ओलिंपिक से पहले सरदार सिंह को क्लीन चिट,यौन उत्पीड़न के आरोप गलत साबित

Published by Published: May 11, 2016 | 3:31 pm
Modified: May 11, 2016 | 4:01 pm

नई दिल्ली: भारतीय हॉकी टीम के कप्तान सरदार सिंह को एक विदेशी अंतरराष्ट्रीय महिला हॉकी खिलाड़ी के साथ यौन उत्पीड़न मामले में पंजाब पुलिस ने क्लीन चिट दे दी है। इस मामले में गठित एक स्पेशल जांच दल (एसआईटी) ने पूरे मामले की छानबीन करते हुए कहा कि सरदार सिंह पर लगाए गए सभी आरोप गलत हैं।

रियो ओलिंपिक से पहले सरदार सिंह और भारतीय दल के लिए इसे बड़ी राहत माना जा रहा है।

ब्रिटिश हॉकी खिलाड़ी ने लगाए थे आरोप
-इसी साल फरवरी महीने में भारतीय मूल की ब्रिटेन अंडर-19 की हॉकी खिलाड़ी अशप कौर भोगल ने आरोप लगाया था।
-उनका कहना था कि सरदार सिंह उसे मानसिक और शारीरिक रूप से परेशान कर रहे थे।
-महिला का ये भी आरोप था कि सरदार के साथ उनकी मुलाकात 2012 के ओलिंपिक खेलों के दौरान हुई थी।
-फिर दोनों के बीच नजदीकियां बढ़ने लगीं।
-दोनों ने सगाई भी की है, लेकिन अब सरदार सिंह अपनी तमाम बातों से मुकर रहे हैं।

पंजाब पुलिस ने जांच दल गठित किया था
-मामले की तह तक जाने के लिए पंजाब पुलिस ने खास जांच दल गठित किया था, जिसने अपनी रिपोर्ट अब दी है।
-रिपोर्ट में कहा गया है कि महिला हॉकी खिलाड़ी की ओर से लगाए गए किसी भी आरोप को साबित नहीं किया जा सका और कई बातें झूठी साबित हुई हैं।