Top

IND vs NZ : ग्रीन पार्क में पहली बार डे-नाईट ODI, भारत ने जीती सीरीज

न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम के कप्तान केन विलियमसन ने रविवार को ग्रीन पार्क स्टेडियम में जारी तीसरे और अंतिम वनडे मैच में भारत के खिलाफ टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया।

tiwarishalini

tiwarishaliniBy tiwarishalini

Published on 29 Oct 2017 4:07 PM GMT

IND vs NZ : ग्रीन पार्क में पहली बार डे-नाईट ODI, भारत ने जीती सीरीज
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

कानपुर : भारत ने ग्रीनपार्क स्टेडियम में खेले गए आखिरी वनडे के रोमांचक मुकाबले में न्यूजीलैंड को छह रनों से मात देते हुए तीन मैचों की सीरीज पर 2-1 से कब्जा जमा लिया। भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए रोहित शर्मा (147) और विराट कोहली (113) के बीच हुई दोहरी शतकीय साझेदारी के दम पर निर्धारित 50 ओवरों में सात विकेट के नुकसान पर 337 रन बनाए थे। जवाब में किवी टीम पूरे ओवर खेलने के बाद सात विकेट पर 331 रन ही बना सकी।

यह भारत की लगातार सातवीं द्विपक्षीय सीरीज जीत है। यह भारत की लगातार सबसे ज्यादा सीरीज जीत का रिकार्ड है। इससे पहले भारत ने लगातार छह द्विपत्रीय सीरीज जीती थीं।

उसके लिए कोलिन मुनरो, केन विलियिमस और टॉम लाथम ने अर्धशतकीय पारियां खेलीं। भारत के लिए जसप्रीत बुमराह ने तीन विकेट लिए। युजवेंद्र चहल ने अहम समय पर दो सफलता हासिल कीं। भुवनेश्वर कुमार ने एक विकेट लिया। एक बल्लेबाज रन आउट हुआ।

विशाल लक्ष्य का पीछा करने उतरी किवी टीम को मुनरो ने तेज शुरुआत दी। उन्होंने पहले ओवर में ही भुवनेश्वर पर एक छक्का और दो चौके जड़े। मुनरो ने अगले ओवर में बुमराह को भी नहीं बख्शा।

हालांकि दूसरे छोर से उन्हें मार्टिन गुप्टिल (10) का साथ नहीं मिला। गुप्टिल 44 के कुल स्कोर पर बुमराह की गेंद पर दिनेश कार्तिक को कैच दे बैठे। पिछले दो मैचों से खामोश चल रहे किवी कप्तान विलियमसन ने इस मैच में अपना का जौहर दिखाया और मुनरो का बखूबी साथ दिया।

दोनों ने मिलकर दूसरे विकेट के लिए 109 रनों की साझेदारी करते हुए टीम को अच्छी स्थिति में पहुंचा दिया। मुनरो लगातार भारतीय गेंदबाजी आक्रमण की बखियां उधेड़ रहे थे। तो विलियमसन ने आते ही हार्दिक पांड्या पर दो शानदार चौके जड़े। इन दोनों ने केदार जाधव और अक्षर पटेल को भी अच्छे से खेला।

हालांकि लेग स्पिनर चहल ने मुनरो से भारत का पीछा छुड़ाया और 153 के कुल स्कोर पर 62 गेंदों में आठ चौकों और तीन छक्कों की मदद से खेली गई 75 रनों की मुनरो की पारी का अंत उन्हें बोल्ड करते हुए किया।

मुनरो के जाने के बाद कप्तान भी कुछ ही देर में पवेलियन लौट लिए। कप्तान को चहल ने महेंद्र सिंह धौनी के हाथों स्टम्प कराया। विलियमसन ने थोड़ा धीमा खेल खेला और 64 रन बनाने के लिए 84 गेंदे लीं। अपनी अर्धशतकीय पारी में उन्होंने आठ चौके जड़े।

रॉस टेलर (39) को बड़ी पारी खेलने से बुमराह ने रोका। 247 के कुल स्कोर पर टेलर जाधव को कैच दे बैठे।

यहां से पहले मैच में शतक लगाकर टीम को जीत दिलाने वाले लाथम और हेनरी निकलोस ने मेजबानों की परेशानियों को बढ़ा दिया। इन दोनों ने किवी टीम की जीत की उम्मीदों को जिंदा रखा, लेकिन जीत के करीब जाते-जाते निकोलस भुवनेश्वर की गेंद पर बोल्ड हो गए। 37 रन बनाने वाले निकोलस ने लाथम के साथ 59 रनों की साझेदारी की।

उम्मीदें लाथम से थीं, लेकिन वह 48वें ओवर की पांचवीं गेंद पर दुर्भाग्यवश तरीके से रन आउट हो गए। लाथम ने 52 गेंदों में सात चौकों की मदद से 65 रन बनाए।

यहां से किवी टीम की उम्मीदें खत्म हो गईं थीं। बुमराह ने आखिरी ओवर में जरूरी 15 रन बनाने से कोनिल डी ग्रांडहोमे (नाबाद 8) और टिम साउदी (नाबाद 4) को वंचित रखा।

इससे पहले टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी भारत ने कोहली और रोहित की साझेदारी के दम पर विशाल स्कोर खड़ा किया। कोहली और रोहित की साझेदारी सलामी बल्लेबाज शिखर धवन (14) का विकेट 29 रनों के कुल स्कोर पर गिर जाने के बाद आई। धवन को टिम साउदी ने पवेलियन भेजा।

इसी मैच में कोहली ने वनडे क्रिकेट में अपने नौ हजार रन भी पूरे कर लिए हैं। कोहली ने अपनी पारी में 106 गेंदों का सामना करते हुए नौ चौके और एक छक्के लगाए। यह साझेदारी रोहित और कोहली के बीच 12वीं शतकीय साझेदारी है। रोहित ने इस मैदान पर अपना लगातार दूसरा शतक जड़ा। इससे पहले 2015 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेले गए मैच में भी रोहित ने शतक जड़ा था।

रोहित की पारी का अंत मिशेल सैंटनर ने किया। रोहित ने अपनी पारी में 138 गेंदें खेलीं और 18 चौकों के अलावा दो छक्के लगाए। रोहित वनडे क्रिकेट में सबसे तेज 150 छक्के लगाने वाले दूसरे बल्लेबाज भी बन गए हैं। उन्होंने इसके लिए 165 पारियां लीं जबकि पाकिस्तान के शाहिद अफरीदी ने 160 पारियों में 150 छक्के लगाए थे।

रोहित के जाने के बाद तेजी से रन बटोरने मैदान पर उतरे हार्दिक पांड्या आठ रन ही बना सके। 302 के कुल स्कोर पर कोहली, साउदी की गेंद पर किवी कप्तान केन विलियमसन के हाथों लपके गए। किवी टीम के लिए साउदी, मिलने, सैंटनर ने दो-दो विकेट लिए।

लाइव स्कोर अपडेट के लिए यहां क्लिक करें

बता दें कि कानपुर के ग्रीनपार्क स्टेडियम में यह पहली बार है जब वन-डे इंटरनेशनल डे-नाईट मैच हुआ। ग्रीनपार्क में अभी तक चार आइपीएल मैचों का आयोजन फ्लड लाइट की दूधिया रोशनी में हुआ।

इस मैच के लिए न्यूजीलैंड की अंतिम एकादश में कोई बदलाव नहीं किया गया। भारत के अंतिम एकादश में भी कोई बदलाव नहीं हुआ।

टीम इंडिया की इनिंग

-टीम इंडिया को 29 के स्कोर पर उसका पहला विकेट गिर गया।

-शिखर धवन 14 रन बनाकर 6.1 ओवर में टिम साउदी की गेंद पर केन विलियम्सन को कैच देकर आउट हुए।

-रोहित और विराट ने दूसरे विकेट के लिए 230 रन की पार्टनरशिप की और टीम का स्कोर 259 रन तक पहुंचाया।

-टीम इंडिया का दूसरा विकेट 41.2 ओवर में गिरा।

-सैंटनर की गेंद पर रोहित शर्मा (147) को टिम साउदी ने कैच कर लिया।

-तीसरा विकेट हार्दिक पंड्या (8) का रहा।

-हार्दिक 43.2 ओवर में सैंटनर की गेंद पर टिम साउदी को कैच दे बैठे।

-टीम इंडिया को चौथा झटका विराट कोहली के रूप में लगा

-विराट 46.4 ओवर में साउदी की गेंद पर विलियम्सन को कैच थमा बैठे।

-इसके बाद धोनी (25) और केदार जाधव (18) आउट हुए।

कुलदीप को घर में ही नहीं मिली जगह

गेंदबाजी में जसप्रीत बुमराह और भुवनेश्वर कुमार किवी बल्लेबाजों के लिए सिरदर्द साबित हो सकते हैं। चाइनामैन के नाम से पहचान बना चुके कुलदीप का कहना था कि उनका बचपन कानपुर की गलियों में गुजरा और इसी ग्रीन पार्क मैदान में उन्होंने क्रिकेट सीखा है। उन्होंने कहा था कि अगर उन्हें टीम में चुना गया तो वह अपने जीवन का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने की कोशिश करेंगे।

यह भी पढ़ें ... कोहली हुए विराट! सबसे तेज 9000 रन बनाने वाले बल्लेबाज

विराट ने पूरे किए 9 हजार रन

- विराट ने वनडे करियर की 32वां शतक जड़ा।

-कोहली 106 गेंद पर 113 रन बनाकर आउट हुए।

-विराट ने 9 चौके और 1 सिक्स भी लगाया।

-वनडे करियर में विराट ने अपने 9 हजार रन पूरे किए।

-इसके साथ ही वे सबसे कम इनिंग में इतने रन बनाने वाले बैट्समैन बन गए।

-विराट ने वनडे करियर की 194वीं इनिंग में ये अचीवमेंट हासिल किया।

-उन्होंने साउथ अफ्रीका के एबी डिविलियर्स (205 इनिंग) का रिकॉर्ड तोड़ा।

टीमें :

भारत : विराट कोहली (कप्तान), शिखर धवन, रोहित शर्मा, दिनेश कार्तिक, केदार जाधव, महेंद्र सिंह धौनी (विकेटकीपर), हार्दिक पांड्या, अक्षर पटेल, भुवनेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमराह और युजवेंद्र चहल।

न्यूजीलैंड : केन विलियमसन (कप्तान), मार्टिन गुप्टिल, कोलिन मुनरो, रॉस टेलर, टॉम लाथम (विकेटकीपर), हैनरी निकोल्स, कोलिन डी ग्रैंडहोम, मिशेल सेंटनर, एडम मिलने, ट्रैंट बाउल्ट और टिम साउथी।

tiwarishalini

tiwarishalini

Excellent communication and writing skills on various topics. Presently working as Sub-editor at newstrack.com. Ability to work in team and as well as individual.

Next Story