Top

निर्णायक जंग से पहले संकट में टीम इंडिया, ब्रिसबेन में यह हो सकती है प्लेइंग इलेवन

ऑस्ट्रेलिया के दौरे पर अब तक नौ खिलाड़ी इंजर्ड हो चुके हैं। इन खिलाड़ियों में मोहम्मद शमी, उमेश यादव, लोकेश राहुल, रविंद्र जडेजा, ऋषभ पंत, हनुमा विहारी, जसप्रीत बुमराह और मयंक अग्रवाल के नाम शामिल हैं।

Roshni Khan

Roshni KhanBy Roshni Khan

Published on 13 Jan 2021 5:01 AM GMT

निर्णायक जंग से पहले संकट में टीम इंडिया, ब्रिसबेन में यह हो सकती है प्लेइंग इलेवन
X
निर्णायक जंग से पहले संकट में टीम इंडिया, ब्रिसबेन में यह हो सकती है प्लेइंग इलेवन (PC: social media)
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेली जा रही मौजूदा सीरीज में कड़ा मुकाबला हो रहा है। अभी तक खेले गए तीन टेस्ट मैचों में दोनों टीमें एक-एक से बराबरी पर हैं जबकि सिडनी में खेला गया टेस्ट ड्रॉ रहा था। भारतीय बल्लेबाजों में सिडनी में मजबूत दिख रही ऑस्ट्रेलिया की टीम को जीत के लिए तरसा दिया और शानदार बल्लेबाजी का प्रदर्शन करके मैच को ड्रा करा दिया। अब दोनों टीमों की नजर ब्रिसबेन में होने वाले चौथे टेस्ट मैच पर टिकी है। दोनों टीमें आखिरी टेस्ट जीत कर सीरीज जीतना चाहती हैं मगर उससे पहले टीम इंडिया कई खिलाड़ियों के चोटग्रस्त होने से गहरे संकट में फंस गई है। आखिरी टेस्ट शुरू होने से पहले टीम इंडिया के लिए प्लेइंग इलेवन को लेकर ही मुश्किलें खड़ी हो गई हैं।

ये भी पढ़ें:कोविड-19: पिछले 24 घंटे में देश में मिले 15,968 नए केस, 202 लोगों ने गंवाई जान

छह खिलाड़ी हो चुके हैं सीरीज से बाहर

ऑस्ट्रेलिया के दौरे पर अब तक नौ खिलाड़ी इंजर्ड हो चुके हैं। इन खिलाड़ियों में मोहम्मद शमी, उमेश यादव, लोकेश राहुल, रविंद्र जडेजा, ऋषभ पंत, हनुमा विहारी, जसप्रीत बुमराह और मयंक अग्रवाल के नाम शामिल हैं। इनमें से छह खिलाड़ियों की चोट ज्यादा गंभीर है और वे सीरीज से बाहर हो चुके हैं।

बुमराह ऐसे छठे खिलाड़ी हैं जो इस दौरे पर चोटिल होने की वजह से बाहर हो गए हैं। उनके पेट के निचले हिस्से की मांसपेशियों में खिंचाव है। बुमराह के अलावा जडेजा, हनुमा विहारी, लोकेश राहुल, शमी और उमेश यादव भी चोट के कारण टीम से बाहर हो चुके हैं। चोटिल तो पंत और अश्विन भी हैं मगर उनकी चोट ज्यादा गंभीर नहीं है।

cricket cricket team (PC: social media)

साहा और पंत दोनों उतर सकते हैं

चौथे और आखिरी टेस्ट मैच में भारत के दो विकेटकीपर ऋषभ पंत और रिद्धिमान साहा दोनों को खिलाया जा सकता है। ऋषभ पंत कोहनी में लगी चोट से रिकवर हो रहे हैं। ऐसे में माना जा रहा है कि चौथे टेस्ट में उन्हें बतौर बल्लेबाज टीम में शामिल किया जा सकता है। ऐसी स्थिति में विकेटकीपिंग की जिम्मेदारी साहा निभाएंगे।

सिडनी में खेले गए तीसरे टेस्ट मैच की दूसरी पारी के दौरान भी साहा ने पंत के स्थान पर फिल्डिंग सब्सीट्यूट के तौर पर विकेटकीपिंग की थी। बाद में चौथी पारी के दौरान चोटिल होने के बावजूद पंत ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए 97 रनों की पारी खेली थी।

मयंक पर फैसला इंजरी रिपोर्ट के बाद

दूसरी संभावना यह बन रही है कि अगर पंत को विकेटकीपिंग की जिम्मेदारी सौंपी जाती है तो साहा की जगह मयंक अग्रवाल को टीम में शामिल किया जा सकता है। वैसे यह फैसला मयंक की इंजरी रिपोर्ट आने के बाद ही लिया जाएगा। मयंक अग्रवाल को प्रैक्टिस सेशन के दौरान हाथ में चोट लगी थी और इसके बाद उन्हें स्कैन के लिए ले जाया गया।

सूत्रों ने उनके हाथ में हेयरलाइन फ्रैक्चर की आशंका जताई है। अभी स्कैन रिपोर्ट आनी बाकी है। उनकी चोट गंभीर होने पर वे भी ब्रिसबेन टेस्ट से बाहर हो सकते हैं। पूरी तरह फिट होने पर ही उन्हें टीम में जगह मिलेगी। वैसे यह तय माना जा रहा है कि चौथे टेस्ट मैच में भी रोहित शर्मा ही शुभमन गिल के साथ ओपनिंग की जिम्मेदारी निभाएंगे।

शार्दुल ठाकुर को मिल सकता है मौका

अंगूठे में फ्रैक्चर के कारण टीम से बाहर हुए रविंद्र जडेजा की जगह शार्दुल ठाकुर को टीम में जगह दी जा सकती है। शार्दुल के पास फर्स्ट क्लास मैच खेलने का अनुभव है। इसके साथ ही वे निचले क्रम में बैटिंग भी कर सकते हैं।

ब्रिसबेन का वाका मैदान उछाल वाला है और ऐसी पिच पर लोअर ऑर्डर में एक एक्स्ट्रा बल्लेबाज टीम के लिए मददगार साबित होगा। शार्दुल टीम इंडिया की ओर से एक टेस्ट मैच, 12 वनडे और टी-20 मुकाबले खेल चुके हैं।

वाशिंगटन के नाम पर भी विचार

कई खिलाड़ियों को चोट लगने के बाद चौथे टेस्ट में भारत की प्लेइंग इलेवन में काफी बदलाव दिख सकते हैं। माना जा रहा है कि अगर अश्विन चौथे टेस्ट के लिए उपलब्ध रहते हैं तो भारतीय टीम छह बल्लेबाजों और पांच गेंदबाजों के साथ मैदान में उतर सकती है।

टीम में दो स्पिनरों को शामिल किया जा सकता है। अश्विन के अलावा तमिलनाडु के वाशिंगटन सुंदर के नाम पर भी चर्चा की जा रही है। सुंदर को चौथे टेस्ट में जडेजा की जगह टीम में मौका मिल सकता है। वे ब्रिसबेन में टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू कर सकते हैं। उन्होंने सीमित ओवरों की सीरीज में अच्छा प्रदर्शन किया था और उसके बाद उन्हें आस्ट्रेलिया में रुकने के लिए कहा गया था।

प्लेइंग इलेवन को लेकर माथापच्ची

सिडनी टेस्ट में काफी मजबूत दिख रही आस्ट्रेलिया की टीम तमाम कोशिशों के बावजूद भारत को नहीं हरा सकी थी। भारत ने चौथी पारी के दौरान 131 ओवर बल्लेबाजी की और इसमें से अश्विन और हनुमा विहारी ने 259 गेंदों (लगभग 43 ओवर) में 62 रन की नाबाद साझेदारी की। दोनों बल्लेबाजों ने अंगद की तरह पिच पर पांव जमा दिए जिससे ऑस्ट्रेलिया की टीम जीत से वंचित रह गई।

cricket cricket team (PC: social media)

ऐसे में आस्ट्रेलिया की टीम चौथे टेस्ट के दौरान पूरी ताकत लगाने की कोशिश में जुटी हुई है और भारतीय टीम प्रमुख खिलाड़ियों के चोटिल हो जाने के कारण समस्या से जूझ रही है। ऐसे में टीम इंडिया की प्लेइंग इलेवन को लेकर मैनेजमेंट को काफी माथापच्ची करनी पड़ रही है।

होटल में मूलभूत सुविधाएं भी नहीं

चौथा और आखिरी टेस्ट मैच खेलने के लिए टीम इंडिया ब्रिसबेन पहुंच गई है मगर वहां पर टीम को ऐसे होटल में ठहराया गया जिसमें मूलभूत सुविधाएं तक नहीं थी। इसके बाद भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के शीर्ष अधिकारियों को इस मामले में दखल देना पड़ा।

ये भी पढ़ें:होगी मूसलाधार बारिश: पड़ेगी हाड़ कंपाने वाली ठंड, इन राज्यों में ऑरेंज अलर्ट जारी

बीसीसीआई ने इस बाबत क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के अधिकारियों से शिकायत दर्ज कराई है। बीसीसीआई की शिकायत के बाद भारतीय टीम को कोई परेशानी नहीं होने देने का आश्वासन दिया गया है।

रिपोर्ट: अंशुमान तिवारी

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Roshni Khan

Roshni Khan

Next Story