×

IND vs SA Third Test: कोहली और पुजारा को दिखाना होगा दम, जीत के लिए 300 से ज्यादा रनों की लीड हासिल करना जरूरी

IND vs SA Third Test: : भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच केपटाउन में खेले जा रहे तीसरे और आखिरी टेस्ट मैच में दो दिनों में ही दो पारियां समाप्त हो चुकी हैं।

Anshuman Tiwari

Written By Anshuman TiwariPublished By Vidushi Mishra

Published on 13 Jan 2022 5:30 AM GMT

IND vs SA Third Test
X

IND vs SA Third Test (फोटो-सोशल मीडिया)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

IND vs SA Third Test: भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच केपटाउन में खेले जा रहे तीसरे और आखिरी टेस्ट मैच में दो दिनों में ही दो पारियां समाप्त हो चुकी हैं। दूसरे दिन का खेल समाप्त होने के समय टीम इंडिया ने अपनी दूसरी पारी में 2 विकेट के नुकसान पर 57 रन बना लिए हैं। कप्तान विराट कोहली 14 और चेतेश्वर पुजारा 9 रनों पर नाबाद हैं। टीम इंडिया को अपने इन दोनों प्रमुख बल्लेबाजों से अब बड़ी पारियों की उम्मीद है।

पहली पारी में मिली 13 रनों की लीड को जोड़कर भारत अब 70 रनों की बढ़त ले चुका है। क्रिकेट के जानकारों के मुताबिक केपटाउन टेस्ट में टीम इंडिया को जीत हासिल करने के लिए 300 से ज्यादा रनों की लीड हासिल करनी होगी। इसके बाद भारतीय गेंदबाजों को भी पहली पारी की तरह ही दमखम दिखाना होगा।

बुमराह की घातक गेंदबाजी

पहली पारी में टीम इंडिया की ओर से जसप्रीत बुमराह ने घातक गेंदबाजी की। बुमराह की शानदार गेंदबाजी की बदौलत ही दक्षिण अफ्रीका की टीम 210 रनों पर ढेर हो गई। टीम इंडिया की ओर से बुमराह 5 विकेट लेने में कामयाब रहे जबकि उमेश यादव और मोहम्मद शमी ने दो-दो विकेट लिए। एक विकेट शार्दुल ठाकुर के हिस्से में आया।

बुमराह ने करियर में सातवीं बार 5 विकेट लेने का कमाल दिखाया। उन्होंने दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाज पीटरसन का भी विकेट लिया जिन्होंने दक्षिण अफ्रीका की ओर से सर्वाधिक 72 रन बनाए। पीटरसन के अर्धशतक की बदौलत ही दक्षिण अफ्रीका की टीम 210 रन बनाने में कामयाब रही। दक्षिण अफ्रीका के केशव महाराज ने 25, तेंबा बाउमा ने 28 और डुसेन ने 21 रन बनाए। इन बल्लेबाजों के अलावा दक्षिण अफ्रीका का कोई भी बल्लेबाज भारतीय गेंदबाजों के सामने तनिक भी नहीं टिक सका।

कोहली, पुजारा और रहाणे से उम्मीदें

दूसरी पारी में टीम इंडिया को केएल राहुल और मयंक अग्रवाल से अच्छी बल्लेबाजी की उम्मीद थी मगर दोनों ही बल्लेबाज उम्मीदों पर खरे नहीं उतर सके। राहुल 22 गेंदों पर सिर्फ 10 रन बना सके जबकि मयंक अग्रवाल 15 गेंदों पर 7 रन बनाकर रबाडा का शिकार बने। अब भारतीय टीम की उम्मीदें चेतेश्वर पुजारा और कप्तान विराट कोहली पर टिकी हैं। अगर टीम इंडिया के ये दोनों बल्लेबाज बड़ी पारियां खेल सके तो निश्चित रूप से केपटाउन टेस्ट पर भारत की पकड़ मजबूत हो जाएगी।

कोहली ने पहली पारी में 79 रन बनाए थे जबकि पुजारा ने 43 रनों की पारी खेली थी। दूसरी पारी में भी इन दोनों बल्लेबाजों से भारत को अच्छी बल्लेबाजी की उम्मीद है। रहाणे पहली पारी में सिर्फ 9 रन बना सके थे मगर दूसरी पारी में उन्हें भी दमखम दिखाना होगा ताकि भारत बड़ा स्कोर बनाने में कामयाब हो सके।

दोनों टीमों के लिए तीसरा टेस्ट अहम

तीसरा टेस्ट मैच दोनों टीमों के लिए काफी अहम है। भारत ने पहले टेस्ट मैच में जीत हासिल की थी मगर दक्षिण अफ्रीका की टीम ने दूसरे टेस्ट मैच में भारत को हराकर सीरीज 1-1 से बराबर कर दी थी। इस नजरिए से अब तीसरा और आखिरी टेस्ट निर्णायक हो गया है। दोनों टीमों ने इस टेस्ट मैच में जीत हासिल करने के लिए पूरी ताकत लगा रखी है।

क्रिकेट के जानकारों का मानना है कि यदि भारत 300 से ज्यादा रनों की लीड हासिल करने में कामयाब रहा तो केपटाउन की पिच पर चौथी पारी में दक्षिण अफ्रीका के सामने मुसीबतें खड़ी हो सकती हैं।

इस लीड को हासिल करने के लिए भारतीय बल्लेबाजों को धैर्य के साथ बल्लेबाजी करनी होगी और दक्षिण अफ्रीका के सामने चुनौतीपूर्ण स्कोर रखना होगा। इसके बाद भारतीय गेंदबाजों को भी दूसरी पारी में दमखम दिखाना होगा ताकि भारत यह सीरीज जीतने में कामयाब हो सके।

Vidushi Mishra

Vidushi Mishra

Next Story