×

Hat-Trick Girl Vandana Katariya: पेड़ की शाखाओं से किया हॉकी का अभ्यास, जानें कैसा रहा वंदना कटारिया का ओलंपिक तक का सफर

Hat-Trick Girl Vandana Katariya: वंदना कटारिया का नेट महिला हॉकी टीम में सबसे अमीर खिलाड़ी है। फोर्ब्स और बिजनेस इनसाइडर के अनुसार, उनकी कुल संपत्ति लगभग 1.5 मिलियन डॉलर है।

Network

NetworkNewstrack NetworkChitra SinghPublished By Chitra Singh

Published on 1 Aug 2021 7:57 AM GMT

Vandana Katariya
X

वंदना कटारिया (फोटो- @Sportskeeda Twitter)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Hat-Trick Girl Vandana Katariya: टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympics) में शनिवार (31 जुलाई) को भारतीय महिला हॉकी टीम और साउथ अफ्रीका महिला हॉकी टीम के बीच जबर्दस्त मुकाबला देखने को मिला। करो या मरो की स्थिति में रही भारतीय टीम ने आखिरकार साउथ अफ्रीका को 4-3 से मात देकर क्वार्टर फाइनल में अपनी जगह पक्की कर ली। वहीं इस मैच में भारत की वंदना कटारिया ने तीन गोल दाग कर ओलंपिक के इतिहास में भारत की पहली हैट्रिक बनाने वाली महिला बन गई हैं।

आपको बता दें कि कल के हॉकी मैच में भारतीय महिलाओं ने चार गोल बनाए थे, जिसमें से तीन गोल वंदना कटारिया (Vandana Katariya) और एक गोल नेहा गोयल ने किया था। इस मैच की जीत का पूरा श्रेय वंदना कटारिया को जाता है। वही क्वार्टर फाइनल में भारतीय महिला हॉकी टीम का मुकाबला 2 अगस्त को ऑस्ट्रेलियाई महिला टीम से होगा।

वंदना कटारिया का जीवन परिचय (Vandana Katariya Ka Jivan Parichay)

भारत के उत्तराखंड की रहने वाली वंदना कटारिया का जन्म 15 अप्रैल 1992 को रोशनाबाद में हुआ था। उनके पिता (Vandana Katariya Father) का नाम नाहर सिंह (Nahar Singh) है। वे हरिद्वार में स्थित BHEL में टेक्नीशियन थे। उनके पिता अपने जमाने के रेसलर रह चुके थे। वंदना ने 2006 में जूनियर इंटरनेशनल में डेब्यू किया। वहीं 2010 में उन्हें सीनियर नेशनल टीम में शामिल हुई।

वंदना ने पेड़ के शाखाओं से शाखा से किया अभ्यास

वंटना के लिए इस मुकाम तक पहुंचना इतना आसान नहीं था। वे एक ऐसे गांव से रहती थी, जहां लड़कियों को खेल से दूर रखा जाता था। लेकिन वंदना इन सब से परे होकर अपने खेल का अभ्यास करती रही। मिली जानकारी के अनुसार, वंदना ने पेड़ की शाखाओं से अपने खेल का अभ्यास करती थी। वहीं वंदना के इस जुनून के खिलाफ हर कोई था, सिवाय उनके पिता के। उनके पिता उनका साथ उस समय दिया, जब सब चाहते थे कि वंदना हॉकी खेलने का जुनून छोड़ दे। वंदना की दादी हमेशा उन्हें खाना बनाने और घर के काम करने के लिए कहा करती थी।

ट्रेनिंग के चलते अपने पिता को आखिरी बार नहीं देख पाई वंदना

टोक्यो ओलंपिक में पहुंचने के लिए वंदना कटारिया का सफर इतना आसान नहीं था। जब वे ओलंपिक के लिए हॉकी का तैयारी कर रही थी, तभी उनके पिता की मृत्यु हो गई। ट्रेनिंग के चलते वे अपने पिता को आखिरी बार देख भी नहीं पाई।

मेडल रिकॉर्ड (Medal Records)

वंदना ने अपने खेल में अब तक चार मेडल हासिल कर चुकी है, जिसमें एक गोल्ड, एक सिल्वर और दो ब्रॉन्ज मेडल है। 2017 में जापान में आयोजित एशियन कप में वंदना गोल्ड मेडलिस्ट रह चुकी है।

वंदना की हाइट (Vandana Kataria Height)- 5 फीट 3 इंच।

नेट वर्थ (Net Worth)

वंदना कटारिया का नेट महिला हॉकी टीम में सबसे अमीर खिलाड़ी है। अगर बात करे वंदना की नेट वर्थ की, तो फोर्ब्स और बिजनेस इनसाइडर के अनुसार, वंदना कटारिया की कुल संपत्ति लगभग 1.5 मिलियन डॉलर है।

Chitra Singh

Chitra Singh

Next Story