Top

चैम्पियंस ट्रॉफी : लंदन हमले में मारे गए लोगों को श्रद्धांजलि, आतंक के खिलाफ एकजुटता

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 6 Jun 2017 10:52 AM GMT

चैम्पियंस ट्रॉफी : लंदन हमले में मारे गए लोगों को श्रद्धांजलि, आतंक के खिलाफ एकजुटता
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लंदन : लंदन में हुए आतंकवादी हमले में मारे गए लोगों को चैम्पियंस ट्रॉफी टूर्नामेंट में मंगलवार को न्यूजीलैंड और इंग्लैंड की टीमों के बीच खेले जा रहे मैच के दौरान एक मिनट का मौन रखकर श्रद्धांजलि दी गई। न्यूजीलैंड और इंग्लैंड के बीच सातवें ओवर का मैच चल रहा था, जब अंपायरों ने मैच को बीच में रोककर सभी से एक मिनट का मौन रख लंदन हमलों के पीड़ितों को श्रद्धांजलि देने के लिए कहा।

दोनों टीमों के खिलाड़ियों सहित स्टेडियम में मौजूद दर्शकों ने अपनी सीटों से खड़े होकर एक मिनट का मौन रख घटना में मारे गए लोगों को श्रद्धांजलि दी।

ये भी देखें : आतंकी हमलों को देखते हुए लंदन में टीम इंडिया की सुरक्षा बढ़ाई गई

पिछले सप्ताह शनिवार को दो अलग-अलग जगहों पर आतंकवादी हमले हुए थे, जिसमें सात लोगों की मौत हो गई और 48 लोग घायल हो गए।

इसमें एक हमला लंदन ब्रिज पर हुआ, जहां एक वैन ने कई लोगों को कुचल दिया। यह वैन लोगों को कुचलते हुए बोर बाजार की तरफ बढ़ी, जहां वैन से तीन लोग उतरे और उन्होंने रेस्तरां में लोगों पर चाकू से हमला करना शुरू कर दिया।

आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएस) ने लंदन में हुए हमलों की जिम्मेदारी ली है। आईएस के आतंकियों ने लंदन ब्रिज पर लोगों को वाहन से कुचला और बाद में चाकू से पैदल यात्रियों पर हमले किए, जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने हमलावरों को मार गिराया।

इस मामले पर ब्रिटेन की पुलिस का कहना है कि हमले के बाद अभी तक 12 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story