Top

वो वापस आ रहा है, वेस्टइंडीज के लिए बनेगा खतरे की घंटी

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 15 Sep 2017 1:43 PM GMT

वो वापस आ रहा है, वेस्टइंडीज के लिए बनेगा खतरे की घंटी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

हरारे : जिम्बाब्वे के इतिहास के सबसे शानदार बल्लेबाजों में से एक और पूर्व कप्तान ब्रेंडन टेलर एक बार फिर अपनी राष्ट्रीय टीम के लिए खेलते नजर आएंगे। टेलर इंग्लिश क्रिकेट काउंटी नॉटिंघमशायर के साथ करार खत्म होने के बाद जिम्बाब्वे वापस लौट रहे हैं। जिम्बाब्वे क्रिकेट (जेडसी) ने इस बात की पुष्टि की।

ये भी देखें: यूपी पुलिस इन एक्शन: 5 महीनों में मार गिराए 15 मोस्टवांटेड

बोर्ड ने एक बयान में कहा है, "जिम्बाब्वे क्रिकेट (जेडसी) इस बात की बताते हुए बेहद खुश है कि ब्रेंडन टेलर ने इंग्लिश काउंटी नॉटिंघमशायर के साथ करार खत्म कर दिया है। जेडसी ने आधिकारिक तौर पर ब्रेंडन टेलर से जिम्बाब्वे के लिए घरेलू और अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट खेलने के लिए संपर्क किया है।"

टेलर ने कोलपेक डील के जरिए मार्च-2015 में नॉटिंघमशायर से संपर्क किया था। इसी कारण टेलर को अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट छोड़ना पड़ा था, लेकिन 31 साल के टेलर ने घर वापसी के लिए पारिवार को कारण बताया है। उन्होंने काउंटी टीम के साथ दो ट्रॉफी जीती थीं।

ये भी देखें: GST : 65,000 करोड़ रुपये के क्रेडिट दावों से आयकर विभाग भौचक

टेलर ने कहा, "दो ट्रॉफी जीतना, जिसमें एक लॉर्डस में शामिल थी, वो मेरे करियर के यादगार पलों में से है।"

उन्होंने कहा, "ट्रेंड ब्रिज में मैंने अपने खेल का आनंद लिया। यहां मैंने ड्रेसिंग रूम में, क्लब के स्टाफ के तौर पर कई अच्छे दोस्त बनाए।"

ये भी देखें: भई वाह! मोदी के जन्मदिन पर शौचालय निर्माण में शिवराज करेंगे श्रमदान

उन्होंने कहा, "लेकिन अपनी पत्नी और बच्चों से दूर रहना मेरे लिए काफी मुश्किल रहा है। मैं अपने जीवन के उस दौर में पहुंच गया हूं जहां मुझे अपनी जरूरतों का ख्याल रखना है।"

टेलर अगले महीने वेस्टइंडीज के खिलाफ खेली जाने वाली दो टेस्ट मैचों की सीरीज के लिए टीम में वापसी कर सकते हैं।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story