Top

राष्ट्रीय खेल दिवस: खेल के जादूगर एक महान खिलाड़ी से प्रेरणा लेने का दिन

भारत में इस उत्सव के लिए 29 अगस्त की तारीख निश्चित है। खेल दिवस के रूप में यह तारीख देश के सर्वकालिक महान खिलाड़ी और हॉकी जादूगर मेजर ध्यानचंद की जन्मतिथि पर उन्हें सम्मान देने के लिए चुना गया है। भारत सरकार ने 2012 में इस तिथि को राष्ट्रीय खेल दिवस के रूप में मनाने का ऐलान किया था।

zafar

zafarBy zafar

Published on 28 Aug 2016 7:50 AM GMT

राष्ट्रीय खेल दिवस: खेल के जादूगर एक महान खिलाड़ी से प्रेरणा लेने का दिन
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: शुक्रवार को सारा देश 'राष्ट्रीय खेल दिवस' मना रहा है। यूं तो दुनिया भर में हर देश, किसी न किसी रूप में, वर्ष में किसी एक दिन खेलों को पर्व के रूप में मनाता है, लेकिन भारत में इस उत्सव के लिए 29 अगस्त की तारीख निश्चित है। खेल दिवस के रूप में यह तारीख देश के सर्वकालिक महान खिलाड़ी और हॉकी जादूगर मेजर ध्यानचंद की जन्मतिथि पर उन्हें सम्मान देने के लिए चुना गया है। भारत सरकार ने 2012 में इस तिथि को राष्ट्रीय खेल दिवस के रूप में मनाने का ऐलान किया था।

national sports day-healthy life style

खेलों को समर्पित एक दिन

राष्ट्रीय खेल दिवस के अवसर पर देश भर में स्कूल, कॉलेज और विश्वविद्यालयों के अलावा सरकारी-गैरसरकारी परिसरों विशेष रूप से औद्योगिक संस्थानों में खेलों के आयोजन किए जाते हैं। दिल्ली के ध्यानचंद नेशनल स्टेडियम में विभिन्न हॉकी टीमों के बीच मैत्री प्रतियोगिताएं उल्लेखनीय हैं। इस मौके पर खिलाड़ियों और खेलों से जुड़ी महान हस्तियों को पुरस्कार और सम्मान दिए जाते हैं। इनमें अर्जुन पुरस्कार और राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार जैसे प्रतिष्ठित पुरस्कार शामिल हैं।

राष्ट्रीय खेल दिवस का आयोजन देश में खेलों को बढ़ावा देने और सवास्थ्य के प्रति जागरूकता के लिए किया जाता है। देश भर में होने वाले आयोजनों में खेलों से जुड़ी देश की विभिन्न संस्थाएं अपना योगदान देती हैं। इसमें फेडरेशन ऑफ इंडियन चैंबर्स ऑफ कॉमर्स ऐंड इंडस्ट्रीज की महत्वपूर्ण भूमिका रही है। शिक्षण संस्थाओं और औद्योगिक घरानों को प्रेरित किया जाता है कि राष्ट्रीय खेल दिवस पर वे किसी भी खेल या शारीरिक गतिविधि का आयोजन जरूर करें।

national sports day-healthy life style

अंतरराष्ट्रीय खेल दिवस

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी खेलों के लिए विशेष दिन सुनिश्चित किए गए हैं। संयुक्त राष्ट्र ने 23 अगस्त 2013 को अंतरराष्ट्रीय खेल दिवस के लिए 6 अप्रैल की तारीख निश्चित कर दी। 1896 में इसी तारीख को एथेंस में आधुनिक ओलंपिक खेलों की शुरुआत हुई थी। संयुक्त राष्ट्र की इस पहल का उद्देश्य विश्व भर में सांस्कृतिक सीमाओं को पार करके एक दूसरे के करीब लाना और शांति के प्रयासों को बढ़ावा देना है। संयुक्त राष्ट्र ने अपने इस आयोजन से स्वास्थ्य मुहिम को जोड़ा है। अंतरराष्ट्रीय खेल दिवस के इस आयोजन का उद्देश्य अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति के इस अभियान में सहयोग देना भी है कि खेलों तक अधिक से अधिक लोगों की पहुंच बन सके। दोनों ही संस्थाएं ओलंपिक और अन्य खेल आयोजन करके पूरे विश्व के बीच सांस्कृतिक पुल के रूप में काम करते रहे हैं और सामाजिक-आर्थिक विकास, शिक्षा और स्वास्थ्य के लिए खेलों का इस्तेमाल करते रहे हैं। अंतरराष्ट्रीय खेल दिवस पर विश्व की नामचीन खेल हस्तियां एक साथ जुड़ती हैं और अलग अलग समुदायों के बीच से खेल प्रतिभाओं को चुनती हैं, खास कर बच्चों के लिए आवश्यक सुविधाओं की पहल करती हैं।

national sports day-healthy life style

विश्व में खेल दिवस

दुनिया भर के अलग अलग देशों में साल का एक दिन राष्ट्रीय खेल दिवस के रूप में समर्पित है। जापान में यह दिन स्वास्थ्य और खेल दिवस के रूप में आयोजित होता है। इस दिन को जापानी में उनडोकाय कहते हैं। यह खेल दिवस शरद ऋतु या वसंत के मौसम में शनिवार या रविवार को मनाया जाता है। जापानियों के लिए यह दिन उत्सव जैसा होता है। स्कूलों में परिवार और मित्रों की मौजूदगी में पूरा आयोजन पारिवारिक उत्सव जैसा लगता है। अमेरिका में नेशनल गर्ल्स ऐंड वीमेन इन स्पोर्ट्स डे नाम की संस्था तो महिलाओं को विशेष रूप से खेलों में आगे बढ़ाने के लिए काम कर रही है। इसका उद्देश्य महिलाओं को शारीरिक गतिविधियों में भागीदार बन कर स्कूल, घर और समाज में आत्मविश्वास से आगे बढ़ सकें। 1987 में शुरू हुई यह यात्रा अब तक कई उपलब्धियां हासिल कर चुकी है। संयुक्त अरब अमीरात के देश कतर में तो खेल दिवस पर राष्ट्रीय अवकाश होता है। इसके लिए फरवरी का दूसरा मंगलवार तय है। इस आयोजन का फोकस स्वास्थ जीवनशैली के प्रति लोगों को आकर्षित करना है। मलयेशिया में इस आयोजन को हरि सुकान नेगारा कहते हैं। इसका आयोजन अक्टूबर के दूसरे शनिवार को होता है। और इन सभी देशों का मकसद एक ही है- स्वस्थ जीवनशैली।

(Photo courtesy: proxysports,en.wikipedia,tribune.com & examiner.co)

zafar

zafar

Next Story