Top

पूर्व बिलियर्ड्स चैंपियन माइकल फरेरा गिरफ्तार, 400 करोड़ के घोटाले में आया था नाम

aman

By aman

Published on 19 Oct 2016 11:40 AM GMT

पूर्व बिलियर्ड्स चैंपियन माइकल फरेरा गिरफ्तार, 400 करोड़ के घोटाले में आया था नाम
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: पूर्व बिलियर्ड्स चैंपियन माइकल फरेरा (78 साल) को 400 करोड़ के घोटाले के एक मामले में गिरफ्तार कर लिया गया है। हैदराबाद के कोर्ट ने केस की जांच को भी बंद करने के आदेश दिए हैं। गौरतलब है कि फरेरा ने पिछले महीने मुंबई पुलिस के सामने सरेंडर किया था। उससे पहले तक वह कोर्ट से सुरक्षा की मांग कर रहे थे लेकिन कोर्ट ने मना कर दिया था।

फर्जी स्कीम से 5 लाख लोगों को लगाया चूना

हैदराबाद पुलिस ने उन्हें और उनके तीन साथियों को गिरफ्तार किया। फरेरा और बाकी तीनों लोग 'क्यूनेट' नाम की एक कंपनी से जुड़े थे। वह कंपनी एक फर्जी स्कीम चलाया करती थी। जिसमें लोगों को 30 हजार से 7.5 लाख रुपए के बीच में निवेश करने के लिए कहा जाता है। इस फर्जी स्कीम में 5 लाख लोगों को चूना लगा था।

ये भी पढ़ें ...राशन कार्ड के कवर पर अखिलेश केे फोटो से बवाल, CM ने कहा-काम किया है प्रचार करूंगा

फरेरा को 1983 में मिला था पदम पुरस्कार

कंपनी पर आरोप था कि वह सारे पैसे देश के बाहर भेज देती थी। कंपनी के खिलाफ कुछ निवेशकर्ताओं ने ही शिकायत दर्ज करवाई थी। क्यूनेट कंपनी के चार कर्मचारियों को पिछले महीने भी पकड़ा गया था। अब बात माइकल फरेरा तक जा पहुंची है। माइकल फरेरा को 1983 में पदम भूषण से भी सम्मानित किया जा चुका है।

ये भी पढ़ें ...पाक के एक रेस्तरां में लगा PM मोदी का पोस्टर, जूता मारने वाले को मिलता है मुफ्त कोल्ड ड्रिंक

अब तक 19 की हो चुकी है गिरफ्तारी

मुंबई पुलिस की इकनॉमिक ओफेंस विंग इस मामले में अब तक 19 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है। क्यूनेट और उसकी फ्रेंचाइजी पर आरोप है कि वह लोगों को 'मेग्नेटिक डिस्क' बेचती थी। उसके साथ कुछ दवाईयां, हर्बल दवाईयां और हॉलिडे स्कीम भी दी जाती थीं।

aman

aman

अमन कुमार, सात सालों से पत्रकारिता कर रहे हैं। New Delhi Ymca में जर्नलिज्म की पढ़ाई के दौरान ही ये 'कृषि जागरण' पत्रिका से जुड़े। इस दौरान इनके कई लेख राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीय और कृषि से जुड़े मुद्दों पर छप चुके हैं। बाद में ये आकाशवाणी दिल्ली से जुड़े। इस दौरान ये फीचर यूनिट का हिस्सा बने और कई रेडियो फीचर पर टीम वर्क किया। फिर इन्होंने नई पारी की शुरुआत 'इंडिया न्यूज़' ग्रुप से की। यहां इन्होंने दैनिक समाचार पत्र 'आज समाज' के लिए हरियाणा, दिल्ली और जनरल डेस्क पर काम किया। इस दौरान इनके कई व्यंग्यात्मक लेख संपादकीय पन्ने पर छपते रहे। करीब दो सालों से वेब पोर्टल से जुड़े हैं।

Next Story