Top

बैडमिंटन : सिडनी में खिताब के लिए श्रीकांत को 'चीन की दीवार' करनी है पार

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 24 Jun 2017 11:53 AM GMT

बैडमिंटन : सिडनी में खिताब के लिए श्रीकांत को चीन की दीवार करनी है पार
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

सिडनी : आस्ट्रेलिया ओपन सुपर सीरीज बैडमिंटन टूर्नामेंट के फाइनल में भारतीय खिलाड़ी किदांबी श्रीकांत का सामना अपने पुराने प्रतिद्वंद्वी चीन के चेन लोंग से होगा। श्रीकांत और इस दिग्गज चीनी खिलाड़ी के बीच अब तक पांच मैच खेले जा चुके हैं और इनमें लोंग का पलड़ा ही भारी रहा है। श्रीकांत एक बार फिर लोंग के खिलाफ जीत नहीं हासिल कर सके हैं।

दोनों के बीच पहली भिड़ंत 28 अगस्त, 2014 में विश्व चैम्पियनशिप में हुई थी। इसमें लोंग ने श्रीकांत को 21-12, 21-10 से मात दी थी।

इसके बाद, 2014 में ही दोनों हांगकांग ओपन और दुबई वर्ल्ड सुपर सीरीज में एक दूसरे के आमने-सामने आए थे। इन दोनों टूर्नामेंटों में भी भारतीय खिलाड़ी को निराशा हाथ लगी थी।

इसके बाद तीन साल तक दोनों एक दूसरे के सामने नहीं हुए लेकिन इस साल जर्मन ओपन और सुदिरमन कप में श्रीकांत का सामना एक बार फिर चीनी खिलाड़ी से हुआ और उन्हें एक बार फिर खाली हाथ लौटना पड़ा।

सिंगापुर ओपन के फाइनल में पहुंचने वाले और इंडोनेशिया ओपन का खिताब जीतने वाले श्रीकांत अब सिडनी में खिताबी जीत से एक कदम दूर हैं लेकिन लोंग के रूप में उनके सामने चीन की दीवार है।

श्रीकांत अगर इस बाधा को पार कर लेते हैं, तो वह न केवल लोंग के खिलाफ अपना खाता खोलेंगे बल्कि लगातार दो सुपर सीरीज खिताब जीतने वाले पहले भारतीय पुरुष खिलाड़ी बन जाएंगे।

श्रीकांत वर्तमान में अच्छी फॉर्म में चल रहे हैं। उन्होंने शीर्ष विश्व वरीयता प्राप्त सोन वान हो और चौथी विश्व वरीयता प्राप्त शी युकी को मात देते हुए आस्ट्रेलिया ओपन टूर्नामेंट के खिताबी मैच तक का रास्ता तय किया है। ऐसे में वह इस खिताब के प्रबल दावेदार हैं।

लोंग और श्रीकांत के बीच आस्ट्रेलिया ओपन का फाइनल मैच रविवार को खेला जाएगा।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story