×

एजबेस्टन टेस्ट में उल्टा पड़ा टीम इंडिया का दांव, इंग्लैंड ऐतिहासिक जीत की ओर अग्रसर

ENG vs IND 5th Test: एजबेस्टन टेस्ट के चौथे दिन इंग्लैंड के सामने भारत ने 378 रनों का विशालकाय लक्ष्य रखा। आज तक के क्रिकेट इतिहास में इतना बड़ा लक्ष्य का पीछा कोई टीम नहीं कर पाई है।

Suryakant Soni
Written By Suryakant Soni
Updated on: 2022-07-05T10:37:01+05:30
एजबेस्टन टेस्ट में उल्टा पड़ा टीम इंडिया का दांव, इंग्लैंड ऐतिहासिक जीत की ओर अग्रसर
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

ENG vs IND 5th Test: एजबेस्टन टेस्ट के चौथे दिन इंग्लैंड के सामने भारत ने 378 रनों का विशालकाय लक्ष्य रखा। आज तक के क्रिकेट इतिहास में इंग्लैंड की टीम इतने बड़े लक्ष्य को चेज नहीं कर पाई है। ऐसे में इंग्लैंड टीम को अगर इस टेस्ट में जीत मिलती है तो वो किसी करिश्मा से कम नहीं मानी जाएगी। एक समय लग रहा था टीम इंडिया आसानी से इस टेस्ट में जीत दर्ज कर लेगी। लेकिन इंग्लैंड के बल्लेबाजों ने दूसरी पारी में पहले ही ओवर से ताबड़तोड़ बल्लेबाज़ी शुरू कर दी। मेजबान टीम ने चौथे दिन के खेल खत्म होने तक दूसरी पारी में 3 विकेट पर 259 रन बना लिए हैं। इंग्लैंड को जीत के लिए अब 119 रन बनाने हैं।

पहले विकेट के लिए शतकीय साझेदारी:

भारत ने इंग्लैंड की टीम के खिलाफ जीत के लिए 378 रन का लक्ष्य रखा। इंग्लिश बल्लेबाजों के लिए यह स्कोर पहाड़ जैसा दिखाई दे रहा था। ओपनर एलेक्स लीस और ज़ेक क्रौली ने पहले विकेट के लिए 107 रन जोड़कर टीम को एक उम्मीद की किरण दिखाई। पहले विकेट के रूप में ज़ेक क्रौली 46 रन के स्कोर पर बुमराह का शिकार बन गए। इसके बाद ओली पॉप बिना खाता खोले आउट हो गए। इन दो झटकों से इंग्लैंड की टीम उभर पाती इससे पहले ही 109 रनों के स्कोर पर तीसरा विकेट आउट हो गया।

रूट-बेयरस्टो ने की शानदार पारी:

इंग्लैंड की सारी उम्मीद जो रूट और फॉर्म में चल रहे जोनी बेयरस्टो पर टिकी हुई है। चौथे दिन के खेल समाप्ति तक दोनों ने मिलकर चौथे विकेट के लिए रन जोड़े। जो रूट 76 रन और बेयरस्टो 72 रन बनाकर नाबाद रहे। अब टेस्ट के अंतिम दिन इंग्लैंड को सीरीज हार से बचने के लिए काफी संघर्ष करना पड़ेगा। अगर मेजबान टीम इस लक्ष्य को हासिल करने में कामयाब हो जाती है तो क्रिकेट के इतिहास में इंग्लैंड की तरफ से सबसे बड़ा रन चेज होगा।

वेस्टइंडीज के नाम है टेस्ट का सबसे बड़ा रन चेज:

टेस्ट क्रिकेट में रन चेज की बात करें तो इसमें सबसे ऊपर विंडीज टीम का नाम आता है। 2003 में वेस्टइंडीज के सामने ऑस्ट्रेलिया ने 418 रनों का लक्ष्य रखा था। जिसको वेस्टइंडीज ने 3 विकेट शेष रहते हुए हासिल कर लिया। इस मैच रामनरेश सरवन और शिवनारायण चंद्रपाल ने शतक लगाया था। यह आज तक का सबसे बड़ा रन चेज था। अगर इंग्लैंड इंडिया को मात देती है तो इंग्लैंड का भी यह सबसे बड़ा रन चेज हो जाएगा।

Suryakant Soni

Suryakant Soni

Next Story