Top

Khelo India Youth Games 2019 : जसपाल राणा की बेटी देवांशी ने जीता स्वर्ण पदक, मेहुली और मनीषा ने झटका पदक

भारत के पूर्व दिग्गज निशानेबाज और मौजूदा समय में राष्ट्रीय जूनियर पिस्टल टीम के कोच जसपाल राणा की बेटी देवांशी ने यहां जारी खेलो इंडिया यूथ गेम्स-2019 में रविवार को जूनियर यू-21 वर्ग में महिलाओं की 25 मीटर पिस्टल स्पर्धा में स्वर्ण पदक हासिल कर लिया।

Anoop Ojha

Anoop OjhaBy Anoop Ojha

Published on 14 Jan 2019 10:36 AM GMT

Khelo India Youth Games 2019 : जसपाल राणा की बेटी देवांशी ने जीता स्वर्ण पदक, मेहुली और मनीषा ने झटका पदक
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

पुणे: भारत के पूर्व दिग्गज निशानेबाज और मौजूदा समय में राष्ट्रीय जूनियर पिस्टल टीम के कोच जसपाल राणा की बेटी देवांशी ने यहां जारी खेलो इंडिया यूथ गेम्स-2019 में रविवार को जूनियर यू-21 वर्ग में महिलाओं की 25 मीटर पिस्टल स्पर्धा में स्वर्ण पदक हासिल कर लिया।

यह भी पढ़ें.....खेलो इंडिया: 10 साल के शूटर अभिनव ने जीता गोल्ड मेडल, बने सबसे कम उम्र के चैंपियन

देवांशी ने हरियाणा की अंजलि चौधरी की चुनौती को पार करते हुए सोने पर निशाना लगाया।मध्य प्रदेश की मनीषा कीर ने अनवर हसन खान के साथ मिलकर मिश्रित ट्रैप स्पर्धा का स्वर्ण पदक अपने नाम किया। मनीषा ने शनिवार को महिलाओं की अंडर-21 स्पर्धा में सोना का तमगा हासिल किया था।

यह भी पढ़ें....मोदी ने किया खेलो इंडिया स्कूल गेम्स का शुभारंभ, एक हजार खिलाड़ियों पांच लाख की मदद

इस स्पर्धा के फाइनल में मनू भाकेर और मुस्कान(दोनों हरियाणा) की निशानेबाज शामिल थीं। दिल्ली की देवांशी ने अंजलि के खिलाफ खिताबी जंग में 24-23 के अंतर से जीत हासिल की। बहरहाल, पश्चिम बंगाल की मेहुली घोष इन खेलो में दो स्वर्ण पदक जीतने वाली पहली खिलाड़ी बन गईं।

यह भी पढ़ें......खेल मंत्री राठौर के नए ‘खेलो इंडिया’ में खर्च होंगे 1,756 करोड़

मेहुली ने 10 साल के अभिनव शॉ के साथ मिलकर 10 मीटर एअर राइफल मिश्रित टीम स्पर्धा में पहला स्थान हासिल किया। शनिवार को व्यक्तिगत स्वर्धा में स्वर्ण जीतने के बाद आराम की मुद्रा में चुकीं मेहुली ने हालांकि अच्छा प्रदर्शन किया और हर मौके पर 10 पर निशाना लगाया और गुजरात की शूटर इलावेलीन वालारिवान को एक बार फिर दोयम साबित किया।

Anoop Ojha

Anoop Ojha

Excellent communication and writing skills on various topics. Presently working as Sub-editor at newstrack.com. Ability to work in team and as well as individual.

Next Story