Top

जानिए क्यों मिताली राज ने कहा- मेरे जीवन का सबसे काला दिन

महिला क्रिकेट टीम के कोच रमेश पोवार ने आरोप लगाया कि मिताली राज टी20 वर्ल्ड कप में ओपनिंग को लेकर संन्यास की धमकी दे रहीं थीं और उन्होंने अव्यवस्था फैला रखी थी इसके बाद मिताली ने कहा, यह मेरे जीवन का सबसे काला दिन है।

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 29 Nov 2018 9:21 AM GMT

जानिए क्यों मिताली राज ने कहा- मेरे जीवन का सबसे काला दिन
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: महिला क्रिकेट टीम के कोच रमेश पोवार ने आरोप लगाया कि मिताली राज टी20 वर्ल्ड कप में ओपनिंग को लेकर संन्यास की धमकी दे रहीं थीं और उन्होंने अव्यवस्था फैला रखी थी। इसके बाद मिताली ने कहा, यह मेरे जीवन का सबसे काला दिन है।

ये भी देखें : चुप्पी तोड़ मिताली ने खोले राज, बताया कैसे कोच ने किया अपमानित



ये भी देखें : आईसीसी रैंकिंग: वनडे बल्लेबाजों में शीर्ष पर मिताली, कोहली

मिताली ने पोवार के आरोपों के बाद सोशल साईट ट्विटर पर लिखा, मैं इन आरोपों से बहुत दुखी और आहत हूं। खेल के प्रति मेरी प्रतिबद्धता और देश के लिए 20 साल खेलने के दौरान मेरी मेहनत, पसीना सब बेकार गया। आज मेरी देशभक्ति पर संदेह किया जा रहा है, मेरे हुनर पर सवाल उठाए जा रहे हैं और मुझ पर कीचड़ उछाला जा रहा है। यह मेरे जीवन का सबसे काला दिन है। ईश्वर मुझे शक्ति दे।

आपको बता दें, मिताली ने पोवार और प्रशासकों की समिति की सदस्य डायना एडुल्जी पर पक्षपात का आरोप लगाया था।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story