Top

टेस्ट क्रिकेट: डीआरएस सिस्टम में और अधिक चांस चाहतें है ये कोच

जिम्बाब्वे क्रिकेट टीम के मुख्य कोच हीथ स्ट्रीक और वेस्टइंडीज टीम के मुख्य कोच स्टुअर्ट लॉ, दोनों की चाहत है कि टेस्ट की एक पारी में निर्णय समीक्षा प्रणाली (डीआरएस)

Anoop Ojha

Anoop OjhaBy Anoop Ojha

Published on 4 Nov 2017 8:14 AM GMT

टेस्ट क्रिकेट: डीआरएस सिस्टम में और अधिक चांस चाहतें है ये कोच
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

बुलावायो: जिम्बाब्वे क्रिकेट टीम के मुख्य कोच हीथ स्ट्रीक और वेस्टइंडीज टीम के मुख्य कोच स्टुअर्ट लॉ, दोनों की चाहत है कि टेस्ट की एक पारी में निर्णय समीक्षा प्रणाली (डीआरएस) की संख्या दो से ज्यादा कर दी जाए। इन दोनों ने यह बात हाल ही में जिम्बाब्वे और वेस्टइंडीज के बीच खत्म हुए टेस्ट मैच के बाद कही है।

यह भी पढ़ें.....बेंगलुरु टेस्ट में विराट का डीआरएस संबंधी दावा बकवास था : स्मिथ

टेस्ट मैच के दौरान अगर जिम्बाब्वे के पास दो से ज्यादा रिव्यू होते तो वह जेसन होल्डर को 11 के निजी स्कोर पर पवेलियन भेज दिया होता। होल्डर ने बाद शतक जड़ा वहीं अगर वेस्टइंडीज के पास रिव्यू होता तो वह जिम्बाब्वे के कप्तान ग्रेम क्रिमर को आउट कर शायद मैच जीत सकती थी।

यह भी पढ़ें.....ICC ने बदले नियम, ‘बेकाबू’ क्रिकेटरों को अब जाना होगा मैदान से बाहर

वेबसाइट क्रिकइंफो ने स्टुअर्ट लॉ के हवाले से लिखा है, "कैमरा लगाने और तकनीक को लाने में काफी पैसा खत्म होता है, लेकिन हमने उनका दो बार गलत तरीके से उपयोग किया। तकनीक का पास होना लेकिन उसका सही से उपयोग न कर पाना, मेरे लिए इस बात का कोई मतलब नहीं बनता है। हमें इसमें ज्यादा चतुराई बरतरनी पड़ेगी क्योंकि हमारे पास सिर्फ दो रिव्यू होते हैं।"

यह भी पढ़ें.....ICC की बैठक में लिया गया बड़ा फैसला, अब क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट में इस्तेमाल होगा DRS

स्ट्रीक ने भी स्टुअर्ट की बात को सही ठहराते हुए कहा, "आप इस तकनीक को लाने के लिए काफी पैसा खत्म करते हैं। जो लोग देख रहे थे उन्हें पता है कि गलत फैसले लिए गए। यह ऐसा मुद्दा है जिस पर हमें चर्चा करनी चाहिए कि हम इस तरह की महंगी तकनीक का अच्छे से उपयोग कैसे कर सकते हैं ताकि सही फैसले लिए जा सकें।"

--आईएएनएस

Anoop Ojha

Anoop Ojha

Excellent communication and writing skills on various topics. Presently working as Sub-editor at newstrack.com. Ability to work in team and as well as individual.

Next Story