Top

स्वाति सिंह ने साड़ी पहन लगाए बैडमिंटन के शॉट, कहा- इस खेल से है बहुत लगाव

aman

amanBy aman

Published on 14 Jan 2018 9:45 AM GMT

स्वाति सिंह ने साड़ी पहन लगाए बैडमिंटन के शॉट, कहा- इस खेल से है बहुत लगाव
X
स्वाति सिंह ने साड़ी पहन लगाए बैडमिंटन के शॉट, कहा- इस खेल से है बहुत लगाव
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: बाबू बनारसी दास बैडमिंटन अकादमी में रविवार (14 जनवरी) को योगी सरकार की मंत्री स्वाति सिंह ने बैडमिंटन खिलाड़ियों से दो-दो हाथ किए। खेल प्रतियोगिता का उद्घाटन करने गई मंत्री बैडमिंटन खिलाड़ियों को देखकर खुद को नहीं रोक पाईं। उन्होंने आयोजकों से कहा, कि 'उन्हें इस खेल से बहुत लगाव है।'

स्वाति सिंह ने अपने नाम की जर्सी पहनकर बैडमिंटन कोर्ट में अपना जलवा दिखाया। वह अकादमी में 'बैडमिंटन टूर्नामेंट फ़ॉर वीमेन' का उद्घाटन करने आज यहां को पहुंची थीं। उनके साथ प्रमुख सचिव अनीता भटनागर जैन भी थीं।

कामकाजी महिलाओं को दी नसीहत

मंत्री स्वाति सिंह ने महिलाओं के इस खास टूर्नामेंट का उद्घाटन करते हुए कहा, कि 'वर्किंग वीमेन पर वर्क लोड बहुत होता है। घर के साथ-साथ बाहर भी बहुत कुछ मैनेज करना पड़ता है। ऐसे में उन्हें स्पोर्ट्स से जुड़ना चाहिए। इससे स्ट्रैस दूर होता है। बल्कि अन्य घरेलू महिलाओं को भी स्पोर्ट्स से जुड़ना चाहिए। ये आपको चुस्त-दुरुस्त रखने में मददगार होगा। मैं आयोजकों को इसे ऑर्गनाइज करने के लिए बधाई देती हूं।'

खास है ये टूर्नामेंट

इस टूर्नामेंट की संयोजक और साहस स्पोर्ट्स अकादमी की चेयरपर्सन डॉ. सुधा बाजपेई ने बताया, कि 'बीबीडी बैडमिंटन एकेडमी में जज्बा महिला बैडमिंटन टूर्नामेंट को ऑर्गनाइज किया गया है। इसमें उन महिलाएं को भी पार्टिसिपेट करने का मौका मिला जिन्होंने पहले कभी ऐसे टूर्नामेंट में हिस्सा नहीं लिया। अभी तक ये महिलाएं पार्कों, घरों के लॉन, छत पर या अपने बच्चों के साथ ही बैडमिंटन खेलती रहीं। अब उन्हें एक मंच दिया जा रहा है। अलग-अलग क्षेत्रों की करीब 125 महिलाएं इसमें पार्टिसिपेट कर रही हैं।'

aman

aman

अमन कुमार, सात सालों से पत्रकारिता कर रहे हैं। New Delhi Ymca में जर्नलिज्म की पढ़ाई के दौरान ही ये 'कृषि जागरण' पत्रिका से जुड़े। इस दौरान इनके कई लेख राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीय और कृषि से जुड़े मुद्दों पर छप चुके हैं। बाद में ये आकाशवाणी दिल्ली से जुड़े। इस दौरान ये फीचर यूनिट का हिस्सा बने और कई रेडियो फीचर पर टीम वर्क किया। फिर इन्होंने नई पारी की शुरुआत 'इंडिया न्यूज़' ग्रुप से की। यहां इन्होंने दैनिक समाचार पत्र 'आज समाज' के लिए हरियाणा, दिल्ली और जनरल डेस्क पर काम किया। इस दौरान इनके कई व्यंग्यात्मक लेख संपादकीय पन्ने पर छपते रहे। करीब दो सालों से वेब पोर्टल से जुड़े हैं।

Next Story