Top

टीएएक्सएबी की पहल पर गीता फोगाट दो से अधिक बच्चे पैदा न करने की लेंगी शपथ

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 9 July 2017 3:52 PM GMT

टीएएक्सएबी की पहल पर गीता फोगाट दो से अधिक बच्चे पैदा न करने की लेंगी शपथ
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली : भारत के लिए राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक जीतने वाली पहली महिला पहलवान गीता फोगाट सोमवार को सिर्फ दो बच्चे पैदा करने की शपथ लेंगी। गीता दो बच्चा नीति के प्रति जागरूकता फैलाने के उद्देश्य से यह शपथ लेंगी।

देश को कई पदक विजेता पहलवान देने वाले द्रोणाचार्य अवार्ड से सम्मानित किए जा चुके महाबीर सिंह फोगाट के परिवार की सबसे बड़ी बेटी गीता अपने पति और पहलवान पवन कुमार के साथ सोमवार को यह शपथ लेंगी।

टैक्सपेयर्स एसोसिएशन ऑफ भारत (टीएएक्सएबी) की पहल पर चलाए जा रहे अभियान का उद्देश्य है कि देश का हर राज्य अपने यहां दो बच्चा नीति लागू करे, ताकि देश में मौजूद संसाधनों और करदाताओं के पैसों का सही उपयोग हो सके।

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली स्थित कांस्टिट्यूशन क्लब में आयोजित इस शपथ समारोह में प्रख्यात कृषि विज्ञानी एम. एस. स्वामीनाथन, ओलम्पिक खेल चुके पहलवान योगेश्वर दत्त और गायक सुरेश वाडेकर भी उपस्थित रहेंगे।

ओलम्पिक के लिए क्वालिफाई करने वाली भारत की पहली महिला पहलवान गीता ने पिछले साल नवंबर में पवन से विवाह किया।

बॉलीवुड के सुपरस्टार आमिर खान की हाल ही में फोगाट परिवार की कहानी पर आधारित फिल्म 'दंगल' काफी सफल रही। आमिर ने इस फिल्म में गीता के पिता महाबीर सिंह की भूमिका अदा की थी।

अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भी बेहद सफल रही फिल्म में दिखाया गया है कि गीता की मां बेसब्री से बच्चा चाहती थीं और एक-एक कर उन्होंने चार बच्चियों को जन्म दिया।

टीएएक्सएबी का कहना है कि वह ऐसा कानून लाए जाने का दबाव बनाएगी, जिसके तहत दो से अधिक बच्चे पैदा करने पर पाबंदी हो।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story