Top

डर के आगे जीत है: चैंपियंस ट्रॉफी में अनचाहे रिकॉर्ड बनाने से घबरा रहे हैं बटलर और ब्रॉड

रिकॉर्ड बनाना सबको अच्छा लगता है। कुछ रिकॉर्ड ऐसे होते हैं, जिनके पीछे खिलाड़ी भागते हैं और कुछ ऐसे होते हैं, जिनसे खिलाड़ी दूर भागते हैं।

tiwarishalini

tiwarishaliniBy tiwarishalini

Published on 30 May 2017 10:27 AM GMT

डर के आगे जीत है: चैंपियंस ट्रॉफी में अनचाहे रिकॉर्ड बनाने से घबरा रहे हैं बटलर और ब्रॉड
X
जानिए चैंपियंस ट्रॉफी में अनचाहे रिकॉर्ड क्यों बचना चाहेंगे बटलर और ब्रॉड
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

जानिए चैंपियंस ट्रॉफी में अनचाहे रिकॉर्ड क्यों बचना चाहेंगे बटलर और ब्रॉड

लंदन: रिकॉर्ड बनाना सबको अच्छा लगता है। कुछ रिकॉर्ड ऐसे होते हैं, जिनके पीछे खिलाड़ी भागते हैं और कुछ ऐसे होते हैं, जिनसे खिलाड़ी दूर भागते हैं। किसी भी बल्लेबाज के लिए किसी टूर्नामेंट में सबसे अधिक बार शून्य पर आउट होना एक ऐसा रिकॉर्ड है, जिसे कोई खिलाड़ी अपने नाम नहीं करना चाहेगा लेकिन कभी-कभी रिकॉर्ड बनाए नहीं जाते बन जाते हैं।

यह भी पढ़ें ... Champions Trophy: सामने है संगाकारा की चुनौती, क्या सबसे सफल विकेटकीपर बनेंगे धोनी?

चैंपियंस ट्रॉफी की बात की जाए तो इस प्रतिष्ठित आयोजन में सबसे अधिक बार शून्य पर आउट होने का रिकॉर्ड ऑस्ट्रेलिया के शेन वॉटसन के नाम है। वॉटसन 17 मैचों में चार बार शून्य पर आउट हुए हैं। उनके नाम हालांकि दो शतक और दो अर्धशतक भी हैं।

यह भी पढ़ें ... चैंपियंस ट्रॉफी में एक बार फिर चमक बिखेरना चाहेगा टीम इंडिया का ‘गब्बर’

अब वॉटसन जैसा बल्लेबाज कभी भी नहीं चाहेगा कि वह शून्य पर आउट हो और उसका नाम किसी टूर्नामेंट में सबसे अधिक बार शून्य पर आउट होने वाले बल्लेबाजों की सूची में दर्ज हो लेकिन यह एक ऐसा रिकॉर्ड है जो न चाहते हुए भी बन जाता है।

जानिए चैंपियंस ट्रॉफी में अनचाहे रिकॉर्ड क्यों बचना चाहेंगे बटलर और ब्रॉड

वॉटसन के बाद बांग्लादेश के हबीबुल बशर, न्यूजीलैंड के नेथन एस्टल, पाकिस्तान के शोएब मलिक, श्रीलंका के सनथ जयसूर्या तीन-तीन मौकों पर शून्य पर आउट हुए हैं। इसके अलावा कई खिलाड़ी ऐसे हैं, जो दो बार इस टूर्नामेंट में बिना कोई स्कोर बनाए विदा हुए हैं।

यह भी पढ़ें ... ये रही चैंपियंस ट्रॉफी में खेलने वाली आठों टीम की पूरी प्लेयर लिस्ट, परखो दम !

इस साल चैंपियंस ट्रॉफी में जितने भी खिलाड़ी खेल रहे हैं, उनमें से इंग्लैंड के जोस बटलर और स्टुअर्ट ब्रॉड अब तक दो-दो बार शून्य पर आउट हो चुके हैं। बटलर ने पांच मैच खेले हैं जबकि ब्रॉड ने आठ मैच खेले हैं।इंग्लैंड की टीम इस साल चैंपियंस ट्रॉफी में खेल रही है और ऐसे में बटलर और ब्रॉड की कोशिश खुद को इस अनचाहे रिकार्ड से बचाने की होगी।

यह भी पढ़ें ... हल्के में मत लेना बांग्लादेश को, ‘कोरबो लोड़बो जीतबो रे’ का मंतर मार, आ रहे हैं

मजेदार बात यह है कि इंडियंस बैट्समैन के लिए यह टूर्नामेंट काफी अच्छा रहा है। अब तक सिर्फ दिनेश मोंगिया (2) ही इस टूर्नामेंट में एक या उससे अधिक बार शून्य पर आउट हुए हैं, लेकिन कुछ इंडियंस बैट्समैन ऐसे भी हैं, जो इस साल इस फेरहिस्त में ऊपर आने से खुद को बचाने के लिए प्रयास करते नजर आएंगे।

यह भी पढ़ें ... Champions Trophy 2017: पाकिस्तान टीम में अकमल की जगह लेंगे सोहेल

बता दें, कि चैंपियंस ट्रॉफी का आगाज 1 जून को इंग्लैंड में होगा। डिफेंडिंग चैंपियन भारत का पहला मैच 4 जून को पाकिस्तान से होगा। सेमीफाइनल मुकाबले 14 और 15 जून को, फाइनल 18 जून को खेला जाएगा। इस टूर्नामेंट में 10 टीमें हिस्सा ले रही हैं। ग्रुप A में ऑस्ट्रेलिया, बांग्लादेश, मेजबान इंग्लैंड और न्यूजीलैंड हैं। वहीं, भारत ग्रुप B में पाकिस्तान, साउथ अफ्रीका और श्रीलंका है।’

--आईएएनएस

tiwarishalini

tiwarishalini

Excellent communication and writing skills on various topics. Presently working as Sub-editor at newstrack.com. Ability to work in team and as well as individual.

Next Story