×

भारतीय टीम के पूर्व बल्लेबाजी कोच संजय बांगड़ बने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के मुख्य कोच

भारतीय टीम के पूर्व बल्लेबाजी कोच संजय बांगड़ को आईपीएल टीम (IPL Team) रॉयल चैलेंजर्स, बैंगलोर का मुख्य कोच नियुक्त किया गया है।

aman
Published on 9 Nov 2021 6:10 AM GMT
भारतीय टीम के पूर्व बल्लेबाजी कोच संजय बांगड़ बने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के मुख्य कोच
X

RR vs RCB (Photo-Social Media)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के अगले सीजन के लिए रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर यानी आरसीबी के हेड कोच के तौर पर संजय बांगर को नियुक्त किया गया है। वह माइक हेसन की जगह लेंगे। बता दें कि माइक हेसन टीम के डायरेक्टर ऑफ क्रिकेट ऑपरेशन्स के पद पर बने रहेंगे।

जैसा कि आपको पता है कि विराट कोहली ने आईपीएल 2021 के दौरान ही ऐलान कर दिया था कि कप्तान के तौर पर यह उनका आखिरी सीजन है। इस स्थिति में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (आरसीबी) को आने वाले सीजन में नया कप्तान भी मिलेगा। आने वाले समय में आईपीएल 2022 के 'मेगा ऑक्शन' होना है। उसके बाद ही देखा जाएगा कि कप्तानी के लिए रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर किस खिलाड़ी पर दांव लगाता है।

क्या कहा बांगड़ ने?

बता दें, कि इस साल सम्पन्न हुए आईपीएल 2021 के दूसरे हिस्से में हेसन ने ही हेड कोच की जिम्मेदारी संभाली थी। आईपीएल 2021 के दूसरे हिस्से में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (आरसीबी) के हेड कोच साइमन कैटिच ने अपना पद छोड़ दिया था। इसी के बाद हेसन ने यह जिम्मेदारी संभाली थी। इससे पहले पूर्व क्रिकेटर संजय बांगर टीम इंडिया के बैटिंग कोच रह चुके हैं। अब आरसीबी के हेड कोच नियुक्त होने पर बांगर बोले, 'आरसीबी का हेड कोच बनना मेरे लिए सम्मान की बात है। मैं इससे पूर्व भी टीम के कुछ बड़े खिलाड़ियों के साथ काम कर चुका हूं। अगले सीजन में टीम को ऊपर के लेवल पर ले जाने के लिए तैयार हूं। आईपीएल मेगा ऑक्शन में काफी काम करना होगा।'

चैम्पियन बनने में आरसीबी नाकाम

उल्लेखनीय है, कि आरसीबी अभी तक एक भी आईपीएल (IPL) खिताब अपने नाम कर पाने में विफल रही है। हालांकि, पिछले दो सीजन से यह टीम प्लेऑफ तक पहुंची। लेकिन, चैम्पियन बनने में नाकाम रही।

मेगा फ्रेंचाइजी

आगामी, आईपीएल 2022 के ऑक्शन से पहले कोई भी फ्रेंचाइजी टीम के चार खिलाड़ियों को रिटेन कर सकती है। फ्रेंचाइजी टीमें दो भारतीय और दो विदेशी खिलाड़ियों को या फिर तीन भारतीय और एक विदेशी खिलाड़ी को रिटेन कर सकती हैं।

aman

aman

Next Story