Top

फीफा विश्व कप : इश्माइकल, पाउल्सन ने डेनमार्क को दिलाई जीत

Manali Rastogi

Manali RastogiBy Manali Rastogi

Published on 17 Jun 2018 4:30 AM GMT

फीफा विश्व कप : इश्माइकल, पाउल्सन ने डेनमार्क को दिलाई जीत
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

सारांस्क (रूस): अपने गोलकीपर कैस्पर इश्माइकल की बेहतरीन गोलकीपिंग और यूसुफ पाउलसन युरारी द्वारा 59वें मिनट में गिए गए गोल के दम पर डेनमार्क ने शनिवार को मोरडोविया एरिना में खेले गए फीफा विश्व कप-2018 के ग्रुप-सी के मुकाबले में पेरू को 1-0 से हरा कर टूर्नामेंट का आगाज जीत के साथ किया।

यह भी पढ़ें: फीफा विश्व कप : क्रोएशिया ने नाइजीरिया को 2-0 से पराजित किया

इस रोमांचक मुकाबले में डेनमार्क की जीत के हीरो इश्माइकल रहे जिन्होंने मैच में, खासकर दूसरे हाफ में कई शानदार बचाव करते हुए पेरू को बराबरी नहीं करने दी और अपनी टीम को पूरे तीन अंक दिलाए।

पेरू ने पहले हाफ में ज्यादा मौके नहीं बनाए

पेरू ने पहले हाफ में ज्यादा मौके नहीं बनाए थे, लेकिन दूसरे हाफ में उसकी आक्रमण पंक्ति ने अधिकतर समय डेनमार्क के खेमे में बिताया। हालांकि उसके खिलाड़ी इश्माइकल की बाधा को पार नहीं कर पाए।

पहले हाफ में पेरू के पास सबसे अच्छा और बेहद आसान मौका अंतिम समय के इंजुरी टाइम में आया जब उसे वर्जअल अस्सिटेंट रेफरी (वीएआर) की मदद से पेनाल्टी मिली। क्रिस्टियन क्वेवा गेंद लेकर डेनमार्क के खेमे में जा रहे थे। तभी पाउलसन ने उनका रास्ता रोकने की कोशिश की। इस कोशिश में उन्होंने क्वेवा को गिरा दिया। रेफरी ने वीएआर का इस्तेमाल किया और पेरू को पेनाल्टी दी।

पेनाल्टी को गोल में तब्दील करने की जिम्मेदारी क्वेवा पर ही थी, लेकिन क्वेवा गेंद को बार के काफी ऊपर मार बैठे और पेरू के खिलाड़ी तथा प्रशंसकों को मायूसी हाथ लगी।

पेरू को मिला गोल करने का शानदार मौका

इससे पहले, पेरू को मैच के 12वें मिनट में भी गोल करने का शानदार मौका मिला था। पेरू के आंद्रे कारिलो ने डेनमार्क के तीन डिफेंडरों को छकाते हुए गोलपोस्ट पर निशना साधा जिसे विपक्षी टीम के गोलकीपर इश्माइकल ने रोक लिया।

27वें मिनट में डेनमार्क के थॉमस डेलनी ने गोल करने का बेहतरीन प्रयास जो अंतत: विफल रहा। 30 यार्ड से खेला गया उनका शॉट बार के ऊपर से निकल गया। 38वें मिनट में डेनमार्क को फ्री किक जरिए गोल करने को एक और करीबी मौका मिला। यह मौक भी पेरू के डिफेंस ने डेनमार्क को भुनाने नहीं दिया। पहले हाफ में दोनों टीमें गोल करने में विफल रहीं।

पाउलसन ने दिलाई डेनमार्क को बढ़त

दूसरे हाफ में पाउलसन ने आखिरकार डेनमार्क को बढ़त दिला दी। 59वें मिनट में क्रिस्टियन एरिकसन ने मैदान के बीच से गेंद ली और बाएं छोर से गोलपोस्ट की तरफ दौड़ पड़े। उनके साथ-साथ पाउलसन भी थे। मौका पाते ही एरिकसन ने पाउसन को पास दिया और पाउलसन ने बड़ी सफाई से गेंद को गोलपोस्ट के बाएं कोने में डाल डेनमार्क को 1-0 से आगे कर दिया।

पेरू ने कुछ देर बाद ही पलटवार किया। एडिसन फ्लोरेस ने गेंद क्वेवा को पास दी और वह हड़बड़ी में एक आसान सा मौका गवां बैठे। इसके बाद पेरू को कई आसान और शानदार मौके मिले, लेकिन गोलकीपर इश्माइकल उसकी राह में रोड़ा बनाकर खड़े रहे और उसे बराबरी से दूर ही रखा।

--आईएएनएस

Manali Rastogi

Manali Rastogi

Next Story