Top

खेलों में देश का पहला पद्मश्री पाने वाले बलबीर सिंह सीनियर की हालत नाजुक, ICU में हो रहा इलाज

Manali Rastogi

Manali RastogiBy Manali Rastogi

Published on 5 Oct 2018 7:10 AM GMT

खेलों में देश का पहला पद्मश्री पाने वाले बलबीर सिंह सीनियर की हालत नाजुक, ICU में हो रहा इलाज
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

चंडीगढ़: देश के दिग्गज हॉकी खिलाड़ी और पद्मश्री से सम्मानित देश के पहले खिलाड़ी बलबीर सिंह दौसांझ ( सीनियर) को सांस लेने में तकलीफ के कारण अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उनकी हालत काफी नाजुक बताई जा रही है। 94 वर्षीय बलबीर सीनियर का पीजीआई अस्पताल के आईसीयू में इलाज चल रहा है। चिकित्सकों की एक टीम उनके इलाज में लगी हुई है।

बलबीर सिंह सीनियर का इलाज कर रहे एक डॉक्‍टर ने बताया कि उनकी श्‍वांस प्रणाली में सांस लेने के लिए नली लगाई गई है । उन्‍होंने बताया कि‘इस नली से बलबीर सिंह आसानी से सांस ले सकेंगें । अभी उन्हें वेंटीलेटर पर रखा गया है और हर लगभग हर चार घंटे में उनकी जांच की जा रही है। इस दिग्गज हॉकी खिलाड़ी को बुधवार को अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

बलबीर सिंह सीनियर लगातार तीन बार स्वर्ण पदक जीतने वाली टीम के सदस्य थे। 1948,52,56 की इस स्वर्ण पदक टीम में उनके साथ हाकी के जादूगर मेजर ध्यानचंद भी खेलें थे।

लंदन ओलिंपिक- 2012 में उन्हें आधुनिक ओलिंपिक इतिहास के 16 महान खिलाड़ियों में चुना गया था और इस सूची में वह अकेले भारतीय थे। उन्होंने हेलसिंकी ओलिंपिक-1952 में नीदरलैंड के खिलाफ फाइनल में भारत की 6-1 से जीत में पांच गोल किए थे। सर्वाधिक गोल का उनका ये रिकॉर्ड आज भी बरकरार है। वह 1975 विश्व कप विजेता भारतीय टीम के मैनेजर भी थे। बलबीर सिंह दौसांझ (सीनियर) को 1957 में पद्मश्री मिला था। खेलों में पद्मश्री पाने वाले वे देश के पहले खिलाड़ी है।

Manali Rastogi

Manali Rastogi

Next Story