भारी पड़ी लेकिन नेहा ने भी काफी संघर्ष किया। वैसे वह अपनी प्रतिद्वंद्वि का जमकर मुकाबला नहीं कर सकीं।

--आईएएनएस

Anoop Ojha

Anoop Ojha

Excellent communication and writing skills on various topics. Presently working as Sub-editor at newstrack.com. Ability to work in team and as well as individual.

Next Story