×

भुवनेश्वर कुमार ने वीडियो जारी कर बतायी अपनी कमजोरी, अब क्या कर रहे प्लान..!

Bhuvneshwar Kumar ने आईपीएल कि अपनी टीम सनराइजर्स हैदराबाद के ट्विटर हैंडल पर जारी किए गए एक वीडियो के द्वारा की है। वीडियो में साफ-साफ कहा है कि उन्हें क्या करना चाहिए था और क्या कर रहे हैं।

Vijay Kumar Tiwari

Vijay Kumar TiwariWritten By Vijay Kumar TiwariShivaniPublished By Shivani

Published on 29 May 2021 3:10 AM GMT

भुवनेश्वर कुमार ने वीडियो जारी कर बतायी अपनी कमजोरी, अब क्या कर रहे प्लान..!
X

भुवनेश्वर कुमार (File Photo)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Bhuvneshwar Kumar: भारतीय क्रिकेट टीम (Indian Cricket Team) के बेहतरीन स्विंग गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार (Bhuvneshwar Kumar) ने अपनी गेंदबाजी को लेकर एक खास बात कही है। उनका कहना है कि उन्हें अपनी गेंदबाजी की स्पीड को लेकर इतनी समझ नहीं थी, जितनी उनके करियर व खेल के लिए जरूरी थी। ईमानदारी अपनी कमी को स्वीकार करते हुए कहा है कि धीरे धीरे इस बात को समझे और उस पर काम करना शुरू किया।

भुनेश्वर कुमार ने इस बात की जानकारी आईपीएल कि अपनी टीम सनराइजर्स हैदराबाद के ट्विटर हैंडल पर जारी किए गए एक वीडियो के द्वारा की है। वीडियो में साफ-साफ कहा है कि उन्हें क्या करना चाहिए था और क्या कर रहे हैं। आप भी देखिए और सुनिए.....
इस वीडियो में भुवनेश्वर कुमार ने स्वीकार किया कि अपने शुरुआती सालों में उन्हें अपनी गेंदबाजी में रफ्तार जोड़ने की अहमियत नहीं पता थी, लेकिन एक बार ऐसा करने के बाद उन्हें बल्लेबाजों को परेशानी में डालने वाली स्विंग को बरकरार रखने में मदद मिली। वीडियो में कहा कि, 'ईमानदारी से कहूं तो पहले कुछ सालों में मुझे ऐसा अहसास नहीं था कि गति में भी कुछ जोड़ना जरूरी है।'
स्विंग गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार ने आगे कहा कि जब वह खेल रहे थे तब उन्हें एहसास हुआ कि स्विंग के साथ उन्हें अपनी गति में भी सुधार करने की आवश्यकता है, क्योंकि 130 किमी प्रति घंटे या उससे कम की रफ्तार से गेंदबाजी करने से बल्लेबाज स्विंग से तालमेल बैठा लिया करते थे। इसलिए वह अपनी गति बढ़ाना चाहते थे, लेकिन यह ही नहीं पता था कि यह काम कैसे किया जाय।

भुवनेश्वर कुमार ने आगे कहा कि सौभाग्य से वह अपनी गति में सुधार करने में सफल रहे हैं और इससे उन्हें काफी मदद भी मिली है। उनका मानना है कि 140 किमी से अधिक रफ्तार से नहीं रखने वाला गेंदबाज अगर 135 किमी के आसपास की रफ्तार से भी गेंदबाजी करे तो स्विंग बरकरार रखकर बल्लेबाजों को परेशान किया जा सकता है।
आपको बता दें कि भुवनेश्वर कुमार ने साल 2012 में पाकिस्तान के खिलाफ टी-20 मुकाबले से इंटरनेशनल क्रिकेट में कदम रखा था और अपने पहले ही मैच में चार ओवरों के पूरे स्पेल में 9 रन देकर तीन विकेट चटकाकर शानदार आगाज किया था। इसके साथ साथ अपने वनडे करियर की पहली ही गेंद पर भी विकेट चटकाने का कारनामा कर दिखाया है। उसके लिए उन्होंने मोहम्मद हफीज को अपनी शिकार बनाया था।
स्विंग गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार ने अब तक 21 टेस्ट मैचों में 63 विकेट, 117 वनडे में 138 विकेट और 48 टी-20 अंतरराष्ट्रीय में 45 विकेट ले चुके हैं। फिलहाल भुवनेश्वर चोटों से जूझते रहे हैं और उन्हें न्यूजीलैंड के खिलाफ विश्व टेस्ट चैंपियनशिप और इंग्लैंड के खिलाफ पांच टेस्ट मैचों की श्रृंखला के लिये टीम में नहीं चुना गया है।
Shivani

Shivani

Next Story