Top

'सिंह सिस्टर' को मिला पद्मश्री पुरस्कार, पीएम ने दी बधाई, जानिए इनके बारे में

यहां बता दें कि प्रशान्ती 2017 में क्रिकेट खिलाड़ी ईशान्त शर्मा से शादी करने के बाद से दिल्ली में रह रही है। इनके माता-पिता विगत कुछ समय से वाराणसी जनपद में रह रहे है लेकिन जिला एवं गांव से नाता पूरी तरह से बना हुआ है।

Shivakant Shukla

Shivakant ShuklaBy Shivakant Shukla

Published on 1 Feb 2019 2:13 PM GMT

सिंह सिस्टर को मिला पद्मश्री पुरस्कार, पीएम ने दी बधाई, जानिए इनके बारे में
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

जौनपुर: यहां के अहमदपुर गांव की मूल निवासी जौनपुर की बेटी बास्केटबॉल खिलाड़ी प्रशान्ती सिंह ने विगत 26 जनवरी 19 पद्मश्री पुरस्कार प्राप्त कर एक बार फिर जनपद का सर गौरव से ऊंचा किया है ।

इस पुरस्कार को प्राप्त करने पर पूर्वांचल विश्वविद्यालय ग्रामोदय समिति के समन्वयक शील निधि सिंह ने बधाई दी साथ ही प्रधानमंत्री ने ट्वीट कर बधाई दी है। पद्मश्री पुरस्कार पाने वाली जौनपुर की बेटी बास्केटबॉल खिलाड़ी प्रशांति सिंह ने इस पुरस्कार को परिवार और मीडिया को मै समर्पित करते हूए कहा कि परिवार और मीडिया ने मेरा साथ हर कदम पर दिया है।

ये भी पढ़ें—#Budget2019: सरकार ने की सबको लुभाने की कोशिश, जानें किसको क्या मिला?

मालूम हो कि प्रशांति देश की पहली बास्केटबॉल महिला खिलाड़ी है जिन्हे पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित किया गया है। इससे पहले उन्हें 2017 में भारत सरकार के युवा मामले और खेल मंत्रालय द्वारा अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित किया जा चुका है, उन्हें उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा खेल के क्षेत्र में प्रतिष्ठित रानी लक्ष्मी बाई बहादुरी पुरस्कार 2016-17 से भी सम्मानित किया गया है।

सिंह सिस्टर्स के नाम से बास्केटबॉल की दुनिया मे मशहूर है ये चारो सगी बहने ( दिव्या सिंह, प्रशांति सिंह, आकांक्षा सिंह व प्रतिमा सिंह चारो अंतरराष्ट्रीय बास्केटबॉल खिलाड़ी है) इन बहनो को बाहर की दुनिया मे लाने वाली प्रियंका सिंह इन दिनो दक्षिण कोरिया में बास्केटबॉल कोच है, मां उर्मिला सिंह ने इन बहनो की लगन देखकर उनको हर कदम पर प्रोत्साहित किया, भाई विक्रांत सिहं फुटबाल का जाना-माना खिलाड़ी है।

ये भी पढ़ें—BUDGET: रेलवे को 65 हजार करोड़ का आवंटन, बजट में जानिए और क्या मिला

प्रशांति सिंह पुत्री गौरीशंकर सिंह ग्राम व पोस्ट अहमदपुर थाना जफराबाद जिला जौनपुर की रहने वाली है एवं ननिहाल नारायणपुर डोभी क्षेत्र है। एवं इसके साथ ही सिंह सिस्टर्स ने पूर्वांचल विश्वविद्यालय ग्रामोदय समिति के कार्यो की प्रशंसा कीं। समन्वयक शील निधि सिंह ने बोला कि ग्रामीण क्षेत्र की बेटीयो को आगे आकर अपने जज्बे को दिखाने की आवश्यकता है एवं इसी तरह अपने गांव परिवार का नाम रोशन करें चाहे जिस क्षेत्र मे ( संगीत, खेल अन्य) उनकी रुचि हो वो अपने जज्बे को दिखाने के लिए आगे आए।

यहां बता दें कि प्रशान्ती 2017 में क्रिकेट खिलाड़ी ईशान्त शर्मा से शादी करने के बाद से दिल्ली में रह रही है। इनके माता-पिता विगत कुछ समय से वाराणसी जनपद में रह रहे है लेकिन जिला एवं गांव से नाता पूरी तरह से बना हुआ है।

ये भी पढ़ें— BUDGET: राहुल का मोदी सरकार पर हमला, कहा- रोज 17 रुपये देना किसानों का अपमान

Shivakant Shukla

Shivakant Shukla

Next Story