Top

जीत का इनाम! सरफराज को मिली तीनो फार्मेट की कप्तानी

Rishi

By Rishi

Published on 4 July 2017 2:45 PM GMT

जीत का इनाम! सरफराज को मिली तीनो फार्मेट की कप्तानी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लाहौर : पाकिस्तान को पहली बार चैम्पियंस ट्रॉॅफी का खिताब दिलाने वाले सरफराज अहमद अब खेल के तीनों फॉर्मेट में टीम की कमान संभालेंगे।

वनडे और टी-20 टीम के कप्तान सरफारज को मंगलवार को पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) के अध्यक्ष शाहरयार खान ने टेस्ट टीम की कप्तानी सौंपने की जानकारी दी।

चैम्पियंस ट्रॉफी जीतने के बाद पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के आवास पर मंगलवार को स्वागत किया गया, जहां शहरयार ने बताया कि पूर्व टेस्ट कप्तान मिस्बाह उल हक के संन्यास लेने के बाद उन्होंने सरफराज को टेस्ट कप्तानी का प्रस्ताव दिया था, जिसे उन्होंने स्वीकार कर लिया।

पिछले साल भारत की मेजबानी में खेले गए टी-20 विश्व कप के बाद शाहिद अफरीदी के संन्यास लेने के बाद सरफराज को टी-20 टीम कमान सौंपी गई थी।

इसके बाद इसी साल फरवरी में आस्ट्रेलिया के हाथों मिली हार के बाद अजहर अली ने वनडे टीम की कप्तानी से इस्तीफा दे दिया था। इसके बाद सरफराज को इस टीम की भी जिम्मेदारी दी गई थी।

इसी साल वेस्टइंडीज दौरे के बाद मिस्बाह के संन्यास लेने के बाद उनके विकल्प की चर्चा जोरों पर थी जिसके लिए सरफराज का नाम सबसे आगे थे।

सरफराज पर पाकिस्तान के सबसे सफल कप्तान मिस्बाह के काम को आगे ले जाने की जिम्मेदारी होगी। मिस्बाह के नेतृत्व में पाकिस्तान ने 56 मैचों में 26 जीत हासिल की थी।

पांच साल बाद ऐसा पहली बार होगा जब एक ही शख्स पाकिस्तान की कमान तीनों फॉर्मेट में संभालेगा। सरफराज से पहले मिस्बाह के पास तीनों प्रारुपों में टीम की कमान थी।

टेस्ट कप्तान के तौर पर सरफराज की पहली परीक्षा संयुक्त अरब अमीरात में 19 अक्टूबर से श्रीलंका के खिलाफ शुरू हो रही तीन मैचों की सीरीज होगी।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story