Top

IPL Auction 2019 : जानिए अभी तक बाजार में कौन बिका कौन बचा

आपको बता दें, नीलामी में 346 खिलाड़ियों की बोली लग रही है, इनमें से 226 इंडिया के और 70 विदेशी खिलाड़ी हैं। 9 विदेशी खिलाड़ियों ने 2 करोड़ रुपये के बेस प्राइस वाली लिस्ट में नामांकन कराया है, इंडियन गेंदबाज जयदेव उनाडकट 1.5 करोड़ की बेस प्राइस वाली लिस्ट में हैं।

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 18 Dec 2018 7:49 AM GMT

IPL Auction 2019 : जानिए अभी तक बाजार में कौन बिका कौन बचा
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

जयपुर : आईपीएल के सीजन-12 के लिए क्रिकेट खिलाड़ियों की नीलामी जयपुर में चल रही है। अभीतक हनुमा विहारी (2 करोड़) शिमरॉन हेटमायर (4.2 करोड़) कार्लोस ब्रैथवेट (5 करोड़) गुरकीरत सिंह (50 लाख) मोजिज हेनरीकेस (1 करोड़) अक्षर पटेल (5 करोड़) जॉनी बेयरस्टो (2.2 करोड़) निकोलस पूरन (4.2 करोड़ रुपये) ऋद्धिमान साहा (1.2 करोड़) बिके।

आपको बता दें, नीलामी में 346 खिलाड़ियों की बोली लग रही है, इनमें से 226 इंडिया के और 70 विदेशी खिलाड़ी हैं। 9 विदेशी खिलाड़ियों ने 2 करोड़ रुपये के बेस प्राइस वाली लिस्ट में नामांकन कराया है, इंडियन गेंदबाज जयदेव उनाडकट 1.5 करोड़ की बेस प्राइस वाली लिस्ट में हैं।

ये भी देखें : आईपीएल : राजस्थान रॉयल्स ने शेन वार्न को बनाया मेंटॉर, बोले- थैंक्स

इनपर रहेगी नजर

शिमरोन हेटमायर के लिए सभी फ्रेंचाइजी जोर लगाएंगी। वहीं जयदेव उनाडकट पर राजस्थान रॉयल्स भरोसा दिखा सकती है। युवराज सिंह पर सीएसके दांव लगा सकती है।

ये भी देखें : आईपीएल नीलामी में रूट, स्टोक्स, गेल पर होंगी सभी की निगाहें

इंग्लैंड के ऑलराउंडर खिलाड़ी सैम करन के साथ दक्षिण अफ्रीकी खिलाड़ी मॉर्ने मोर्केल न्यूजीलैंड के बल्लेबाज ब्रेंडन मैकुलम पर भी बड़ी बोली लग सकती है।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story