एशिया कप: भारत ने श्रीलंका को पांच विकेट से रौंदा, फाइनल का रास्ता साफ

मीरपुर: एशिया कप में मंगलवार रात टीम इंडिया ने श्रीलंका को हराकर फाइनल का रास्ता साफ़ कर लिया। टीम इंडिया को जीत के लिए 139 रन का टारगेट मिला था जिसे चार गेंद शेष रहते ही हासिल कर लिया। भारत की ओर से सबसे ज्यादा रन विराट कोहली ने बनाए। उन्होंने 47 गेंदों में सात चौकों की मदद से नॉट आउट 56 रन बनाए। इसके अलावा युवराज सिंह (35) और सुरेश रैना (25) ने भी इस जीत में अहम योगदान दिया। कप्तान महेंद्र सिंह धोनी सात रन बनाकर नॉटआउट रहे।

शुरुआत में ही लगे झटके
श्रीलंका द्वारा मिले लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम की शुरुआत अच्छी नही रही और टीम के दोनों सलामी बल्लेबाज 16 रनों पर ही पवेलियन लौट गए। इसके बाद सुरेश रैना और विराट कोहली ने पारी को संभालते हुए तीसरे विकेट के लिए 54 रनों की साझेदारी की। 70 रनों के कुल योग पर रैना शनाका की गेंद पर कुलशेखरा को कैच दे बैठे और पवेलियन लौट गए। इसके बाद बल्लेबाजी के लिए मैदान पर उतरे युवराज सिंह ने कोहली का अच्छा साथ दिया और भारतीय पारी को जीत की तरफ आगे बढाया। उन्होंने कोहली के साथ मिलकर51 रनों की साझेदारी की।

युवराज का चला बल्ला
युवराज सिंह ने 18 गेंदों में तीन चौकों व तीन छक्कों की मदद से 35 रनों की पारी खेली। उनका विकेट तिसारा परेरा के खाते में गया। इसके बाद बल्लेबाजी के लिए उतरे हार्दिक पांड्या कुछ ख़ास न कर सके और दो रनों के निजी स्कोर पर रंगना हेराथ की गेंद पर बोल्ड हो गए। पांड्या के बाद कप्तान धोनी ने कोहली के साथ मिलकर टीम इंडिया को जीत दिलाई।

इसके पहले टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए लंकाई टीम ने निर्धारित 20 ओवर में 9 विकेट के नुकसान पर 138 रन बनाए। लंका की और से सबसे ज्यादा 30 रन चमारा कपूगेदरा ने बनाए। भारत की ओर से बुमराह, पांड्या और अश्विन ने दो-दो विकेट झटके। वहीं, आशीष नेहरा की झोली ने एक विकेट आया।

गेंदबाजों ने किया चीतों को चित
कप्तान धोनी ने टॉस जीतकर पहले फील्डिंग करने का फैसला किया। फॉर्म में चल रहे गेंदबाजों ने कभी कप्तान के फैसले को एक बार फिर सही साबित कर दिखाया। श्रीलंका को झटके देने की शुरुआत अनुभवी गेंदबाज आशीष नेहरा ने की। उन्होंने सलामी बल्लेबाज दिनेश चंडीमल को 4 रन पर विकेट के पीछे धोनी के हाथों कैच करवा दिया। इसके बाद दूसरा झटका बुमराह ने दिया। इस गेंदबाज ने शेहान जयसूर्या को पवेलियन की राह दिखाई। तीसरा और चौथा झटका अपनी परफॉर्मेंस का सबका दिल जीत चुके पांड्या ने दिया। उन्होंने दिलशान और कप्तान एंग्लो मैथ्यूज को आउट किया।इसके बाद एक के बाद एक विकेट गिरते चले गए और लंकाई टीम 150 रन भी नहीं बना सकी। टूर्नामेंट में शुरुआती दोनों मैच जीतकर टीम इंडिया प्वॉइंट टेबल में टॉप पर है और अगर आज का मैच भी जीत लेती है फाइनल में जगह पक्की हो जाएगी।

दोनों टीमों के बीच अब तक टी-20 आंकड़ें
दोनों टीमों के बीच अब तक 9 टी-20 मैच हुए हैं।  इसमें टीम इंडिया को 5 और श्रीलंका को 4 मैच में जीत मिली है। टीम इंडिया ने हाल ही में अपने घर में श्रीलंका को तीन टीम-20 मैचों की सीरीज में 2-1 से पटखनी दी थी।