Top

संगकारा दे सकते हैं जगमोहन डालमिया मेमोरियल लेक्चर

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 8 Sep 2017 10:07 AM GMT

संगकारा दे सकते हैं जगमोहन डालमिया मेमोरियल लेक्चर
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

कोलकाता : श्रीलंका क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान कुमार संगकारा नवंबर में ईडन गार्डन्स स्टेडियम में भारत और श्रीलंका के बीच खेले जाने वाले टेस्ट मैच से पहले जगमोहन डालमिया मेमोरियल लेक्चर दे सकते हैं। बंगाल क्रिकेट संघ (सीएबी) के अध्यक्ष और भारतीय टीम के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने शुक्रवार को इस बात की जानकारी दी।

ये भी देखें:प्रधानमंत्री आवास योजना में हो रहा घोटाला, गरीब झोपड़ियों में रहने को मजबूर

ये भी देखें:आपका बच्चा है ब्लू व्हेल गेम की चपेट में, ऐसे करें पहचान, नहीं तो बुझ जाएगा घर का चिराग

सीएबी ने पिछले साल भारत और न्यूजीलैंड के बीच हुए टेस्ट मैच से पहले भी इस तरह के लेक्चर का आयोजन किया था, लेकिन भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) की विशेष आम बैठक के कारण सभी राज्य संघ व्यस्त थे इसी कारण उसका यह कार्यक्रम हो पाया था।

ये भी देखें:RSS के खिलाफ ना लिखती, तो आज जिंदा होती गौरी लंकेश-BJP नेता

ये भी देखें:Commonwealth Games: ब्रिटेन ने मेजबानी के लिए बर्मिघम को चुना

इसके बाद इसे भारत और इंग्लैंड के बीच खेले गए तीसरे टेस्ट मैच के लिए 21 जनवरी तक स्थगित कर दिया था, लेकिन उस समय भी लेक्चर हो नहीं सका।

ये भी देखें:सुप्रीम कोर्ट: जिस नर्सिंग होम में ICU नहीं है, वहां ऑपरेशन नहीं

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story