Top

#B’DaySpecial : लिटिल मास्टर के जीवन से जुड़ी हैं ये रोचक बातें, वीडियो वायरल

Manali Rastogi

Manali RastogiBy Manali Rastogi

Published on 10 July 2018 4:59 AM GMT

#B’DaySpecial : लिटिल मास्टर के जीवन से जुड़ी हैं ये रोचक बातें, वीडियो वायरल
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली। लिटिल मास्टर के नाम से फेमस सुनील गावस्कर आज अपना 69वां जन्मदिन मना रहे हैं। जी हां, आज यानी 10 जुलाई 1949 के दिन ही इस महान खिलाड़ी का जन्म हुआ था। अपनी छोटी कद-काठी व विस्फोटक बल्लेबाजी के लिए मशहूर गावस्कर ने भारतीय क्रिकेट टीम को एक नए मुकाम तक पहुंचाने में कोई कसर नहीं छोड़ी। गावस्कर हमेशा अपनी खेल के लिए जाने गए हैं। यही वजह है कि आज भी लोगों को गावस्कर की पारियां अच्छे से याद हैं।

सुनील गावस्कर ने वेस्टइंडीज के खिलाफ बनाए कई रिकार्ड्स

बताते चलें, अपने डिफेंसिव मूड के लिए फेमस गावस्कर ने कई रिकार्ड्स अपने नाम किए हैं। इसी क्रम में गावस्कर के नाम एक ऐसा भी रिकॉर्ड है जिसे आज तक कोई भी खिलाड़ी नहीं तोड़ पाया है। दरअसल, गावस्कर ने वेस्टइंडीज टीम के खिलाफ टेस्ट मैचों में अब तक 2,749 रन और 13 शतक बनाए। गावस्कर का ये रिकॉर्ड आज तक कोई नहीं तोड़ पाया है।

Courtesy: robelinda2

यह भी पढ़ें: फीफा सेमीफाइनल : आज फ्रांस-बेल्जियम के बीच मुकाबला , कांटे की टक्कर को तैयार

जहां वेस्टइंडीज के लंबे कद वाले खतरनाक बॉलर्स के सामने खेलने से ही बाकी क्रिकेटर्स डरते थे, तो वहीं गावसकर बिना हेल्मेट लगाए ही उन बॉलर्स की धज्जियां उड़ा देते थे। गावसकर की जिद रहती थी कि वे हेल्मेट नहीं लगाएंगे। इसकी जगह वे अपनी फेवरेट कैप लगाकर खेलते थे।

गावस्कर हमेशा से एक शानदार खिलाड़ी रहे हैं

गावस्कर का कद भले ही 5 फुट 5 इंच हो लेकिन इनके कारनामे काफी बड़े-बड़े हैं। यही वजह है कि उन्होंने वेस्टइंडीज जैसी मजबूत टीम के खिलाफ अपने कॅरियर के 34 टेस्ट शतकों में से 12 शतक बनाए हैं। गावस्कर से जुड़ी एक दिलचस्प बात और भी है। जब उनका जन्म हुआ था तो एक नर्स की गलती से गावस्कर एक मछुआरे दंपति के पास चले गए थे।

Courtesy: robelinda2

अब वो तो गावस्कर के चाचा ने उन्हें बचा लिया वरना आज वो एक मछुआरे होते। दरअसल, जब पहली बार गावस्कर को उनके चाचा ने गोद में लिया था तब उनके कान के पास तिल नहीं था जो उन्होंने पहले दिन देखा था।

Courtesy: Cricket Classics

गावसकर के चाचा तुरंत हरकत में आए और हॉस्पिटल स्टाफ को इसकी सूचना दी। पहले स्टाफ ने कहा कि उन्हें गलतफहमी हुई है पर बाद में जांच की गई तो पता चला कि नर्स ने गलती से गावसकर को एक मछुआरे की वाइफ के पास सुला दिया था। नर्स से दवा देते वक्त बच्चा बदल गया था।

Courtesy: Star Sports

गावस्कर हमेशा से एक शानदार खिलाड़ी रहे हैं। रिटायर के होने के बावजूद गावस्कर ने अब भी क्रिकेट को पूरी तरह से नहीं छोड़ा है। उन्हें जब मौका मिलता है तब वो क्रिकेट पर बात करना जरुर पसंद करते हैं। बताते चलें, गावस्कर के जन्मदिन के मौके पर सुनील गावस्कर को लगातार उनके फैंस उनको सोशल मीडिया पर विश कर रहे हैं।

Manali Rastogi

Manali Rastogi

Next Story