Top

एशिया में परचम लहराने के लिए भारतीय महिला हैण्डबॉल टीम रवाना

कैंप में कड़ा अभ्यास और कोच द्वारा तकनीक सुधारने पर की गई मेहनत के चलते मजबूत हौसलों के साथ भारत की महिला हैण्डबॉल टीम कुमामाटो (जापान) में होने वाली 17वीं एशियन महिला हैण्डबॉल चैंपियनशिप में भाग लेेने के लिए मंगलवार को रवाना हो गई।इस चैंपियनशिप में भारतीय टीम की कमान मंजुला पाठक को सौंपी गयी है जबकि नीना शील उपकप्तान बनाई गई है।

Anoop Ojha

Anoop OjhaBy Anoop Ojha

Published on 27 Nov 2018 1:43 PM GMT

एशिया में परचम लहराने के लिए भारतीय महिला हैण्डबॉल टीम रवाना
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: कैंप में कड़ा अभ्यास और कोच द्वारा तकनीक सुधारने पर की गई मेहनत के चलते मजबूत हौसलों के साथ भारत की महिला हैण्डबॉल टीम कुमामाटो (जापान) में होने वाली 17वीं एशियन महिला हैण्डबॉल चैंपियनशिप में भाग लेेने के लिए मंगलवार को रवाना हो गई।इस चैंपियनशिप में भारतीय टीम की कमान मंजुला पाठक को सौंपी गयी है जबकि नीना शील उपकप्तान बनाई गई है।

यह भी पढ़ें ......चुप्पी तोड़ मिताली ने खोले राज, बताया कैसे कोच ने किया अपमानित

29 अक्टूबर से 27 नवम्बर तक टीम ने अयोध्या में बहाया पसीना

इस टीम का विदाई समारोह बाबू बनारसी दास बैडमिंटन अकादमी में आयोजित किया गया था जिसमें हैण्डबॉल फेडरेशन ऑफ इंडिया की चेयरमैन श्रीमती अलका दास ने खिलाड़ियों को अच्छे प्रदर्शन की शुभकामनाएं दी। उन्होंने उम्मीद जताई कि आज महिलाएं खेल में परचम लहरा रही है और मुझे विश्वास है कि आप भी जापान में देश का परचम लहराकर आएंगी।

श्रीमती अलका दास ने बताया कि जापान में आगामी 29 नवम्बर से दस दिसम्बर तक होने वाली इस चैंपियनशिप के लिए भारतीय महिला टीम का प्रशिक्षण शिविर 29 अक्टूबर से 27 नवम्बर तक अयोध्या में लगाया गया था।

यह भी पढ़ें ......न्यूजीलैंड : गैरी स्टीड बने मुख्य कोच, दो साल का अनुबंध

विशेष मेहनत से सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन की उम्मीद

हैण्डबॉल फेडरेशन ऑफ इंडिया की चेयरमैन अलका दास ने बताया कि ट्रैटाफ्लैक्स पर हुए इस शिविर में कड़े अभ्यास के बाद प्रशिक्षकों ने खिलाड़ियों को कड़ा अभ्यास कराया। इसमें खासकर खेल की तकनीक, इंडयोरेंस, स्टेमिना व गति में सुधार के लिए विशेष मेहनत की गई। इसके चलते मुझे उम्मीद है कि टीम अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करेगी और देश का नाम ऊंचा करेंगी।

भारतीय टीम की घोषणा 23 नवम्बर को फैजाबाद में की गई थी तथा टीम की रवानगी के अवसर पर बाबू बनारसी दास बैडमिंटन अकादमी में एक समारोह आयोजित किया गया।

यह भी पढ़ें ......महिला हॉकी : राष्ट्रीय शिविर के लिए 33 सदस्यीय टीम की घोषणा, यहां देखें नाम

फेडरेशन की चेयरमैन अलका दास ने की प्रदर्शन की कामना

इस अवसर पर हैण्डबॉल फेडरेशन ऑफ इंडिया की चेयरमैन श्रीमती अलका दास और समारोह में मौजूद श्री प्रदीप राय (कोआर्डिनेटर, यूपी हैण्डबॉल एसोसिएशन) व श्री जितेंद्र सिंह बब्लू (उपाध्यक्ष यूपी हैंडबॉल एसोसिएशन) ने टीम में शामिल खिलाड़ियों के अच्छे प्रदर्शन की कामना की।

यह भी पढ़ें ......आल इंडिया सीनियर डबल्स रैंकिंग बैडमिंटन: सीएजी के के.नंदगोपाल दोहरे खिताब के विजेता

16 सदस्यीय भारतीय टीम की कप्तान रेलवे की मंजुला पाठक बनाई गई है जबकि उपकप्तान पश्चिम बंगाल की नीना शील बनाई गइ है। टीम के मुख्य कोच तेजराज सिंह बनाए गए है।

इस अवसर पर भारतीय टीम के मुख्य कोच तेजराज सिंह ने उम्मीद जताई कि यह टीम जापान में में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करेगी।

यह भी पढ़ें ......आखिरी दो टेस्ट के लिए पृथ्वी, हनुमा की भारतीय टीम में हुई एंट्री

17वीं एशियन महिला हैण्डबॉल चैंपियनशिप के लिए चयनित भारतीय टीम-

गोलकीपरः नीना शील (पश्चिम बंगाल), शिवा सिंह (उत्तर प्रदेश), मनदीप कौर (पंजाब)

राइट बैकः मंजुला पाठक (भारतीय रेलवे), ज्योति शुक्ला (भारतीय रेलवे) एशिया में परचम लहराने के लिए भारतीय महिला हैण्डबॉल टीम रवाना हरविंदर कौर (पंजाब), मेनिका (हिमाचल प्रदेश)

लेफ्ट बैकः सृष्टि अग्रवाल (भारतीय रेलवे), तेजस्विनी सिंह (उत्तर प्रदेश), प्राची (हरियाणा)

राइट विंगः सुप्रिया जायसवाल (उत्तर प्रदेश), स्वर्णिमा जायसवाल (उत्तर प्रदेश)

पिवोटः इंदु गुप्ता (भारतीय रेलवे) व संध्या (भारतीय रेलवे),

लेफ्ट विंगः अनुमीत (भारतीय रेलवे), सोनिका (हरियाणा)

मुख्य कोचः तेजराज सिंह (राजस्थान), कोचः शीतल रानी (मणिपुर), फिजियोथेरेपिस्टः विवेक सिंह (यूपी)

Anoop Ojha

Anoop Ojha

Excellent communication and writing skills on various topics. Presently working as Sub-editor at newstrack.com. Ability to work in team and as well as individual.

Next Story