×

शुभ, मंगल, सावधान! आने वाले कुछ दिन क्रिकेट आस्ट्रेलिया के लिए ठीक नहीं...

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 29 May 2017 2:46 PM GMT

शुभ, मंगल, सावधान! आने वाले कुछ दिन क्रिकेट आस्ट्रेलिया के लिए ठीक नहीं...
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

बर्मिघम : आस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज मिशेल स्टार्क ने कहा है कि क्रिकेट आस्ट्रेलिया के साथ खिलाड़ियों के साथ जारी अनुबंध को लेकर विवाद पर उनका रूख नहीं बदलेगा और खिलाड़ी आस्ट्रेलिया क्रिकेटर्स संघ के साथ ही खड़े रहेंगे। एसीए के मुखिया एलिस्टर निकलोसन ने रविवार को खिलाड़ियों से बात की। यह टूर्नामेंट खिलाड़ियों और सीए के बीच मौजूदा अनुबंध के समाप्त होने से पहले आखिरी टूर्नामेंट है। सीए और खिलाड़ियों का मौजूदा करार 30 जून को समाप्त हो रहा है।

ये भी देखें : अफगानिस्तान टी-20 लीग : नए सफर को तैयार क्रिकेट, हमसफर चाहिए

सीए ने विवाद को सुलझाने के लिए तीसरे पक्ष का सहयोग लेने की एसीए की अपील को खारिज कर दिया है। इसके उलट सीए के हाई परफॉर्मेंस मैनेजर पैट हॉवर्ड ने दूसरी बार टीम के कप्तान स्टीवन स्मिथ सहित, स्टार्क, डेविड वार्नर को पत्र लिखा है और विवाद को सुलझाने की कोशिश की है।

निकोलसन के साथ हुई बैठक के बाद स्टार्क का कहना है कि खिलाड़ियों का रूख नहीं बदलेगा और वह एसीए के साथ ही खड़े रहेंगे। स्टार्क ने कहा , "हमारा रूख नहीं बदला है। हम पूरी तरह से एसीए के साथ हैं और उसका समर्थन करते हैं। यह सिर्फ वाजिब हक मांगने की बात है इससे ज्यादा नहीं।"

उन्होंने कहा, "महिला और पुरुष खिलाड़ी एक ही तरफ हैं। हम अपने रूख पर कायम हैं और इसी पर हमने बात की।"

स्टार्क ने कहा कि हॉवर्ड का सीनियर खिलाड़ियों से बात करने का कोई फायदा नहीं है। उन्होंने कहा, "करार खत्म होने में चार सप्ताह का समय बाकी है। खिलाड़ियों ने सभी कुछ एसीए के हवाले छोड़ दिया है और अब सीए को सोचना है कि वह एसीए के साथ किस तरह मामले को सुलझाते हैं।"

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story