×

Virat Kohli Quits Test Captain: विराट का कदम कहीं गांगुली से विवाद का नतीजा तो नहीं, चीफ सेलेक्टर चेतन शर्मा ने भी किया था गांगुली की बातों का समर्थन

Virat Kohli Quits Test Captain: दक्षिण अफ्रीका के दौरे से पहले कोहली को वनडे टीम की कप्तानी से हटा दिया गया था। टी20 विश्व कप में मिली हार के बाद कोहली ने खुद ही इस फॉर्मेट में टीम इंडिया की कप्तानी छोड़ देने की घोषणा कर दी थी।

Anshuman Tiwari

Written By Anshuman TiwariPublished By Divyanshu Rao

Published on 15 Jan 2022 3:22 PM GMT

Virat Kohli
X
विराट कोहली की तस्वीर 
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Virat Kohli Test Captaincy: दक्षिण अफ्रीका के हाथों टेस्ट सीरीज हारने के बाद विराट कोहली ने टेस्ट टीम की भी कप्तानी छोड़ने की घोषणा कर दी है। विराट कोहली की ओर से अचानक की गई इस घोषणा ने हर किसी को चौंका दिया है। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले टेस्ट मैच में भारत को जीत हासिल हुई थी मगर उसके बाद जोहानसबर्ग और केपटाउन टेस्ट में भारतीय टीम को हार का सामना करना पड़ा था। दूसरे टेस्ट मैच में कोहली के पूरी तरह फिट न होने के कारण केएल राहुल ने कप्तानी की थी। तीसरे टेस्ट मैच में कोहली की अच्छी बल्लेबाजी के बावजूद भारतीय टीम को हार का सामना करना पड़ा।

दक्षिण अफ्रीका के दौरे से पहले कोहली को वनडे टीम की कप्तानी से हटा दिया गया था। टी20 विश्व कप में मिली हार के बाद कोहली ने खुद ही इस फॉर्मेट में टीम इंडिया की कप्तानी छोड़ देने की घोषणा कर दी थी। वनडे की कप्तानी से हटाए जाने के बाद विराट कोहली और बीसीसीआई के अध्यक्ष सौरव गांगुली और मुख्य चयनकर्ता चेतन शर्मा के अलग-अलग बयान भी सामने आए थे जिसे लेकर विवाद पैदा हो गया था। अब विराट के टेस्ट टीम की कप्तानी छोड़ने के पीछे इस विवाद को भी बड़ा कारण माना जा रहा है।

आईसीसी टूर्नामेंट नहीं जीत सके विराट

विराट कोहली की कप्तानी में टीम इंडिया ने आईसीसी के चार टूर्नामेंट खेले मगर किसी भी टूर्नामेंट में टीम इंडिया विजेता बनने में कामयाब नहीं हुई। 2017 में चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल मुकाबले में पाकिस्तान की टीम ने भारत को हरा दिया था। 2019 में विराट की कप्तानी में टीम इंडिया वनडे वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में पहुंचने में कामयाब हुई थी मगर वहां उसे न्यूजीलैंड के हाथों हार का सामना करना पड़ा था।

2021 में वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल मुकाबले में भी न्यूजीलैंड ने भारत को हराकर विराट को मायूसी दी थी। 2021 के T20 वर्ल्ड कप में भारतीय टीम सेमीफाइनल में पहुंचने में नाकाम रही। इस बड़ी नाकामी के बाद विराट ने T20 में भारतीय टीम की कप्तानी छोड़ने की घोषणा कर दी थी।

विराट कोहली की तस्वीर

बीसीसीआई को दी थी फैसले की जानकारी

दक्षिण अफ्रीका में खेले जाने वाली वनडे सीरीज के लिए चयनकर्ताओं ने विराट की जगह रोहित शर्मा को कप्तान बनाने का फैसला किया था। चयनकर्ताओं की ओर से उठाए गए इस कदम के बाद विराट कोहली ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा था कि टेस्ट सीरीज के लिए टीम के चयन से सिर्फ डेढ़ घंटा पहले उन्हें वनडे की कप्तानी से हटाने के बारे में जानकारी दी गई। इससे पहले बीसीसीआई की ओर से उनसे इस बाबत कोई बातचीत नहीं की गई थी।

विराट का यह भी कहना था कि टी20 की कप्तानी छोड़ने के समय मैंने सबसे पहले बीसीसीआई को इस बाबत जानकारी दी थी। मैंने बीसीसीआई को इस संबंध में अपने विचार और परेशानियां बताई थीं। बोर्ड ने इस संबंध में मेरे विचार और परेशानियों को पूरी तरह समझा था।

बोर्ड की ओर से कभी भी मुझसे फैसले पर पुनर्विचार करने का अनुरोध नहीं किया गया। बोर्ड ने तो टी20 की कप्तानी छोड़ने के मेरे फैसले को सही बताया था। कोहली का यह भी कहना था कि मैंने टेस्ट और वनडे में कप्तान बने रहने के फैसले के बारे में भी बोर्ड को सूचित किया था। इसके साथ ही यह भी कहा था कि अगर इसमें बोर्ड को दिक्कत है तो वह कुछ अलग फैसला ले सकता है।

गांगुली का बयान विराट के विपरीत

दूसरी और बीसीसीआई के अध्यक्ष सौरव गांगुली का बयान विराट के बयान के बिल्कुल विपरीत था। गांगुली का कहना था कि बीसीसीआई की ओर से विराट से टी20 की कप्तानी न छोड़ने के लिए कहा गया था मगर इसके बावजूद वे नहीं माने और उन्होंने इस्तीफा दे दिया। गांगुली का कहना था कि बीसीसीआई के अध्यक्ष के रूप में उन्होंने खुद विराट कोहली से बातचीत की थी और चयनकर्ताओं ने भी इस बाबत कोहली से बातचीत की थी। इसके बावजूद विराट टी20 की कप्तानी जारी रखने पर सहमत नहीं हुए। इसके बाद चयनकर्ताओं को सीमित ओवरों के दो फॉर्मेट के लिए अलग-अलग कप्तान रखना उचित नहीं लगा। इसीलिए वनडे की कप्तानी में भी बदलाव का फैसला लिया गया।

चेतन शर्मा ने भी किया था समर्थन

विराट और गांगुली के बाद मुख्य चयनकर्ता चेतन शर्मा ने भी गांगुली की बातों का समर्थन किया था। रोहित शर्मा के चोटिल होने के बाद दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ वनडे सीरीज के लिए केएल राहुल को कप्तान बनाया गया है और जसप्रीत बुमराह को उपकप्तान की जिम्मेदारी दी गई है।

वनडे टीम की घोषणा के बाद चयन समिति के मुखिया चेतन शर्मा में मीडिया से बातचीत में कहा कि बीसीसीआई में सभी ने विराट से T20 में कप्तान बने रहने के लिए कहा था। चेतन शर्मा का यह भी कहना था कि वनडे टीम के कप्तान बदलने के बारे में फैसले की जानकारी चयन के लिए हुई समिति की बैठक के दौरान नहीं दी गई थी। मैंने उन्हें अलग से फोन करके चयन समिति के फैसले के बारे में सूचना दी थी।

चेतन शर्मा का कहना था कि जब एक बार विराट ने टी20 की कप्तानी छोड़ने का फैसला कर लिया तो चयनकर्ताओं को इस बाबत फैसला करना था क्योंकि हम सभी का मानना है कि सफेद बाल के प्रारूप में अलग-अलग कप्तान नहीं होने चाहिए। इस बारे में हमारी ओर से विराट को सूचना भी दे दी गई थी।

इस्तीफे के पीछे विवाद भी कारण

अब विराट कोहली की ओर से टेस्ट टीम की कप्तानी छोड़ने के फैसले के पीछे बीसीसीआई से पैदा हुए विवाद को भी बड़ा कारण माना जा रहा है। हालांकि विराट ने अपने बयान में इस विवाद का कहीं कोई उल्लेख नहीं किया है मगर जानकार सूत्रों का कहना है कि विराट और बीसीसीआई के बीच सब कुछ ठीक-ठाक नहीं चल रहा है।

विराट की घोषणा के बाद बीसीसीआई की ओर से उनके फैसले का स्वागत किया गया है। साथ ही टेस्ट टीम के कप्तान के रूप में उनके योगदान को भी याद किया गया है। विराट कोहली टीम इंडिया के सबसे सफल टेस्ट कप्तान रहे हैं और उन्होंने 40 टेस्ट मैचों में भारत को अपनी कप्तानी में जीत दिलाई है।

Divyanshu Rao

Divyanshu Rao

Next Story