Top

इंदौर वनडे : विराट हार से बचने को आस्ट्रेलिया कुछ भी करेगा !

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 23 Sep 2017 12:24 PM GMT

इंदौर वनडे : विराट हार से बचने को आस्ट्रेलिया कुछ भी करेगा !
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

इंदौर : पहले दो मैचों में एकतरफा जीत हासिल करने के बाद मेजबान भारत की आंखों में अब एक और जीत के साथ सीरीज पर कब्जा जमाना होगा लेकिन आस्ट्रेलिया उसे पांच मैचों की इस वनडे सीरीज में 'अजेय' स्थिति हासिल करने से रोकने के लिए अपना तमाम अनुभव झोंक देगा।

ये भी देखें:वोट की चमक में हम भूल रहे अपना सांस्कृतिक-राजनीतिक कल्चर : दिनेश शर्मा

दोनों टीमें रविवार को यहां के होल्कर स्टेडियम में तीसरे वनडे मैच में भिड़ेंगी। भारत ने चेन्नई और कोलकाता में जीत के साथ 2-0 की बढ़त बना ली है। एक और जीत सीरीज उसकी झोली में लाकर रख देगी।

भारत ने लगातार आठ वनडे मैचों में जीत हासिल की है। इस मैच में भी हर लिहाज से मेजबान का पलड़ा भारी है। रैंकिंग में बादशाह बन चुकी भारतीय टीम को इस मुकाम तक पहुंचाने और इस सीरीज में 2-0 की बढ़त दिलाने में उसके बेहतरीन गेंदबाजी आक्रमण का खास योगदान है।

ये भी देखें:खड़से के खिलाफ केस वापस लेने के लिए कराची से धमकी भरा फोन

दोनों मैचों में मेजबान टीम के गेंदबाजों ने आस्ट्रेलिया को आसान लक्ष्य से वंचित रखा था। आस्ट्रेलिया को खासकर भारत के स्पिनरों को खेलने में विशेष परेशानी हो रही है। दो मैचों में कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल ने मिलकर कुल 10 विकेट अपने नाम किए हैं। कुलदीप ने कोलकाता में खेले गए दूसरे मैच में हैट्रिक ली थी।

वहीं भुवनेश्वर कुमार और जसप्रीत बुमराह ने भी अपनी टीम के लिए उम्दा प्रदर्शन किया है। यह दोनों शुरुआती ओवरों में टीम को सफलता दिलाते हैं और अंतिम के ओवरों में रन बचाते हुए विपक्षी टीम का सफाया करते हैं।

ये भी देखें:शशिकला के इशारे पर सब बोल रहे थे झूठ, जया हुई थी साजिश का शिकार !

कप्तान विराट कोहली एक बार फिर अपनी गेंदबाजी पर ज्यादा निर्भर रहेंगे क्योंकि टीम के बल्लेबाजों में शुरुआती दो मैचों में उन्हें निराश ही किया है।

कोहली और मुख्य कोच के लिए बल्लेबाजी में मध्यक्रम का न चल पाना परेशानी का सबब है। पहले मैच में महेंद्र सिंह धौनी और हार्दिक पांड्या ने टीम को बचाया तो दूसरे मैच में कोहली और अजिंक्य रहाणे के सिवाए कोई और बल्लेबाज रन नहीं कर सका।

ऐसे में रोहित शर्मा, केदार जाधव, मनीष पांडे के बल्लों का खामोश रहना टीम की परेशानी है।

ये भी देखें:दोजख बनती जन्नत में बदलने लगे हालत, लेकिन अभी भी बहुत कुछ बाकी है

वहीं आस्ट्रेलिया के लिए भी एक तरह से बल्लेबाजों का न चल पाना सबसे बड़ी चिंता है। दोनों मैचों में उसके गेंदबाजों ने तो अच्छा प्रदर्शन किया है, लेकिन बल्लेबाज आसान से लक्ष्य के सामने ढेर हो गए।

पिछले मैच में कप्तान स्टीव स्मिथ और मार्कस स्टोइनिस ने जरूर अर्धशतक जड़े थे, लेकिन वह टीम को जीत दिलाने के लिए नाकाफी थे।

आस्ट्रेलिया का शीर्ष क्रम खासकर डेविड वार्नर बल्ले से नाकाम रहे हैं। टीम के लिए वार्नर का चलना बेहद जरुरी हो गया है। सीरीज में वापसी के रास्ते खुले रखने के लिए उसे हर हाल में यह मैच जीतना होगा।

ये भी देखें:शिव’राज’ के शिक्षा मंत्री बोले- मदरसों में रोज फहराएं तिरंगा, गाएं राष्ट्रगान

टीमें : विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, लोकेश राहुल, मनीष पांडे, केदार जाधव, अजिंक्य रहाणे, महेंद्र सिंह धौनी (विकेटकीपर), हार्दिक पांड्या, रवींद्र जडेजा, कुलदीप यादव, युजवेंद्र चहल, जसप्रीत बुमराह, भुवनेश्वर कुमार, उमेश यादव, मोहम्मद शमी।

आस्ट्रेलिया : स्टीव स्मिथ (कप्तान), एश्टन अगर, हिल्टन कार्टराइट, नाथन कल्टर नाइल, ग्लैन मैक्सवेल, जेम्स फॉल्कनर, मैथ्यू वेड (विकेटकीपर), पैट कमिंस, ट्रेविस हेड, मार्कस स्टोइनिस, एडम जाम्पा, केन रिचर्डसन, पीटर हैंड्सकॉम्ब, एरॉन फिंच।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story