Top

अंतरराष्ट्रीय ताइक्वांडो चैंपियनशिप में प्रियंका चौहान ने जीते 2 गोल्ड

लखनऊ से टायक्वोंडो फेडरेशन ऑफ इंडिया की 7 सदस्यीय टीम में प्रियंका अकेली महिला खिलाड़ी थी। इस टीम द्वारा कुल 6 स्वर्ण, 1 रजत तथा 1 कांस्य पदक पर अपना कब्जा जमाया। प्रियंका ने अपने प्रतिद्वंदियों को 3 राउंड में नॉकआउट किया और पॉइंट कमाने का एक भी मौका नहीं गंवाया। प्रियंका चौहान टायक्वोंडो की पूमसे और किरोगी प्रतिस्पर्धाओं के लिए चयनित हुई थी। उसने इन दोनों ही प्रतियोगिताओं का स्वर्ण अपने नाम किया। प्रियंका ने अपने ग्रुप के मुकाबले 24-1, 14-0,18-0, 4.5-3 से जीते।

priyankajoshi

priyankajoshiBy priyankajoshi

Published on 25 Oct 2016 1:51 PM GMT

अंतरराष्ट्रीय ताइक्वांडो चैंपियनशिप में प्रियंका चौहान ने जीते 2 गोल्ड
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

सहारनपुर: थाईलैंड के बैंकॉक स्थित जॉन पॉल स्पोर्ट सेंटर, स्वर्णभूमि कैंपस में 23 अक्टूबर को 6वीं तीरक ताइक्वांडो अंतरराष्ट्रीय चैंपियनशिप 2016 आयोजित हुई।

सहारनपुर की प्रियंका चौहान गुर्जर ने 2 गोल्ड मैडल जीतकर इस खेल में भारत का परचम लहराया। इस चैंपियनशिप में एशिया महाद्वीप के 19 देशों की टीमों ने भाग लिया।

priyanka-chauhan-gurjar-new priyanka-chauhan-girjar-won

6 स्वर्ण पर जमाया कब्जा

-लखनऊ से ताइक्वांडो फेडरेशन ऑफ इंडिया की 7 सदस्यीय टीम में प्रियंका अकेली महिला खिलाड़ी थी।

-इस टीम ने कुल 6 स्वर्ण, 1 रजत और 1 कांस्य पदक पर अपना कब्जा जमाया।

-प्रियंका ने अपने प्रतिद्वंदियों को 3 राउंड में नॉकआउट किया और पॉइंट हासिल करने का एक भी मौका नहीं गंवाया।

-प्रियंका चौहान ताइक्वांडो की पूमसे और किरोगी प्रतिस्पर्धाओं के लिए चयनित हुई थी।

-उसने इन दोनों ही प्रतियोगिताओं का स्वर्ण अपने नाम किया।

-प्रियंका ने अपने ग्रुप के मुकाबले 24-1, 14-0,18-0, 4.5-3 से जीते।

मां को दिया श्रेय

-प्रियंका की जीत से उसके घर में खुशी का माहौल है।

-बता दे कि प्रियंका के पिता पुलिस कांस्टेबल थे, जिनकी कुछ साल पहले मृत्यु हो चुकी है।

-प्रियंका का पालन पोषण उनकी मां सविता चौहान ने ही किया है।

-प्रियंका वर्तमान में सहारनपुर स्टेडियम में संविदा ताइक्वांडो कोच के पद पर कार्य कर रही हैं।

-उसने अपनी सफलता का श्रेय कठिन परिश्रम और अपनी मां को दिया है।

priyankajoshi

priyankajoshi

इन्होंने पत्रकारीय जीवन की शुरुआत नई दिल्ली में एनडीटीवी से की। इसके अलावा हिंदुस्तान लखनऊ में भी इटर्नशिप किया। वर्तमान में वेब पोर्टल न्यूज़ ट्रैक में दो साल से उप संपादक के पद पर कार्यरत है।

Next Story