IPL-9: वोहरा-मुरली ने दिला दी विजय, KXIP ने RPS को छह विकेट से रौंदा

Published by Admin Published: April 17, 2016 | 6:33 pm
Modified: April 17, 2016 | 7:36 pm

मोहाली: आईपीएल के नौवे सीजन में किंग्स इलेवन पंजाब को आखिरकार अपनी पहली जीत मिल ही गई। रविवार को अपने होम ग्राउंड में KXIP ने राइसिंग पुणे सुपरजाइंट्स को छह विकेट से रौंदकर यह जीत हासिल की। RPS द्वारा मिले 153 रनों के लक्ष्य को KXIP ने आठ गेंदें गेंदे शेष रहते ही चार विकेट्स खोकर हासिल कर लिया। इसके पहले टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए RPS ने साथ विकेट खोकर 152 रन बनाए थे।

KXIP की पारी
153 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी KXIP के सलामी बल्लेबाजों ने टीम को बेहतरीन शुरुआत दी। मनन वोहरा और मुरली विजय ने मिलकर पहले विकेट के लिए 97 रनों की नायाब साझेदारी की और टीम को जीत के करीब पहुंचा दिया।

टीम का पहला विकेट 13वें ओवर में मनन वोहरा के रूप में गिरा जिन्हें अंकित शर्मा ने एलबीडब्ल्यू आउट कर वापस भेजा। मनन वोहरा ने 33 गेंदों में 51 रनों की तेज पारी खेली।

अभी टीम के स्कोर में पांच रनों का ही इजाफा हुआ था कि शान मार्श (4) ने भी अपना विकेट गंवा दिया। उनका विकेट मुरुगन अश्विन के खाते में गया जिन्होंने उन्हें बोल्ड आउट किया।

इसी ओवर में मुरुगन ने मुरली विजय की पारी भी समाप्त कर दी। मुरली विजय ने 49 गेंदों में पांच चौकों और दो छक्कों की मदद से 53 रन बनाए। इस समय टीम को 30 गेंदों में 41 रनों की जरूरत थी।

अब बल्लेबाजी का भार कप्तान डेविड मिलर और विस्फोटक बल्लेबाज ग्लेन मैक्सवेल के कंधों पर था। लेकिन मिलर इस भार को संभाल न सके और मुरुगन अश्विन द्वारा फेंके 17वें ओवर में पीटरसन को कैच थमा बैठे।  उन्होंने सात रन बनाए।

उनके आउट होने पर रिद्धिमान साहा मैदान पर आए। इसी ओवर की आखिरी दो गेंदों में क्रमशः एक छक्का और एक चौका लगाकर टीम की जीत लगभग सुनिश्चित कर दी। अब टीम को जीत के लिए 18 गेंदों में 22 रन की जरूरत थी जबकि उसके हाथ में अभी भी आठ विकेट थे।

18वां ओवर रविचंद्रन अश्विन को सौंपा गया। इस ओवर में भी मैक्सवेल ने जमकर हमला बोला और एक चौके और एक छक्के की मदद से 13 रन बटोर लिए। अब टीम को जीत के लिए 12 गेंदों में नौ रन की जरूरत थी।

थिसारा परेरा द्वरा फेंके जा रहे 19वें ओवर की शुरूआती तीन गेंदों में दोनों बल्लेबाजों में दौड़कर पांच रन बटोरे। चौथी गेंद पर मैक्सवेल ने चौका जड़कर टीम को पहली जीत दिलाई।

RPS की ओर से तीन विकेट मुरुगन अश्विन और एक विकेट अंकित शर्मा ने हासिल किया

RPS की पारी
पहले बल्लेबाजी करने उतरी RPS की शुरुआत अच्छी नहीं रही और तीसरे ही ओवर में सलामी बल्लेबाज आजिंक्य रहाणे (9) को पवेलियन लौटना पड़ा। उन्हें संदीप शर्मा ने क्लीन बोल्ड आउट किया।

इसके बाद बल्लेबाजी करने उतरे केविन पीटरसन ने दूसरे ओपनर फाक डुप्लेसिस का अच्छा साथ दिया और टीम के स्कोर को 50 के पार पहुंचा दिया। इन दोनों खिलाड़ियों के बीच दूसरे विकट के लिए 55 रनों की साझेदारी हुई।

हालांकि पीटरसन इस साझेदारी को बहुत आगे तक नहीं ले जा सके और आठवें ओवर में 65 के कुल योग पर काइल अबोट का शिकार हो गए। उन्होंने 15 रनों की छोटी सी पारी खेली।

अभी टीम के स्कोर में मात्र 11 रनों का ही इजाफा हुआ था कि बल्लेबाजी के लिए उतरे थिसारा परेरा भी आउट हो गए। इनका विकेट 11वां ओवर करा रहे सदीप शर्मा ने हासिल किया।

इसके बाद बल्लेबाजी करने उतरे स्टीवन स्मिथ फॉर्म में नजर आएं। उन्होंने डुप्लेसिस का अच्छा साथ देते हुए 63 रनों की साझेदारी की। स्मिथ का विकेट 18वें ओवर में मोहित शर्मा ने हासिल किया। उन्होंने 26 गेंदों में पांच चौकों की मदद से 38 रन बनाए।

20वें ओवर में डुप्लेसिस की पारी का भी अंत हो गया। उन्होंने 53 गेंदों में आठ चौकों की मदद से 67 रनों की जुझारू पारी खेली। उनका विकेट मोहित शर्मा को हासिल हुआ ।

आखिरी ओवर के विशेषज्ञ माने जाने वाले कप्तान धोनी भी कुछ ख़ास न कर रहे और अगली ही गेंद पर मैक्सवेल को कैच दे बैठे। उन्होंने मात्र एक रन बनाया।

टीम का अगला विकेट ओवर की आखिरी गेंद पर इरफ़ान पठान के रूप में गिरा जो रन आउट हो गए।       

KXIP की ओर से मोहित शर्मा सबसे सफल गेंदबाज रहें जिन्होंने तीन विकेट हासिल किया। इसके अलावा संदीप शर्मा को दो और काइल अबोट को एक विकेट मिला।