संन्यास पर धोनी का फैसला! अभी भी माही के पास है ये बड़ी पावर

धोनी पर बात करते हुए गांगुली ने अपने वक्त का उदाहरण दिया। इस दौरान गांगुली करीब डेढ़ साल इंटरनैशनल क्रिकेट से बाहर रहने के बाद क्रिकेट में जोरदार वापसी की थी। इसके बाद उन्होंने अगले दो साल तक लगातार क्रिकेट खेला।

Published by Manali Rastogi Published: October 26, 2019 | 12:33 pm
Modified: October 26, 2019 | 12:35 pm

नई दिल्ली: टीम इंडिया लगातार पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को लेकर कोई न कोई बयान जारी कर रही है। ऐसे में बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली के बाद टीम इंडिया के हेड कोच रवि शास्त्री का बयान आया है। उन्होंने महेंद्र सिंह धोनी को लेकर कहा है कि ये बात धोनी को पता है कि उनको क्रिकेट को अलविदा कब कहना है। देश के लिए 15 साल क्रिकेट खेलने वाले धोनी के पास संन्यास पर फैसला लेने का अधिकार है।

यह भी पढ़ें: हो गया खुलासा: ये हैं लद्दाख के पहले LG, रक्षा मंत्रालय से है गहरा नाता

शास्त्री ने धोनी पर जो बयान दिया है, वो सेलेक्टर्स से बिल्कुल अलग है। बता दें, बीसीसीआई के चीफ सेलेक्टर एमएसके प्रसाद अक्सर धोनी पर बयान देकर चर्चा का विषय बने रहते हैं। कुछ दिन पहले भी उन्होंने धोनी पर बयान दिया था और कहा था कि, ‘अब हम धोनी से आगे बढ़ चुके हैं। वर्ल्ड कप के बाद से हम साफ हैं। हमने ऋषभ पंत का समर्थन करना शुरू किया और उन्हें अच्छा करते हुए देखा। उन्होंने अच्छा नहीं किया हो, लेकिन हम साफ कर चुके हैं कि हम सिर्फ उनपर ध्यान देंगे।’

प्रसाद के बयान से बिल्कुल जुदा शास्त्री का बयान

मगर शास्त्री का बयान एमएसके प्रसाद के बयान से बिल्कुल मेल नहीं खाता है। शास्त्री का कहना है कि धोनी को ये अच्छे से मालूम है कि उनको अपने ग्लव्स कब उतारने हैं। धोनी पर कोच रवि शास्त्री ने ये भी कहा कि, ‘भारत के लिए 15 साल खेलने वाले खिलाड़ी को क्या यह नहीं पता होगा कि कब क्या करना सही होगा? जब वह टेस्ट से रिटायर हुए थे तो उन्होंने क्या कहा था? यही कि ऋद्धिमान साहा को ‘कीपिंग ग्लव्स’ सौंपने का यह सही वक्त था।’

क्या बोले थे गांगुली?

दरअसल बीसीसीआई के नए अध्यक्ष सौरभ गांगुली ने पदभार संभालने के बाद बुधवार को पहली बार प्रेस कांफ्रेंस की थी। इस दौरान पत्रकारों ने सौरभ गांगुली से महेंद्र सिंह धोनी के रिटायरमेंट और टीम में रोल पर सवाल पूछे, जिसपर गांगुली ने अपने अंदाज में जवाब दिया था। इस दौरान गांगुली ने महेंद्र सिंह धोनी चैंपियन बताया। इसके साथ ही गांगुली ने कहा कि चैंपियन खिलाड़ी कभी भी जल्दी अपना खेल नहीं छोड़ते।

यह भी पढ़ें: घटे पेट्रोल-डीजल के दाम, यहां जानिए नई रेट लिस्ट

धोनी पर बात करते हुए गांगुली ने अपने वक्त का उदाहरण दिया। इस दौरान गांगुली करीब डेढ़ साल इंटरनैशनल क्रिकेट से बाहर रहने के बाद क्रिकेट में जोरदार वापसी की थी। इसके बाद उन्होंने अगले दो साल तक लगातार क्रिकेट खेला। गांगुली ने कहा कि धोनी भारतीय क्रिकेट के महान खिलाड़ी हैं और जबतक मैं हूं तो हर प्लेयर का सम्मान किया जाएगा। सौरव गांगुली ने कहा कि जो चैम्पियन होते हैं, वह जल्द खत्म नहीं होते हैं।