×

T20 World Cup Final: ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज स्टार्क के नाम दर्ज हुआ शर्मनाक रिकॉर्ड, श्रीलंका के मलिंगा को पीछे छोड़ा

T20 World Cup Final: टी20 के फाइनल मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज मिशेल स्टार्क के नाम एक शर्मनाक रिकॉर्ड भी दर्ज हो गया। स्टार्क ने अपने कोटे के 4 ओवर में 60 रन लुटा दिए।

Anshuman Tiwari

Written By Anshuman TiwariPublished By Chitra Singh

Published on 15 Nov 2021 3:58 AM GMT

Mitchell Starc Records
X

मिशेल स्टार्क-लसिथ मलिंगा (डिजाइन फोटो- सोशल मीडिया)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

T20 World Cup Final: T20 विश्व कप के फाइनल (T20 World Cup Final 2021) में ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड (NZ vs AUS) की टीमों के बीच जोरदार मुकाबला देखने को मिला। इस रोचक मुकाबले के दौरान ऑस्ट्रेलिया की टीम ने न्यूजीलैंड (Australia vs New Zealand) को 8 विकेट से हराकर T20 विश्व कप पर कब्जा (T20 World Cup Winners) कर लिया। हालांकि ऑस्ट्रेलिया विश्व कप का खिताब जीतने में कामयाब जरूर रहा मगर टी20 के फाइनल मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज मिशेल स्टार्क (Mitchell Starc fastest ball) के नाम एक शर्मनाक रिकॉर्ड भी दर्ज हो गया। स्टार्क ने अपने कोटे के 4 ओवर में 60 रन लुटा दिए।

टी20 विश्व कप के फाइनल मुकाबले में रन देने के मामले में स्टार्क ने श्रीलंका के तेज गेंदबाज लसिथ मलिंगा (Lasith Malinga) को भी पीछे छोड़ दिया। अभी तक सबसे ज्यादा रन देने का रिकॉर्ड मलिंगा के नाम दर्ज था जिन्होंने फाइनल मुकाबले में 54 रन दिए थे मगर स्टार्क उनसे भी आगे निकल गए।

पूरी तरह बेदम नजर आए स्टार्क

T20 विश्व कप के फाइनल मुकाबले में न्यूजीलैंड के बल्लेबाजों ने निर्धारित 20 ओवर में 4 विकेट पर 172 रन का स्कोर (Aus vs NZ live score) बनाया। न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन (Kane Williamson) ने 85 रनों की शानदार पारी खेलते हुए अपनी टीम को 172 रनों के स्कोर तक पहुंचाने में बड़ी भूमिका निभाई। ऑस्ट्रेलिया ने 7 गेंद बाकी रहते निर्धारित लक्ष्य हासिल करके न्यूजीलैंड की टीम को 8 विकेट से मात दे दी।

न्यूजीलैंड की बल्लेबाजी के दौरान ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज मिचेल स्टार्क की जमकर धुनाई हुई। कीवी बल्लेबाजों के सामने स्टार्क पूरी तरह बेदम नजर आए। न्यूजीलैंड के बैट्समैन ने उनकी गेंदों पर मनचाहे शॉट लगाए। उनकी गेंदों पर न्यूजीलैंड के बल्लेबाजों ने 60 रन बनाए और स्टार्क को कोई भी कामयाबी नहीं मिली। अपने चार ओवर के कोटे में स्टार्क ने एक नो बॉल और दो वाइड बॉल भी फेंकी।

फाइनल में सबसे ज्यादा रन देने वाले खिलाड़ी

फाइनल मुकाबले के दौरान अपनी खराब गेंदबाजी के कारण स्टार्क के नाम एक शर्मनाक रिकॉर्ड (mitchell starc records) दर्ज हो गया। वे टी-20 विश्व कप के फाइनल मुकाबले के दौरान सबसे ज्यादा रन देने वाले खिलाड़ी बन गए हैं। उन्होंने इस मामले में श्रीलंका के तेज गेंदबाज लसिथ मलिंगा को पीछे छोड़ा। अभी तक यह रिकॉर्ड मलिंगा के नाम दर्ज था जिन्होंने टी20 विश्व कप के फाइनल मुकाबले के दौरान अपने स्पेल में सर्वाधिक 54 रन लुटाए थे। 2012 के विश्व कप के फाइनल में मलिंगा की जमकर धुनाई हुई थी। भारत के तेज गेंदबाज एस श्रीसंत (S. Sreesanth) भी T20 विश्व कप के फाइनल के दौरान काफी महंगे साबित हुए थे और उन्होंने 2007 में 44 रन दे डाले थे।

हेजलवुड की शानदार गेंदबाजी

फाइनल मुकाबले के दौरान ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज जोश हेजलवुड (Josh Hazlewood) ने बेहतरीन गेंदबाजी करते हुए न्यूजीलैंड के बल्लेबाजों को बांधे रखा। उन्होंने अपने स्पेल के चार ओवर में सिर्फ 16 रन दिए और इस दौरान 3 विकेट भी हासिल किए। उनकी गेंदों पर न्यूजीलैंड के बल्लेबाज परेशान दिखे और काफी कोशिश करने के बावजूद मनचाहे शॉट नहीं लगा पाए।

हेजलवुड के अलावा ऑस्ट्रेलिया के स्पिनर एडम चंपा (adam zampa) ने भी अच्छी गेंदबाजी करते हुए 4 ओवर में सिर्फ 26 रन देकर एक विकेट हासिल किया। इन दोनों गेंदबाजों की अच्छी गेंदबाजी के कारण न्यूजीलैंड 172 रन बनाने में ही कामयाब हो सका नहीं तो न्यूजीलैंड का स्कोर और ज्यादा होता।

न्यूजीलैंड के गेंदबाजों ईश सोढ़ी (Ish Sodhi)और टिम साउदी की गेंदों पर ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों ने खूब रन बनाए। सोढ़ी ने 3 ओवर में 40 रन दिए जबकि साउदी ने 3.5 ओवर में 43 रन दिए। न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाज ट्रेंट बोल्ट ने शानदार गेंदबाजी करते हुए 4 ओवर में सिर्फ 18 रन देने के साथ 2 विकेट भी झटके।

Chitra Singh

Chitra Singh

Next Story