Top

भारत-जिम्बाब्वे आखिरी टी-20 मैच आज, सीरीज जीतने का दोनों के पास मौका

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 22 Jun 2016 1:34 AM GMT

भारत-जिम्बाब्वे आखिरी टी-20 मैच आज, सीरीज जीतने का दोनों के पास मौका
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

हरारेः दूसरे टी-20 में जिम्बाब्वे को 10 विकेट से रौंदने के बाद भारतीय टीम आज यहां तीसरे और अंतिम टी-20 मैच में जीत के साथ सीरीज अपने नाम करने के इरादे से उतरेगी। भारतीय समय के अनुसार शाम साढ़े 4 बजे मैच शुरू होगा। टीम इंडिया ने वनडे श्रृंखला में जिम्बाब्वे का 3-0 से क्लीनस्वीप किया था, लेकिन पहले टी-20 में महेंद्र सिंह धोनी की टीम को दो रन से हार का सामना करना पड़ा था।

मेहमान टीम ने हालांकि दूसरे मैच में जोरदार वापसी करते हुए हरारे स्पोर्ट्स क्लब में एकतरफा जीत दर्ज की थी। ऐसे में धोनी की सेना अब एक और आसान जीत के साथ सीरीज अपने नाम करना चाहेगी। धोनी की अगुआई वाली टीम के लिए बरिंदर सरन, मनदीप सिंह, लोकेश राहुल और जसप्रीत बुमराह ने प्रभावी प्रदर्शन किया है। युवा तेज गेंदबाज सरन ने भारत की ओर से सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया।

मनदीप ने अर्धशतक जड़ा जबकि राहुल ने भी प्रभावी पारी खेली जिससे टीम ने बेहद आसान जीत दर्ज की। सरन ने 10 रन देकर चार विकेट चटकाए थे, जबकि बुमराह ने उनका अच्छा साथ निभाते हुए तीन विकेट हासिल किए। मनदीप ने इस प्रारूप में अपना पहला अर्धशतक जड़ा। इसके बाद अब इन युवा खिलाड़ियों की नजरें एक बार फिर अच्छे प्रदर्शन पर टिकी होंगी।

अनुभवी धोनी हालांकि पिछले मैच में बड़ी जीत के बावजूद जिम्बाब्वे को हल्के में नहीं लेंगे और टीम के अपने युवा साथियों को आत्ममुग्धता से बचने की सलाह देंगे। धोनी ने कहा है कि तेजी से रन दौड़ने की जरूरत है जिससे कि फील्डरों पर दबाव बने। जहां तक जिम्बाब्वे का सवाल है तो ग्रीम क्रीमर की अगुआई में टीम सीरीज का सकारात्मक अंत करना चाहेगी।

क्रीमर ने कहा कि उनकी टीम को अब तक नियमित अंतराल पर विकेट गंवाने का खामियाजा भुगतना पड़ा है। जिम्बाब्वे को अगर भारत को कड़ी टक्कर देनी है तो चामू चिभाभा, हैमिल्टन मसाकाद्जा, सिकंदर रजा, एल्टन चिगुंबुरा और मैलकम वालेर जैसे खिलाड़ियों को बैट से बेहतर प्रदर्शन करना होगा और गेंदबाजों के अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद भी करनी होगी।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story