Top

ICC टेस्ट लीग में पाकिस्तान से न खेलने के बहाने ढूंढ रहा है भारत

बोर्ड ऑफ कंट्रोल फॉर क्रिकेट इन इंडिया (बीसीसीआई) ऐसा बहाना ढूंढ रहा है जिससे उसे इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (आईसीसी) की नौ टीमों की टेस्ट लीग में अपने चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान से न खेलना पड़े।

tiwarishalini

tiwarishaliniBy tiwarishalini

Published on 19 Nov 2017 5:47 AM GMT

ICC टेस्ट लीग में पाकिस्तान से न खेलने के बहाने ढूंढ रहा है भारत
X
ICC टेस्ट लीग में पाकिस्तान से न खेलने के बहाने ढूंढ रहा है भारत
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

कोलकाता : बोर्ड ऑफ कंट्रोल फॉर क्रिकेट इन इंडिया (बीसीसीआई) ऐसा बहाना ढूंढ रहा है जिससे उसे इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (आईसीसी) की नौ टीमों की टेस्ट लीग में अपने चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान से न खेलना पड़े।

बीसीसीआई के कार्यकारी सचिव अमिताभ चौधरी ने अनुसार बोर्ड के अंतिम फैसला लेने से पहले काफी बातों पर ध्यान देना होगा। अमिताभ चौधरी ने कहा कि भारतीय टीम के फ्यूचर टूर प्रोग्राम (एफटीपी) में पाकिस्तान को रखने पर आगामी स्पेशल जनरल मीटिंग (एसजीएम) में चर्चा की जाएगी। दिल्ली में 1 दिसंबर को एसजीएम प्रस्तावित है।

उन्होंने कहा, "किसी भी वर्ल्ड लेवल की प्रतियोगिता या चैंपियनशिप में अगर वह कहते हैं कि 20 टीमें खेलेंगी तो हर टीम से खेलना मुमकिन नहीं है। समस्या भारत और पाकिस्तान के बीच सीरीज की नहीं, बल्कि उन बातों की है जिससे इंटरनेशनल क्रिकेट को बड़े लेवल पर नुकसान पहुंचेगा।

चौधरी ने कहा, "इस समय उस स्थिति को देखते हुए किसी भी तरह की पॉलिसी नहीं बनाई है। इस पर ध्यान दिया जाएगा। जैसा मैंने कहा, चैंपियनशिप में हर टीम से खेलना मुमकिन नहीं है।"

यह भी पढ़ें ... वित्तीय अनियमितताओं के आरोपों से घिरे श्रीधर ने BCCI के GM का पद छोड़ा

एक दिसंबर को नई दिल्ली में होने वाली एसजीएम में, बीसीसीआई के कोषाध्यक्ष अनिरूद्ध चौधरी ने बीसीसीआई के कार्यकारी अध्यक्ष सी.के. खन्ना और कार्यकारी सचिव को एक लेटर लिखकर उनसे फ्यूचर टूर प्रोग्राम (एफटीपी) की मांग की है।

उन्होंने कहा, "मेरे बयान को रिकॉर्ड कर लीजिए। कोई भी अंधकार में नहीं है। बोर्ड के सभी सदस्यों को एसजीएम का नोटिस जा चुका है साथ ही मीटिंग के प्रोग्राम से रिलेटेड सभी डॉक्यूमेंट्स भी जा चुके हैं।"

यह भी पढ़ें ... BCCI के खिलाफ ICC में केस करने की योजना बना रहा PCB, जानिए क्यों ?

उन्होंने कहा, "जहां तक लिखित की बात है। भारत के संविधान में हर किसी को अभिव्यक्ति की आजादी दी है। यह कहना गलत है कि किसी को जानकारी नहीं दी गई।" चौधरी ने कहा, "डॉक्यूमेंट्स एजेंडा तय होने के बाद ऐसे ही बांटे नहीं जाते, यह सही टाइम पर दिए जाते हैं।"

आईसीसी ने 13 अक्टूबर को नौ टीमों की टेस्ट लीग और 13 टीमों की वनडे लीग को अपनी मंजूरी दे दी थी। इसके पीछे उसका मकसद बाईलेटरल क्रिकेट सीरीज को बढ़ावा देना और अच्छी प्रतिस्पर्धा प्रदान करना था। यह दोनों लीग 2019 या 2020 से शुरू होंगी, इस पर अभी अंतिम फैसला नहीं लिया गया है।

--आईएएनएस

tiwarishalini

tiwarishalini

Excellent communication and writing skills on various topics. Presently working as Sub-editor at newstrack.com. Ability to work in team and as well as individual.

Next Story