जानें क्यों आधी रात को पुलिस ने क्रिकेटर शमी की पत्नी को किया गिरफ्तार, ये है वजह

भारतीय क्रिकेट टीम के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी की पत्नी हसीन जहां को पुलिस ने हिरासत में ले लिया। शमी की पत्नी हसीन जहां बीती रात अचानक उत्तर प्रदेश के अमरोहा में क्रिकेटर के पैतृक घर पर पहुंच गईं जिसके बाद मोहम्मद शमी की मां और परिवार वालों से बहस हुई।

अमरोहा: भारतीय क्रिकेट टीम के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी की पत्नी हसीन जहां को पुलिस ने हिरासत में ले लिया। शमी की पत्नी हसीन जहां बीती रात अचानक उत्तर प्रदेश के अमरोहा में क्रिकेटर के पैतृक घर पर पहुंच गईं जिसके बाद मोहम्मद शमी की मां और परिवार वालों से बहस हुई। इसके बाद उनको घर से बाहर जाने के लिए कहा गया तो उन्होंने खुद को और अपने बच्चे को एक कमरे में बंद कर लिया। जिसके बाद पुलिस बुलाई गई। परिवार वालों की शिकायत के बाद हसीन जहां को पुलिस ने हिरासत में ले लिया।

सोमवार को पुलिस ने शमी की मॉडल पत्नीं को एसडीएम कोर्ट में पेश किया। हसीन जहां पर शांति भंग करने का आरोप लगाया गया। हसीन जहां को कोर्ट में पेश किए जाने के दौरान काफी गहमागहमी रही।

यह भी पढ़ें…एडीजी पीयूष आनंद करेंगे शिखर श्रीवास्तव हत्याकांड की जांच

हसीन जहां ने इस दौरान जमानत लेने से किया इनकार कर दिया, लेकिन कोर्ट ने उन्हें जमानत पर रिहा कर दिया। इससे पहले पुलिस ने हसीन जहां को अमरोहा के जिला अस्पताल में रखा था। हसीन ने कहा कि पुलिस ने दबाव में आकर उन्हें आधी रात को हिरासत में लिया गया।

यह भी पढ़ें…हित-कल्याण के लिए मतदान महत्वपूर्ण: मायावती

हसीन जहां क्रिकेटर मोहम्मद शमी पर बेवफाई, हत्या की कोशिश, मैरिटल रेप सहित कई संगीन आरोप लगा चुकी हैं। हालांकि, बाद में हसीन ने अपने पति के बारे में कहा था- ‘अब मैं शमी में इंटरेस्टेड नहीं हूं. मैं कभी लूजर नहीं रही और ना कभी बनूंगी। मैं लड़ाई जारी रखूंगी।’

यह भी पढ़ें…जेईई मेन अप्रैल परीक्षा 2019 का रिजल्ट कुछ ​ही देर में होगा जारी

हसीन जहां ने दोबारा मॉडलिंग शुरू कर दी थी। उन्होंने कहा था कि तीन साल की बेटी को पालने और सम्मान के साथ अपनी जिंदगी जीने के लिए मॉडलिंग में वापसी कर रही हूं। हसीन प्रोफेशनल मॉडल रही हैं और कोलकाता नाइट राइडर्स के लिए चीयर लीडर भी बनी हैं। 2014 में शमी से शादी करने के बाद उन्होंने मॉडलिंग छोड़ दी थी।

एक बार हसीन ने कोर्ट से मांग की थी कि शमी उन्हें हर महीने 10 लाख रुपये भत्ता दें। उन्होंने क्रिकेटर पर मैच फिक्सिंग तक का आरोप लगा दिया था। हालांकि, बीसीसीआई ने उन्हें क्लीन चीट दे दी थी।