Top

पुणे वनडे: वेस्टइंडीज ने दिया भारत को 283 रनों का लक्ष्य, कोहली पर निगाहें

Manali Rastogi

Manali RastogiBy Manali Rastogi

Published on 27 Oct 2018 3:19 AM GMT

पुणे वनडे: वेस्टइंडीज ने दिया भारत को 283 रनों का लक्ष्य, कोहली पर निगाहें
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

पुणे: वेस्टइंडिज़ ने एक बार फिर बेहतरीन बल्लेबाजी करते हुए भारत को 284 रनों का लक्ष्य दिया है। भारत ने टॉस जीतने के बाद वेस्टइंडि़ज़ की टीम को पहले बल्लेबाजी के लिये आमंत्रित किया। पहले बैटिंग के लिये उतरी वेस्टइंडीज टीम ने बल्लेबाजी करते हुए 283 रन बनायें। एक बार फिर टीम को होप के शानदार 95 रनों का सहारा मिला। होप ने हेटमेयर के 37रन, होल्डर के 32 रन और नर्स के 40 रन के साथ टीम के स्कोर को 283 रन के स्कोर तक पहुंचाया। वहीं भारत की तरफ से मैच में वापसी कर रहें जसप्रीत बुमराह ने टीम के लिये 10 ओवर में महज 35 रन देकर 4 विकेट झटके ।

सीरिज के पिछले 2 मैचों में 300 आंकड़ा पार करने वाली विंडिज़ टीम की पारी 284 रन पर सिमट गई। अब रनों का चेस काफी हद तक कोहली की पारी पर निर्भर करेगी।

इसके पहले भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने तीसरे वनडे मैच में वेस्टइंडीज के खिलाफ टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया। पहले दो मैचों में से गुवाहाटी के पहले मैच में भारत ने जीत हासिल की और विशाखापत्तनम में दूसरे मैच का नतीजा टाई रहा।



यह भी पढ़ें: ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए टेस्ट टीम का ऐलान, टी-20 टीम से बाहर धोनी

दूसरे मैच में गेंदबाजी की दुर्दशा देखते हुए चयनकर्ताओं ने बाकी के तीन वनडे मैचों के लिए बुमराह और भुवनेश्वर को टीम में शमिल किया है। यह दोनों गेंदबाज खेल के छोटे प्रारूप में अपनी सटीक लाइन लैंथ और कसी हुई गेंदबाजी के लिए जाने जाते हैं। भारत ने दूसरे मैच में वेस्टइंडीज के खिलाफ 321 रन बनाए थे लेकिन वेस्टइंडीज ने भी भारतीय गेंदबाजों की धुनाई करते हुए इतना ही स्कोर किया था।

यह भी पढ़ें: विश्व कुश्ती चैम्पियनशिप: ग्रीको रोमन पहलवानों का खराब प्रदर्शन

बल्लेबाजी में चौथे नंबर की एक समस्या भारत के सामने थी, उसमें इस सीरीज में अंबाती रायडू अभी तक फिट बैठे हैं। हालांकि सलामी बल्लेबाज शिखर धवन का बल्ला पिछले दोनों मैचों में रूठा रहा है। रोहित शर्मा और कप्तान विराट कोहली का बल्ला पूरे फॉर्म में है। धवन के अलावा महेंद्र सिंह धोनी की फॉर्म भी भारत के लिए चिंता का विषय है। ऋषभ पंत को अभी तक ज्यादा मौका नहीं मिला, लेकिन उनकी प्रतिभा पर किसी को संदेह नहीं है।

यह भी पढ़ें: अठावले के बोल, बीजेपी और बीएसपी मिलकर चुनाव लड़ते है तो मायावती सीएम…

मोहम्मद शमी को बाकी के तीन मैचों के लिए टीम से बाहर कर दिया गया है। बुमराह और भुवनेश्वर की वापसी से यह भी लग रहा है कि उमेश भी बाहर बैठ सकते हैं। स्पिन में रवींद्र जडेजा, युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव की तिगड़ी का खेलना पक्का सा लग रहा है। पिछले मैच में विपक्षी टीम के बल्लेबाजों ने जिस तरह से स्पिन को खेला था, उसको देखते हुए कोहली तीन तेज गेंदबाजों के साथ भी जा सकते हैं।

वेस्टइंडीज की टीम पिछले मैच के प्रदर्शन से आत्मविश्वास से भरी होगी, खासकर बल्लेबाजी में। शाई होप और शिमरोन हेटमायेर ने जिस तरह से पिछले मैच में बल्लेबाजी की थी, कप्तान जेसन होल्डर चाहेंगे कि यह दोनों अपनी इस फॉर्म को जारी रखें। विंडीज सिर्फ इन दोनों पर ही निर्भर नहीं रह सकती।

केरोन पावेल, रोवमैन पावेल और चंद्रपॉल हेमराज को भी अपने बल्ले का सदुपयोग करना होगा। टीम चाहेगी कि अनुभवी खिलाड़ी मार्लन सैमुएल्स भी फॉर्म में वापसी करें। गेंदबाजी में देवेंद्र बिशू और एशले नर्स की जोड़ी की भूमिका अहम रहेगी।

टीमें :

भारत : विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा (उपकप्तान), शिखर धवन, अंबाती रायडू, ऋषभ पंत, महेंद्र सिंह धोनी (विकेटकीपर), रवींद्र जडेजा, कुलदीप यादव, युजवेंद्र चहल, भुवनेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमराह, खलील अहमद, उमेश यादव, लोकेश राहुल, मनीष पांडे।

वेस्टइंडीज : जैसन होल्डर (कप्तान), फेबियन एलीन, सुनील एंब्रीस, देवेंद्र बिशू, चंद्रपॉल हेमराज, शिमरोन हेटमेयर, शाई होप, अल्जरी जोसेफ, किरेन पॉवेल, एश्ले नर्स, कीमो पॉल, रोवमैन पॉवेल, केमार रोच, मार्लन सैमुअल्स, ओशाने थॉमस।

--आईएएनएस

Manali Rastogi

Manali Rastogi

Next Story