Top

RIO में पदक से चूकीं दीपा कर्माकर, चौथे स्थान पर रहकर भी जीता लोगों का दिल

रियो ओलंपिक में रविवार का दिन भारत के लिए निराशाजनक रहा। जिम्नास्टिक्स के वॉल्ट फाइनल मुकाबलें में भारत की दीपा कर्मकार मेडल जीतने से चूक गईं। दीपा का औसत स्कोर 15.066 रहा और वह चौथे नंबर पर रहीं। रियो ओलंपिक में मेडल न मिल पाने के बावजूद दीपा कर्मकार ने लोगों का जीत लिया। दो बार की ओलंपिक पदक विजेता अमेरिका की सिमोन बाइल्स ने इस स्पर्धा में गोल्ड मैडल अपने नाम किया। सिमोन बाइल्स का औसत स्कोर- 15.966 रहा। वहीँ इस स्पर्धा में दूसरे नंबर पर रहीं रूस की मारिया पसेका को सिल्वर मैडल मिला। मारिया का पसेका का औसत स्कोर- 15.253 रहा। तीसरे नंबर पर रहीं स्विट्जरलैंड की ग्विलिया स्टैंग्रूबर को ब्रोंज मैडल मिला। उनका औसत स्कोर- 15.216 रहा।

tiwarishalini

tiwarishaliniBy tiwarishalini

Published on 14 Aug 2016 8:33 PM GMT

RIO में पदक से चूकीं दीपा कर्माकर, चौथे स्थान पर रहकर भी जीता लोगों का दिल
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

रियो डी जेनेरो: रियो ओलंपिक में रविवार का दिन भारत के लिए निराशाजनक रहा। जिम्नास्टिक्स के वॉल्ट फाइनल मुकाबलें में भारत के त्रिपुरा राज्य की रहने वाली दीपा कर्माकर मेडल जीतने से चूक गईं। दीपा का औसत स्कोर 15.066 रहा और वह चौथे नंबर पर रहीं। रियो ओलंपिक में मेडल न मिल पाने के बावजूद दीपा कर्माकर ने लोगों का दिल जीत लिया।

दो बार की ओलंपिक पदक विजेता अमेरिका की सिमोन बाइल्स ने इस स्पर्धा में गोल्ड मेडल अपने नाम किया। सिमोन बाइल्स का औसत स्कोर- 15.966 रहा। वहीँ इस स्पर्धा में दूसरे नंबर पर रहीं रूस की मारिया पसेका को सिल्वर मेडल मिला। मारिया का पसेका का औसत स्कोर- 15.253 रहा। तीसरे नंबर पर रहीं स्विट्जरलैंड की ग्विलिया स्टैंग्रूबर को ब्रोंज मेडल मिला। उनका औसत स्कोर- 15.216 रहा।

यह भी पढ़ें ... सपाट पैरों के साथ नहीं थी राह आसान,जानें दीपा के त्रिपुरा से रियो का सफर

dipa-rio

वॉल्ट के फाइनल मुकाबले में इस प्रकार रहा दीपा कर्माकर का स्कोर

-वॉल्ट के फाइनल मुकाबले में भारत की दीपा कर्मकार छठी प्रतिभागी के रूप में उतरीं।

-दीपा ने पहले प्रयास में 14.866 अंक हासिल किए।

-दीपा का डिफिकल्टी लेवल 6.000 और एग्जिक्यूशन 8.866 रहा।

-दूसरे प्रयास में दीपा ने 15.266 अंक हासिल किए।

-उनका डिफिकल्टी लेवल 7.000 और उनका एग्जिक्यूशन 8.266 रहा।

-इस तरह दीपा कर्मकार ने पहले प्रयास में 14.866 अंक, दूसरे प्रयास के लिए 15.266 अंक पाए और उनका औसत स्कोर 15.066 रहा।

यह भी पढ़ें ... RIO: हॉकी में भारत की टूटी उम्मीदें, बेल्जियम ने 3-1 से हरा सेमीफाइनल में मारी एंट्री

दीपा कर्मकार ने बनाया इतिहास

गौरतलब है कि दीपा कर्माकर भारत की ओर से ओलंपिक में जाने वाली पहली महिला जिमनास्ट हैं। आजादी के बाद से 11 भारतीय पुरुष जिमनास्ट ओलंपिक में जा चुके हैं। इससे पहले साल 1952 में दो, साल 1956 में तीन और साल 1964 में छ: भारतीय जिमनास्ट ने ओलंपिक में पार्टिसिपेट किया था, लेकिन ये सारे पुरुष थे।

52 साल बाद भारत की तरफ से दीपा कर्माकर के रूप में पहली बार किसी महिला जिमनास्ट ने ओलंपिक में न सिर्फ पार्टिसिपेट किया, बल्कि वॉल्ट के फाइनल मुकाबले में चौथे स्थान पर काबिज रहकर यह मुकाम हासिल करने वाली वह भारत की पहली महिला जिमनास्ट भी बन गई हैं।

tiwarishalini

tiwarishalini

Excellent communication and writing skills on various topics. Presently working as Sub-editor at newstrack.com. Ability to work in team and as well as individual.

Next Story