Top

Sunil Joshi Birthday: वो खिलाड़ी जिसने SA टीम में पैदा किया था खौफ, यादगार कर दिया LG Cup

Sunil Joshi Birthday: भारतीय क्रिकेट टीम पूर्व ऑलराउंडर ने भारत के लिए कुल 15 टेस्ट और 69 वनडे मैच खेले हैं। इनका सबसे बेहतरीन परफॉर्मेंस LG Cup में SA के खिलाफ रहा।

Shreya

ShreyaBy Shreya

Published on 5 Jun 2021 8:05 AM GMT

Sunil Joshi Birthday: वो खिलाड़ी जिसने SA टीम में पैदा किया था खौफ, यादगार कर दिया LG Cup
X

सुनील जोशी (फाइल फोटो साभार- सोशल मीडिया)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

Sunil Joshi Happy Birthday: भारतीय क्रिकेट टीम पूर्व ऑलराउंडर सुनील जोशी (Sunil Joshi) ने भले ही इंटरनेशनल और फर्स्ट क्लास क्रिकेट से रिटायरमेंट (Sunil Joshi Retirement) ले लिया हो, लेकिन आज भी भारतीयों दिल में उनकी पारियों की यादें बखूबी ताजा हैं। सुनील जोशी ने भारत को ऐसी कई यादगार पारियां दी हैं, जिसने न केवल उनके करियर में चार चांद लगाएं, बल्कि भारतीय टीम (Indian Cricket Team) को भी जीत की ओर अग्रसर किया। उनके जन्मदिवस (Birthday) के मौके पर हम आपको उनके करियर के बारे में कुछ दिलचस्प बातें बताने जा रहे हैं-

सुनील (Sunil Joshi) टीम इंडिया में बाएं हाथ के स्पिन गेंदबाज (Left Arm Spin Bowler) रहे हैं। उन्होंने टीम इंडिया (Sunil Joshi Cricket Career) के लिए कुल 15 टेस्ट और 69 वनडे खेले हैं। टेस्ट में उन्होंने 35.85 के औसत से कुल 41 विकेट लिए जिसमें उन्होंने एक बार पांच विकेट हॉल भी हासिल किया। वहीं, वनडे में 4.44 की इकोनॉमी से कुल 69 विकेट झटके हैं। अगर बात की जाए बल्लेबाजी की तो उन्होंने 19 टेस्ट पारियों में 352 रन बनाए, जो कि 20.70 औसत के साथ पूरे किए। इसमें एक हाफ सेंचुरी भी शामिल है। इसके अलावा 69 वनडे की 45 पारियों में 584 रन अपने नाम किए। इस खिलाड़ी के नाम 1995-96 के सीजन में रणजी ट्रॉफी 500 रन और 50 विकेट का रिकॉर्ड भी है।

सुनील जोशी (फोटो साभार- सोशल मीडिया)

क्रिकेट के लिए बेहिसाब जुनून रखते थे जोशी

बाएं हाथ के इस स्पिन गेंदबाज का जन्म 6 June 1969 को कर्नाटक के गदग में हुआ था। सुनील जोशी (Sunil Joshi Full Name) का पूरा नाम Sunil Bandacharya Joshi है। बचपन से ही सुनील ने भारतीय क्रिकेट में शामिल होने का सपना देखा। न केवल सपने को देखने का काम किया, बल्कि इसे पाने के लिए जी जान से मेहनत भी की। बताया जाता है कि बचपन में क्रिकेट कोचिंग के समय हर सुबह सुनील करीब 40 मील का सफर कर हुबली पहुंचते थे और फिर स्कूल जाने के लिए समय पर अपने टाउन गडग लौट जाते थे। जो क्रिकेट के लिए उनके जुनून को दिखाता है।

1996 में अपने बेहतरीन रणजी परफॉरमेंस से सबको इम्प्रेस कर इंडिया टीम में एंट्री मिली। बर्मिंघम में इंडिया के लिए पहला टेस्ट मैच खेला। हालांकि पहले ही मैच में उंगली में चोट लग जाने के चलते वो मैच में एक भी गेंद नहीं फेंक पाएं।

गेंदबाज सुनील जोशी (फोटो साभार- सोशल मीडिया)

करियर का सबसे यादगार मैच

सुनील जोशी के करियर का सबसे शानदार मैच नैरोबी में साउथ अफ्रीका के खिलाफ था। साल 1999 में LG Cup के दौरान नैरोबी में उन्होंने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 10 ओवर में छह मेडन रखा था और छह रन देकर शानदार पांच विकेट झटके थे। इस मैच में SA 117 पर बिखर गई थी और इंडिया की 8 विकेट से शानदार जीत हुई थी। इस मैच में उन्हें मैन ऑफ द मैच भी चुना गया था। यह मैच जोशी का सबसे यादगार मैच माना जाता है। इस इनिंग्स को देखने वाले कहते हैं कि सुनील जोशी ने उस दिन साउथ अफ्रीका के अन्दर स्पिन का खौफ भर दिया था।

21 जून 2012 को सुनील जोशी ने इंटरनेशनल और फर्स्ट क्लास क्रिकेट से रिटायरमेंट ले लिया। लेकिन आज भी LG Cup का ये मैच सुनील जोशी का सबसे बेहतरीन परफॉरमेंस माना जाता है।

कोचिंग का अच्छा खासा अनुभव रखते हुए जोशी

बता दें कि सुनील जोशी के पास कोचिंग का काफी अनुभव है। जोशी ने घरेलू के अलावा इंटरनेशन टीम के लिए भी कोचिंग कर चुके हैं। भारतीय टीम के इस पूर्व गेंदबाज ने हैदराबाद और जम्मू-कश्मीर क्रिकेट टीम के कोच की भूमिका भी निभाई है। 2016 में उन्होंने असम क्रिकेट के लिए भी कोचिंग की थी। इसके लिए साल 2015 में वो ओमान क्रिकेट टीम के स्पिन गेंदबाजी कोच बने थे। इसके बाद साल 2017 में वो बांग्लादेश क्रिकेट टीम का स्पिन बॉलर अडवाइजर नियुक्त हुए थे। 2019 में जोशी यूएस नेशनल टीम के स्पिन गेंदबाजी कोच बने थे। आईपीएल में जोशी किंग्स इलेवन पंजाब के स्पिन बॉलिंग कोच भी रह चुके हैं।

दोस्तों देश और दुनिया की खबरों तेजी से जानने के लिए बने रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलो करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shreya

Shreya

Next Story