Top

हॉकी विश्व कप 2018: फाइनल में बेल्जियम की पुरुष हॉकी टीम ने नीदरलैंड्स को हराया

Shivakant Shukla

Shivakant ShuklaBy Shivakant Shukla

Published on 16 Dec 2018 4:34 PM GMT

हॉकी विश्व कप 2018: फाइनल में बेल्जियम की पुरुष हॉकी टीम ने नीदरलैंड्स को हराया
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: ओडिशा की राजधानी भुवनेश्वर के कलिंगा स्टेडियम में खेले गए हॉकी विश्व कप फाइनल में बेल्जियम की पुरुष हॉकी टीम ने नीदरलैंड्स को हराकर पहली बार खिताब अपने नाम किया।

ये भी पढ़ें— हॉकी वर्ल्ड कप 2018: भारत को क्वार्टर फाइनल में नीदरलैंड्स से मिली हार

इस फाइनल मुकाबले में बेल्जियम ने नीदरलैंड्स को 3-2 (0-0) से हराकर उसका चौथी बार विश्व कप खिताब जीतने से वंचित कर दिया। विश्व कप के इतिहास में पहली बार कोई फाइनल मुकाबला निर्धारित समय में बिना किसी गोल के समाप्त हुआ और पेनल्टी शूटआउट में गया, जहां 2016 रियो ओलम्पिक में फाइनल तक का सफर तय करने वाली बेल्जियम की टीम ने बाजी मारी।

ये भी पढ़ें— सेना के जवानों के साथ अब कुत्ते भी रखेंगे घुसपैठ पर नज़र

गौरतलब है कि नीदरलैंड्स ने साल 1973, 1990 और आखिरी बार 1998 में विश्व खिताब अपने नाम किया था। नीदरलैंड्स 2014 के विश्व कप फाइनल में आस्ट्रेलिया के हाथों 6-1 से हार गया था।

पाकिस्तान ने सबसे ज्यादा 4 बार जीता है हॉकी विश्व कप

सडन डेथ में पहले ही प्रयास में बेल्जियम ने गोल किया लेकिन नीदरलैंड्स का खिलाड़ी गोल नहीं कर सका और कलिंगा स्टेडियम में शानदार आतिशबाजी के बीच बेल्जियाई टीम जश्न में डूब गई। इस दौरान जीत की खुशी में बेल्जियम के खिलाड़ी अपने आंसू नहीं रोक पाए और मैदान पर खुशी से रोते देखे गए। गौरतलब है कि पाकिस्तान की टीम ने सबसे ज्यादा चार बार विश्व कप का खिताब अपने नाम किया है।

Shivakant Shukla

Shivakant Shukla

Next Story