Top

बड़ी लड़ाई से पहले ड्रेसिंग रूम का माहौल शांत, तूफान की आहट तो नहीं

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 14 Jun 2017 12:45 PM GMT

बड़ी लड़ाई से पहले ड्रेसिंग रूम का माहौल शांत, तूफान की आहट तो नहीं
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

बर्मिघम : महत्वपूर्ण सेमीफाइनल से पहले बांग्लादेश के कोच चंडिका हथारुसिंघा ने कहा है कि टीम के ड्रेसिंग रूम का माहौल शांत है और खिलाड़ी बिना किसी दबाव के आराम से हैं। बांग्लादेश को गुरुवार को आईसीसी चैम्पियंस ट्रॉफी के दूसरे सेमीफाइनल में मौजूदा विजेता भारत से भिड़ना है। कोच ने इस मैच को 2015 में इसी टूर्नामेंट में मिली हार के बदला लेने वाले मौके के रूप में देखने से मना कर दिया।

बांग्लादेश के अखबार द डेली स्टार ने बुधवार को कोच के हवाले से लिखा है, "बदले की भावना की कोई बात नहीं है। यह भारत के खिलाफ अच्छा खेल खेलने की बात है। हम अपना सर्वश्रेष्ठ खेल खेलना चाहते हैं।"

उन्होंने कहा, "टीम का माहौल बेहद अच्छा है। हम किसी तरह के दबाव में नहीं हैं। हम मैच पर ध्यान दे रहे हैं। मैंने टूर्नामेंट से पहले ही कहा था कि हम इस टूर्नामेंट में जो भी हासिल करेंगे वह बड़ा होगा। हमने जो हासिल किया है उससे हम खुश हैं।"

कोच ने कहा, "हर किसी के लिए, कोचिंग स्टाफ के लिए भी यह पहला मौका है और हमारा लक्ष्य अपना खेल खेलना है। यह सिर्फ बड़ा मैच नहीं है बल्कि बड़ा मौका है। इसलिए टीम के अनुभवी और युवा खिलाड़ियों के लिए मेरा संदेश यह ही है कि मैदान पर जाकर मौके का फायदा उठाएं।"

कोच ने माना कि उन्होंने अभी तक इस टूर्नामेंट में बल्लेबाजी क्रम में बदलाव नहीं किया है। उन्होंने कहा, "मैं मानता हूं कि हम अपनी एक ही रणनीति पर हर मैच में टिके रहे। मैं इसकी जिम्मेदारी लेता हूं। लेकिन हम अभी भी अपनी शुरुआती सोच के साथ हैं जिसके तहत हमने सोचा था कि हम खिलाड़ी को भरपूर मौका देंगे। सब्बीर रहमान को कम मौके मिले और वह ज्यादा के हकदार हैं।"

कोच ने संकेत दिए हैं कि गुरुवार को होने वाले मैच में टीम बिना किसी बदलाव के उतर सकती है। उन्होंने कहा, "हमारे लिए सबसे बड़ी चुनौती टीम संयोजन की होती है। हम जानते हैं कि हमारे पास अच्छी योग्यता है। हमारे पास अनुभवी और युवा खिलाड़ियों का अच्छा मिश्रण है।"

कोच ने कहा कि पिछले कुछ वर्षो में हमने विदेशों में अच्छा करने का लक्ष्य बनाया था। उन्होंने कहा, "अगर आप हमारे प्रदर्शन को देखेंगे तो हमने पिछले दो साल में धीरे-धीरे सुधार किया है। विश्व कप हमारे लिए टनिर्ंग प्वांइट रहा है। हम इंग्लैंड को हराकर क्वार्टर फाइनल में पहुंचे। इसके बाद हमने विदेशों में अच्छा खेलने का लक्ष्य बनाया। पिछले कुछ वर्षो में हम अच्छा कर रहे हैं।"

कोच ने कहा, "हम आत्मविश्वास से भरपूर हैं। हम विपक्षी के बारे में नहीं सोच रहे हैं।"

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story