Top

चैम्पियंस ट्रॉफी : दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ चाहिए सिर्फ जीत

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 11 Jun 2017 8:47 AM GMT

चैम्पियंस ट्रॉफी : दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ चाहिए सिर्फ जीत
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लंदन : भारत और दक्षिण अफ्रीका दोनों टीमों को अपने पिछले मुकाबले में हार का सामना करना पड़ा था, जिसके कारण उनकी सेमीफाइनल में पहुंचने की उम्मीदें ग्रुप-बी के अंतिम मैच पर टिकी हुई हैं। ये दोनों टीमें आज द ओवल मैदान पर अपनी सेमीफाइनल में प्रवेश की उम्मीदों के साथ आमने-सामने होंगी।

मौजूदा विजेता भारत का लक्ष्य हर हाल में जीत हासिल करना होगा, वही दक्षिण अफ्रीका की खिताबी हासिल करने के की दिशा में एक कदम और बढ़ना चाहेगी।

ये भी देखें : दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सामने आएगा कोहली का ये ट्रंप का इक्का

अपने पिछले मैच में भारत ने श्रीलंका के सामने 322 रनों का लक्ष्य रखा था जिसे श्रीलंका टीम ने छह विकेट खोकर हासिल कर लिया था। यह मैच कई लिहाज से भारत को उसकी कमजोरियों का आइना दिखा गया था।

अगले मैच में भारतीय कप्तान विराट कोहली एक बदलाव टीम में कर सकते हैं। वह मध्य क्रम के बल्लेबाज केदार जाधव को बाहर बिठा कर ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन को अंतिम एकादश में जगह दे सकते हैं। अश्विन अभी तक हुए दोनों मैच में बाहर ही बैठे हैं।

शानदार फॉर्म में चल रही रोहित शर्मा और शिखर धवन की सलामी जोड़ी ने टीम को इस टूर्नामेंट में मजबूत शुरूआत दी है। टीम को उनसे दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ होने वाल मैच में भी इसी प्रदर्शन की उम्मीद होगी।

श्रीलंका के खिलाफ कोहली और युवराज सिंह का बल्ला नहीं चला था लेकिन पाकिस्तान के खिलाफ पहले मैच में इन दोनों ने अर्धशतक जड़े थे। बल्ले से यह दोनों भी कमाल कर सकते हैं। अपनी विस्फोटक बल्लेबाजी के लिए मशहूर पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धौनी और युवा हार्दिक पांड्या निचले क्रम में अहम भूमिका निभाएंगे। वहीं रवींद्र जड़ेजा भी बड़े शॉट लगाने का दम रखते हैं।

गेंदबाजी में पिछले मैच को देखते हुए कोहली के लिए संकट है। श्रीलंका के खिलाफ सिर्फ भुवनेश्वर कुमार ही विकेट लेने में सफल हुए थे। उनके अलावा कोई और गेंदबाज विकेट नहीं ले पाया था।

उमेश यादव, जसप्रीत बुमराह, पांड्या और जडेजा टीम को विकेट नहीं दिला पाए थे। गेंदबाजों के खराब प्रदर्शन के कारण ही भारत, श्रीलंका के खिलाफ हार गया था। दूसरी तरफ दक्षिण अफ्रीका के पाकिस्तान के खिलाफ हुए मैच में न ही बल्लेबाज चले थे न ही गेंदबाज। डेविड मिलर ने जरूर 75 रनों का पारी खेल टीम को संभाला था।

वहीं गेंदबाजों में मोर्ने मोर्कल तीन विकेट लेकर उसके सबसे सफल गेंदबाज रहे थे। भारत के खिलाफ उसे दोनों क्षेत्रों में अच्छा प्रदर्शन करना होगा। दक्षिण अफ्रीका के कप्तान अब्राहम डिविलियर्स की फॉर्म इस टूनार्मेंट में अभी तक चिंता की बात रही है। उन्होंने पिछले दो मैचों में सिर्फ चार रन ही बनाए थे। टीम चाहेगी की वह भारत के खिलाफ इस करो या मरो वाले मुकाबले में रन करें।

गेंदबाजी में कागिसो रबादा, वेन पार्नेल, क्रिस मौरिस के ऊपर मोर्कल का साथ देने की जिम्मेदारी होगी।

टीमें (संभावित) :-

भारत : विराट कोहली (कप्तान), शिखर धवन, रोहित शर्मा, युवराज सिंह, महेंद्र सिंह धौनी (विकेटकीपर), हार्दिक पांड्या, केदार जाधव, रविचंद्रन अश्विन, रवींद्र जडेजा, उमेश यादव, भुवनेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी, दिनेश कार्तिक, अजिंक्य रहाणे।

दक्षिण अफ्रीका : अब्राहम डिविलियर्स (कप्तान), हाशिम अमला, क्विंटन डी कॉक (विकेटकीपर), डेविड मिलर, ज्यां पॉल ड्यूमिनी, फाफ डु प्लेसिस, इमरान ताहिर, केशव महाराज, फरहान बेहरदीन, क्रिस मौरिस, वेन पार्नेल, अंदिले फेहुवलक्वायो, डवायन फ्रीटोरियस, कागिसो रबाडा।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story