Top

आस्ट्रेलियन ओपन : सिलिक को हरा फेडरर ने जीता 20वां ग्रैंड स्लैम खिताब

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 28 Jan 2018 12:29 PM GMT

आस्ट्रेलियन ओपन : सिलिक को हरा फेडरर ने जीता 20वां ग्रैंड स्लैम खिताब
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मेलबर्न : स्विट्जरलैंड के दिग्गज टेनिस स्टार रोजर फेडरर ने रविवार को क्रोएशिया के मारिन सिलिक को हराकर साल के पहले ग्रैंड स्लैम आस्ट्रेलियन ओपन का पुरुष एकल खिताब जीत लिया। रॉड लेवर एरेना में खेले गए फाइनल मुकाबले में पूर्व नंबर-1 खिलाड़ी फेडरर ने सिलिक को पांच सेटों तक चले कांटे के मैच में मात दी। फेडरर का यह 20वां ग्रैंड स्लैम खिताब है।

फेडरर ने सिलिक को 6-2, 7-6, 6-3, 3-6, 6-1 से मात दी। फेडरर को अपना छठा आस्ट्रेलियन ओपन खिताब जीतने के लिए तीन घंटे तीन मिनट का समय लगा।

साथ ही फेडरर अपना खिताब बचाने में सफल रहे। फेडरर ने पिछले साल राफेल नडाल को मात देकर यह खिताब अपने नाम किया था।

ये भी देखें : गेल The Run Machine के साथ हो जाता खेल…प्रीति जिंटा को Thanks बोलो

फेडरर के अलावा सर्बिया के नोवाक जोकोविक और रॉय इमर्सन ने 6-6 बार यह खिताब जीता है। फेडरर ने सातावीं बार आस्ट्रेलियन ओपन के फाइनल में जगह बनाई थी, जिसमें से छह में उन्हें जीत मिली है।

सिलिक की कोशिश फेडरर को मात देकर अपना पहला आस्ट्रेलियन ओपन और दूसरा ग्रैंड स्लैम खिताब जीतने की थी जिसमें वो असफल रहे। वह पहली बार आस्ट्रेलियन ओपन के फाइनल में पहुंचे थे। उन्होंने तीन बार ग्रैंड स्लैम के फाइनल में जगह बनाई है और एक बार खिताब जीता है।

इस आस्ट्रेलियन ओपन के अलावा सिलिक ने पिछले साल विबंलडन के फाइनल में जगह बनाई थी जहां वह फेडरर से ही हारे थे।

वहीं, 2014 में अमेरिकी ओपन का फाइनल जीत उन्होंने अपना पहला ग्रैंड स्लैम जीता था। इस फाइनल में उन्होंने जापान के केई निशिकोरी को मात दी थी।

इस खिताबी जीत के बाद फेडरर एटीपी रैंकिंग में दूसरे स्थान पर ही रहेंगे। वहीं सिलिक तीसरे नंबर पर पहुंच जाएंगे। नडाल पहले स्थान पर ही कायम रहेंगे।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story