Top

हारे हैं निराश नहीं! बोल्ट बोले- अब भी दुनिया का सर्वश्रेष्ठ एथलीट हूं

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 6 Aug 2017 9:01 AM GMT

हारे हैं निराश नहीं! बोल्ट बोले- अब भी दुनिया का सर्वश्रेष्ठ एथलीट हूं
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लंदन : लंदन विश्व चैम्पियनशिप में अपने करियर की अंतिम 100 मीटर रेस में मिली हार के बावजूद जमैका के धावक उसेन बोल्ट का कहना है कि वह अब भी इतिहास के सर्वश्रेष्ठ एथलीट हैं। शनिवार को आयोजित हुई इस रेस में अमेरिका के 35 वर्षीय धावक जस्टिन गाटलिन ने बोल्ट को पछाड़ते हुए स्वर्ण पदक पर कब्जा जमाया।

इसके अलावा, गाटलिन के हमवतन 21 वर्षीय क्रिस्टियन कोलेमन ने रजत पदक जीता और बोल्ट को कांस्य पदक से संतोष करना पड़ा।

ये भी देखें:तुम तो ऐसे न थे : करियर की अंतिम 100 मीटर रेस में बोल्ट ने तोड़ा दिल

रेस के बाद एक बयान में बोल्ट ने कहा, "मैंने विश्व को दिखाया है कि मैं सर्वकालिक महान एथलीटों में से एक हूं। मुझे नहीं लगता कि इस एक हार से कुछ भी बदलेगा। मैंने अपने प्रयासों से एथलेटिक्स जैसे खेल को ऊपर उठाया है और इसे अन्य खेलों के समक्ष बेहतर रूप से प्रदर्शित किया है। मैं निराश नहीं हो सकता।"

बोल्ट ने कहा, "मैंने अपना सर्वश्रेष्ठ दिया। स्टेडियम में आए दर्शकों ने मेरा समर्थन किया और मुझे प्रोत्साहित किया।"

विश्व चैम्पियन बने गाटलिन की प्रशंसा करते हुए बोल्ट ने कहा, "मैंने उन्हें जीत की बधाई दी। इस रेस में वह बेहतर एथलीट रहे।"

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story