×

धोनी को वनडे क्रिकेट खेलते रहना चाहिए : गांगुली

टी-20 प्रारूप में अपने प्रदर्शन के लिए आलोचनाओं का सामना कर रहे दिग्गज खिलाड़ी महेंद्र सिंह धोनी को पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली ने बल्लेबाजी शैली में बदलाव का सुझाव दिया है

Anoop Ojha

Anoop OjhaBy Anoop Ojha

Published on 14 Nov 2017 8:22 AM GMT

कुछ दिन के लिए स्थगित की जा सकती है भारत-श्रीलंका ODI सीरीज
X

बीसीसीआई (BCCI) प्रमुख सौरव गांगुली (फोटो सोशल मीडिया) 

  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

कोलकाता: टी-20 प्रारूप में अपने प्रदर्शन के लिए आलोचनाओं का सामना कर रहे दिग्गज खिलाड़ी महेंद्र सिंह धोनी को पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली ने बल्लेबाजी शैली में बदलाव का सुझाव दिया है। गांगुली का कहना है कि अगर धोनी को टी-20 प्रारूप में सफलता हासिल करनी है, तो उन्हें अपनी बल्लेबाजी के तरीके में बदलाव करना होगा।

यह भी पढ़ें....सहवाग पर भड़के गांगुली, कहा-बकवास कर रहा है वीरेंद्र

उल्लेखनीय है कि जहां एक ओर धोनी को टी-20 प्रारूप छोड़ने के लिए कहा जा रहा है, वहीं इन बातों से नाखुश कप्तान विराट कोहली और मुख्य कोच रवि शास्त्री के बाद अब गांगुली पूर्व कप्तान धोनी के समर्थन में उतरे हैं।गांगुली ने कहा, "वनडे की तुलना में टी-20 प्रारूप में धोनी का रिकॉर्ड कुछ खास नहीं है। मुझे आशा है कि इस बारे में कोहली और उनकी टीम धोनी से अलग से बात करेगी। उनमें अतुलनीय क्षमता है। अगर वह अलग तरीके से टी-20 में खेलते हैं, तो उन्हें निश्चित तौर पर सफलता हासिल होगी।"

यह भी पढ़ें....धोनी के अंतर्राष्ट्रीय करियर का अंत चाहते हैं उनसे जलने वाले लोग : शास्त्री

पूर्व कप्तान गांगुली ने कहा, "मुझे लगता है कि उन्हें वनडे क्रिकेट खेलते रहना चाहिए, लेकिन टी-20 प्रारूप में उन्हें अलग तरीके से खेलना चाहिए। उन्हें बिना किसी दबाव के इस प्रारूप में अपना प्रदर्शन करना चाहिए। हालांकि, यह चयनकर्ताओं पर भी निर्भर है कि वह किस तरह से धोनी को खिलाना चाहते हैं।"राजकोट में न्यूजीलैंड के खिलाफ खेले गए टी-20 मैच में भारतीय टीम को 40 रनों से मिली हार के बाद भारतीय टीम में धोनी के शामिल होने पर सवाल खड़े होने लगे थे। दिग्गज खिलाड़ी वीवीएस लक्ष्मण ने धोनी की स्ट्राइक रेट और बड़े शॉट पर सवालिया निशान खड़े किए थे।

यह भी पढ़ें....वीवीएस लक्ष्मण को मिली MCC की लाइफ टाइम मेंबरशिप, सचिन को मिल चुकी है यह उपलब्धि

इन सभी सवालों पर काफी समय तक चुप्पी साधे हुए धोनी ने दुबई में शनिवार को एक समारोह में मुस्कराते हुए कहा, "अपने जीवन में हर किसी के अपने विचार होते हैं और उनका सम्मान करना चाहिए। मैंने हमेशा से समझा है कि खेल में आप हमेशा कुछ न कुछ सीखते हैं।"

--आईएएनएस

Anoop Ojha

Anoop Ojha

Excellent communication and writing skills on various topics. Presently working as Sub-editor at newstrack.com. Ability to work in team and as well as individual.

Next Story