Top

RIO: बोम्बायला-दीपिका और मनोज चमके, हॉकी, शूटिंग और जूडो में हार

By

Published on 10 Aug 2016 7:06 PM GMT

RIO: बोम्बायला-दीपिका और मनोज चमके, हॉकी, शूटिंग और जूडो में हार
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

रियो डी जेनेरोः बुधवार को रियो ओलंपिक से भारत के लिए सिर्फ दो अच्छी खबरें आई। महिला तीरंदाज बोम्बायला देवी लेशराम और दीपिका कुमारी ने व्यक्तिगत स्पर्धा के प्री-क्वॉर्टर फाइनल में जगह बना ली। बोम्बायला और दीपिका 12 साल बाद यहां तक पहुंचने वाली भारतीय महिला तीरंदाज हैं। इनसे पहले साल 2004 में रीना कुमारी एथेंस ओलंपिक में प्री-क्वॉर्टर में पहुंची थीं। वहीं, भारत के बॉक्सर मनोज कुमार भी लंदन ओलंपिक के ब्रॉन्ज मेडल विजेता बॉक्सर को हराकर प्री-क्वॉर्टर फाइनल में पहुंच गए।

इनके अलावा भारत का प्रदर्शन निराशाजनक रहा। 50 मीटर पिस्टल ईवेंट में जीतू राई और प्रकाश नन्जप्पा फाइनल तक नहीं पहुंच सके। महिला हॉकी में ऑस्ट्रेलिया ने 6-1 से भारत को रौंद दिया। जबकि, जूडो में अवतार सिंह और वेटलिफ्टिंग में सतीश शिवालिंगम भी बाहर हो गए।

बॉक्सर मनोज कुमार बॉक्सर मनोज कुमार

बॉक्सिंग में मनोज चमके

भारतीय बॉक्सर मनोज कुमार ने गुरुवार तड़के देश को खुश कर दिया। उन्होंने लिथुआनिया के बॉक्सर पेत्रोस्का इवलदास को हराकर प्री-क्वॉर्टर फाइनल राउंड में प्रवेश किया। बता दें कि पेत्रोस्का ने साल 2012 के लंदन ओलंपिक में ब्रॉन्ज मेडल हासिल किया था। इस तरह मनोज के सामने मुकाबला कड़ा था, लेकिन अपने प्रतिद्वंद्वी से 8 सेंटीमीटर लंबे मनोज ने शुरुआती दिक्कतों के बावजूद ये बाधा पार कर ली।

बोम्बायला ने जीते दो मुकाबले

तीरंदाजी में बोम्बायला देवी ने लगातार दो मुकाबले जीते। इससे वह वीमेंन्स इंडीविजुअल ईवेंट के राउंड-16 यानी प्री-क्वॉर्टर फाइनल में जा पहुंचीं। उन्होंने पहले ऑस्ट्रिया की लॉरेंस बेलडॉफ को 6-2 से और फिर चाइनीज ताइपे की लिन शिह चिया को 6-2 से पराजित कर दिया। इससे उनसे मेडल की उम्मीद जिंदा है। बेलडॉफ के खिलाफ बोम्बायला पहला सेट हार गई थीं, लेकिन शानदार वापसी करते हुए उन्होंने बाकी तीनों सेट जीत लिए।

बोम्बायला दीपिका कुमारी

दीपिका भी प्री-क्वॉर्टर में

बोम्बायला देवी के अलावा दीपिका कुमारी भी महिलाओं की तीरंदाजी की व्यक्तिगत स्पर्धा में प्री-क्वॉर्टर फाइनल में पहुंच गईं। उन्होंने भी लगातार दोनों गेम जीते। पहले गेम में उन्होंने जॉर्जिया की क्रिस्टीन एसेबुआ को 6-4 से हराया। इसके बाद दूसरे गेम में दीपिका ने इटली की गुएनडालिना सारतोरी को 6-2 से मात दी। दीपिका के दोनों गेम इस मायने में भी महत्वपूर्ण थे कि उस दौरान तेज हवा चल रही थी।

बोम्बायला भारत पर गोल दागकर खुशी मनातीं ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी

महिला हॉकी में ऑस्ट्रेलिया ने धुना

महिला हॉकी में ऑस्ट्रेलिया से भारतीय टीम 1-6 से हार गई। महिला टीम ने बेहद निराशाजनक प्रदर्शन किया। हालत ये थी कि मैच के 59वें मिनट तक भारत 0-6 से पिछड़ चुका था। मैच खत्म होने से 8 सेकेंड पहले भारत की तरफ से इकलौता गोल अनुराधा थोकचोम ने किया। भारतीय महिला हॉकी टीम ब्रिटेन से 3-0 से हार चुकी है और जापान से उसने 2-2 से ड्रॉ खेला था। क्वॉर्टर फाइनल की दौड़ में बने रहने के लिए उसे अब गुरुवार को अमेरिका और शनिवार को अर्जेंटीना के खिलाफ अपने आखिरी दोनों मैच जीतने होंगे।

बोम्बायला जीतू राय

शूटिंग और जूडो में भी पराजय मिली

50 मीटर पिस्टल के पुरुष ईवेंट में जीतू राई और प्रकाश नन्जप्पा ने भी भारत को निराश किया। जीतू 554 प्वॉइंट के साथ 41 खिलाड़ियों में 12वें नंबर पर रहे। जबकि प्रकाश 547 के स्कोर के साथ 25वें स्थान पर रहे। दोनों का ओलंपिक सफर खत्म हो चुका है। जूडो में अवतार सिंह पुरुषों की 90 किलो कैटेगरी में प्री-क्वॉर्टर फाइनल के लिए क्वालीफाई नहीं कर सके। वह मिसेंगा पोपोल से हार गए।

Next Story